Home खबरों की खबर अन्य खबरे अलीगढ़ जहरीली शराब कांड में मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 83 पर,...

अलीगढ़ जहरीली शराब कांड में मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 83 पर, शराब कांड में 8 अफसर सस्पेंड, तीन CO और दो SDM पर शासन ने की कार्रवाई, 3 SHO भी नपे, DM, SSP को अभी भी बचा रही सरकार

जहरीली शराब पीकर जान गंवाने वालों के रोते-बिलखते परिजन

उत्तरप्रदेश। अलीगढ़ जहरीली शराब कांड में मरने वालों का आंकड़ा 83 पहुंच गया है। इस बीच, सोमवार को शासन ने अलीगढ़ के CO खैर, CO गभाना, CO सिविल लाइन, SDM खैर, SDM कोल को सस्पेंड कर दिया है। इसके अलावा SHO खैर, SHO जवां और SHO लोधा को भी निलंबित कर दिया गया है। लेकिन सरकार ने अलीगढ़ के DM, SSP और एडीएम पर अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की हैं जो सरकार के द्वारा की गई इस कार्यवाही पर सवाल जरूर खड़े कर रहा हैं।

इससे पहले जिला आबकारी अधिकारी धीरज शर्मा, आबकारी निरीक्षक राजेश यादव, प्रधान सिपाही अशोक कुमार, निरीक्षक चंद्रप्रकाश यादव, इंस्पेक्टर लोधा अभय कुमार शर्मा और सिपाही रामराज राना को भी सस्पेंड किया जा चुका है।

क्यों बचा रही DM, SSP और एडीएम को सरकार-
इस पूरे मामले में अब तक DM चंद्रभूषण सिंह, SSP कलानिधि नैथानी और आबकारी के नोडल अधिकारी एडीएम फाइनेंस विधान जायसवाल को लगातार सरकार बचाने में जुटी हुई है। वही विस्वसनीय सूत्रों ने बताया कि DM चंद्रभूषण सिंह मुख्यमंत्री और SSP देश के एक बड़े प्रशासनिक अफसर के करीबी हैं। यही कारण है कि इतनी बड़ी घटना के बावजूद इन पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

20 लोगों की रविवार को भी हुई मौत-
जहरीली शराब का कहर अब अलीगढ़ के शहरी क्षेत्र तक पहुंच गया है। रविवार शहरी इलाकों में 6 लोगों की मौत हुई। यहां क्वारसी क्षेत्र में जहां 4 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, महुआ खेड़ा थाना क्षेत्र के धनीपुर में शराब के सेवन से 3 लोगों की मौत हो गई। धनीपुर में आधा दर्जन से ज्यादा लोग जहरीली शराब के सेवन से गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचाए गए हैं। अभी तक अलीगढ़ के देहात के थाना क्षेत्रों लोधा ,खैर, टप्पल, जवां, पिसावा में शराब से मौत की सूचना मिल रही थी। जहरीली शराब पीने से अब तक 83 लोगों की मौत हो चुकी है। इधर, प्रशासन मौत के आंकड़े छिपाने में लगा हुआ है। सीएमओ के अनुसार 25 लोगों की शराब से मौत हो चुकी है, जबकि 26 शवों का पोस्टमार्टम के बाद विसरा भेज दिया गया है। यानी 51 की मौत प्रशासन मान रहा है।

घटना के बाद क्या-क्या हुआ अब तक?-
अलीगढ़ में गुरुवार 27 मई की देर रात लोधा के करसुआ, खैर के अंडला और जवां के छेरत में लोगों ने अलग-अलग ठेकों से देसी शराब खरीदी थी। शराब पीने के बाद रात में मौतें होने लगी। शुक्रवार रात तक 27 लोगों की मौत हो गई। प्रशासन ने देसी शराब के ठेके बंद कर दिए, इसके बावजूद चोरी से शराब बिकी। पिसावा के शादीपुर और जट्टारी में लोगों ने शराब खरीदी।

इन सभी ने रात में शराब पी, जिससे शनिवार सुबह शादीपुर में 6 लोगों की मौत हो गई। इन सभी के परिजन ने 4 शवों का बिना पोस्टमार्टम के ही अंतिम संस्कार कर दिया। इसके अलावा लोधा में 11, खैर में 2, जवां में 2, टप्पल में 4, गभाना में 3 और पिसावा में 2 मौतें हुई हैं। इसके अलावा भी कई गांवों में शराब पीने वालों की मौत हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रोडवेज बस से कुचले बच्चे की मौत, सड़क पर शव ऱखकर जमकर काटा हंगामा

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले में बीते रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के बस स्टैंड में कुरारा की ओर...

कोविड-19 वैक्सीन महाअभियान गढ़ीमलहरा में निकली रैली

छतरपुर ज.सं। कोरोना संक्रमण से बचाव एवं कोविड-19 संक्रमण के वैक्सीनेशन के प्रति लोगो को लोगो को...

एक संक्रमित हुआ डिस्चार्ज

छतरपुर ज.सं। छतरपुर जिले में शनिवार को 01 कोविड संक्रमित मरीज को खजुराहो कोविड केयर सेंटर से...

प्राचार्य ने टीकाकरण कराने की अपील की

छतरपुर ज.सं। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-1 छतरपुर के प्राचार्य एस.के. उपाध्याय ने छात्रों, उनके माता-पिता सहित जिले...

Recent Comments

%d bloggers like this: