Home राष्ट्रीय अंटार्कटिका में पहली बार उतरा एयरबस A340, 3000 फीट लंबे रनवे पर...

अंटार्कटिका में पहली बार उतरा एयरबस A340, 3000 फीट लंबे रनवे पर लैंड हुआ 290 यात्री क्षमता वाला विमान, बन गया इतिहास

नईदिल्ली। अंटार्कटिका की बर्फ पर पहली बार एयरबस A340 विमान उतरा। पर्यटन के क्षेत्र में काम करने वाले एक कंपनी समूह ने एयरबस ए-340 को अंटार्कटिका में सुरक्षित लैंड कराने का इतिहास रचा है। Hi Fly नाम की एक एविएशन कंपनी ने इस फ्लाइट को अंजाम दिया।

Hi Fly 801 नाम की इस फ्लाइट ने 2 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका के केप टाउन से उड़ान भरी थी और पांच घंटे के सफर के बाद यह अंटार्कटिका में लैंड हुई। केपटाउन के लिए वापसी की उड़ान भरने वाली फ्लाइट को Hi Fly 801 नाम दिया गया। कंपनी ने इस फ्लाइट का वीडियो अब जारी किया है।

3000 फीट लंबे रनवे की तरफ बढ़ता Hi Fly 801 विमान।

लंबे समय से चल रहे थे ट्रायल-
अंटार्कटिका में सालभर बर्फ की कई मीटर ऊंची परत जमी रहती है। बर्फ पर ही रनवे बनाया गया है, जो 3000 फीट लंबा है। 290 यात्री क्षमता वाले 223 फीट लंबे विमान को लैंड करने से पहले यहां 2019 से 2020 के बीच करीब 6 ट्रायल किए गए थे।

अंटार्कटिका में कई प्रोजेक्ट्स पर काम कर रही है कंपनी-
Hi Fly ने बताया कि अंटार्कटिका उभरता हुआ पर्यटन क्षेत्र है। इसलिए कंपनी यहां कई अन्य प्रोजेक्ट्स पर काम कर रही है। यह कंपनी वेट लीज में विशेषज्ञता रखती है। इसका मतलब यह है कि वे एयरक्राफ्ट और एयर क्रू को किराए पर लेती हैं और इंश्योरेंस, मेंटेनेंस और बाकी लॉजिस्टिक्स की जिम्मेदारी भी कंपनी की ही रहती है।

अंटार्कटिका में प्लेन के पास खड़े कैप्टन कार्लोस मिरपुरी।

वुल्फ गैंग रिसॉर्ट के लिए लाई गईं सप्लाई-
इस प्लेन को अंटार्कटिका में काम कर रहे वुल्फ्स गैंग नाम के एडवेंचर कैंप ने कमीशन किया था। प्लेन में वुलफ्स गैंग रिसॉर्ट के लिए जरूरी सप्लाई लाई गई थीं। इस प्लेन को कैप्टन कार्लोस मिरपुरी ने उड़ाया, जो कि Hi Fly के वाइस प्रेसिडेंट हैं। कैप्टन कार्लोस ने वापसी की फ्लाइट भी उड़ाई। टीम ने अंटार्कटिका पर करीब 3 घंटे बिताए। इस पूरी यात्रा में 2,500 नॉटिकल माइल कवर किए गए।

50 लैंडिंग स्ट्रिप और रनवे हैं अंटार्कटिका में-
ऑस्ट्रेलिया के मिलिट्री पायलट और एक्सप्लोरर जॉर्ज हुबर्ट विल्किंस ने 1928 में पहली बार अंटार्कटिका तक उड़ान भरी थी। वे लॉकहीड वेगा 1 मोनोप्लेन से अंटार्कटिका पहुंचे। अब तक अंटार्कटिका पर कोई एयरपोर्ट नहीं बना है, लेकिन यहां 50 लैंडिंग स्ट्रिप और रनवे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अलर्ट पर हुआ इजराइल, विदेशी यात्रियों की एंट्री पर बैन, इजराइली लोगों को भी लौटने पर क्वारैंटाइन रहना होगा

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के चलते इजराइल ने सभी विदेशी यात्रियों की एंट्री पर...

पेरेंट्स के विरोध का हुआ असर, 100% क्षमता से स्कूल खोलने का आदेश 6 दिन में ही वापस, नया आदेश सोमवार से लागू

भोपाल। मध्यप्रदेश में छोटी क्लास के बच्चों की स्कूल पूरी क्षमता के खोले जाने के फैसले पर सरकार...

अधेड़ व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या, पुलिस पर लगा आरोपियों को बचाने का आरोप

उत्तरप्रदेश। बस्ती के दुबौलिया थाना क्षेत्र में रविवार को एक 50 साल के व्यक्ति की लाठी-डंडों और ईंट...

Recent Comments

%d bloggers like this: