Home खबरों की खबर अन्य खबरे आम आदमी पार्टी का पंजाब में दिल्ली वाला दांव, विधानसभा चुनाव से...

आम आदमी पार्टी का पंजाब में दिल्ली वाला दांव, विधानसभा चुनाव से पहले केजरीवाल के 3 बड़े वादे- 300 यूनिट बिजली फ्री, पुराने घरेलू बिल माफ और 24 घंटे पावर सप्लाई

केजरीवाल ने पंजाब के लोगों के वादा किया कि बिजली से जुड़ी सभी परेशानियों को पंजाब से खत्म कर दिया जाएगा

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी ने पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में दिल्ली वाला दांव चला है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने चंडीगढ़ में एक रैली की। इस दौरान उन्होंने 3 बड़े चुनावी वादे किए। पहला- हर परिवार को 300 यूनिट बिजली फ्री। दूसरा- पुराने घरेलू बिल माफ। तीसरा- 24 घंटे पावर सप्लाई।

केजरी का चुनावी गारंटी कार्ड-
केजरीवाल ने कहा कि गरीबों के बिजली के बिल 70 हजार आ रहे हैं। उनका क्या दोष है। कनेक्शन काट दिए जा रहे हैं। उन्हें सम्मान दिया जाएगा और कनेक्शन जोड़े जाएंगे। पुराने घरेलू बिजली के बिल हैं जो माफ होंगे। 300 यूनिट फ्री बिजली से 80% लोगों का बिजली का बिल जीरो हो जाएगा। ये केजरीवाल की गारंटी है, कैप्टन के वादे नहीं। उनके वादे 5 साल में पूरे नहीं हुए। हमारी सरकार जैसे ही बनेगी, 300 यूनिट बिजली और पुराने बिजली के बिल माफ होंगे। 24 घंटे बिजली देने में वक्त लगेगा।

दिल्ली की महिलाएं खुश, पंजाब की महंगाई से नाराज- केजरीवाल-
आम आदमी पार्टी ने ट्वीट किया कि स्टेज तैयार है। अरविंद केजरीवाल आज एक बड़ा ऐलान करेंगे। पार्टी लीडर राघव चड्ढा ने भी कहा कि ये घोषणा कैप्टन अमरिंदर के लिए झटका होगी। माना जा रहा है कि राघव भी पंजाब की सभा में मौजूद रहेंगे। इससे पहले सोमवार को अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया था कि दिल्ली में हम हर परिवार को 200 यूनिट बिजली फ्री दे रहे हैं। यहां की महिलाएं खुश हैं। पंजाब की महिलाएं महंगाई से नाराज हैं। आप पूरे पंजाब में 200 यूनिट बिजली फ्री देगी।

कांग्रेस ने भी फ्री बिजली पर जोर दिया-
केजरीवाल का ये वादा तब सामने आया है, जब कांग्रेस आलाकमान ने कैप्टन अमरिंदर पर फ्री बिजली देने के वादे के लिए दबाव बनाया है। कांग्रेस चाहती है कि खासतौर पर ग्रामीण इलाकों में बिजली मुफ्त दी जाए। इसके बाद ही आप ने भी बिजली और महंगाई को लेकर अपनी चुनावी स्ट्रैटजी तैयार की है। पंजाब में बिजली के बिल काफी बढ़े हुए आ रहे हैं। इसका विरोध सरकारी और गैर-सरकारी कर्मचारियों के साथ-साथ विपक्षी दलों ने भी किया है।

सभा से पहले परमिशन को लेकर विवाद-
आम आदमी पार्टी ने दावा किया था कि केजरीवाल को चंडीगढ़ में प्रेस कॉन्फ्रेंस की इजाजत नहीं दी गई है। आप ने कहा कि केजरीवाल के डर की वजह से कैप्टन ने पहले से तय की हुई जगह पर कॉन्फ्रेंस की इजाजत नहीं दी है। हालांकि, इस दावे के तुरंत बाद कैप्टन ने परमिशन न देने की बात नकार दी। उन्होंने कहा कि अगर केजरीवाल चाहें तो मैं उनके लिए लंच की भी व्यवस्था कर सकता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बढ़ती महंगाई को लेकर महिला कांग्रेस ने छत्रसाल चौक कांग्रेस कार्यालय के बाहर बैठकर पहले सेकी रोटी,घरेलू गैस सिलेंडर पर पहनाई माला, फिर रोटी...

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिला मुख्यालय पर महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुषमा देवी के निर्देश पर महिला कांग्रेस...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की गोद ली हुई 3 बेटियों की शादी आज, शिवराज सिंह चौहान पत्नी साधना सिंह के साथ करेंगे कन्यादान

तीनों दत्तक बेटियों के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनकी पत्नी साधना सिंह।

प्रधानमंत्री ने नरेंद्र मोदी ने बाराणसी में कहा- कोरोना की दूसरी लहर को UP ने जिस तरह संभाला वह अभूतपूर्व है

उत्तरप्रदेश। वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज काशी में हैं। यहां उन्होंने जापान और भारत की दोस्ती...

Recent Comments

%d bloggers like this: