Home खबरों की खबर अन्य खबरे कमलनाथ ने कसा शिवराज सरकार पर तंज, मध्यप्रदेश में डेढ़ लाख लाशें...

कमलनाथ ने कसा शिवराज सरकार पर तंज, मध्यप्रदेश में डेढ़ लाख लाशें श्मशान पहुंची, जिसमे 80 प्रतिशत कोविड से हुई, सरकारी आंकड़े झूठे: पूर्व मुख्यमंत्री

मैहर सर्किट हाउस में पत्रकारवार्ता करते कमलनाथ।

मध्यप्रदेश। सतना जिले के मैहर दौरे पर आए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सर्किट हाउस में पत्रकारवार्ता कर शिवराज सरकार पर तंज कसा। कहा MP में डेढ़ लाख लाशें श्मशान पहुंची है। जिसमे 80 प्रतिशत मौतें कोरोना के कोविड 19 के कारण हुई है। लेकिन प्रदेश में आम जनता को दिखाई देने वाले सरकारी आंकड़े झूठे है। उन्होंने ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए आगे कहा कि प्रदेश इन दिनों कोविड माफिया चला जा रहा। अस्पतालों में बेड से लेकर दवाओं में कई गुना पैसे वसूले जा रहे है।

कमलनाथ इतने पर भी नहीं रूके आगे बोले कि सीएम शिवराज को बॉम्बे जाना चाहिए। वे एक्टिंग अच्छी कर लेते है। इससे मध्य प्रदेश का नाम रोशन होगा। इसके बाद वे केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए बोले कि मोदी जी ने भारत को बदनाम कर दिए है। इसलिए भारतीयों पर पूरे विश्व ने आने जानें पर रोक लगा दी गई है। विदेशों में भारतीयों की ऐसी ​छवि बन गई है कि टैक्सी में कोई बैठने को तैयार नहीं है।

मैहर मंदिर में पूजा अर्चना करते पूर्व CM कमलनाथ।

बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री ​कमलनाथ शुक्रवार की सुबह करीब 11 बजे पहले से निर्धारित कार्यक्रम अनुसार मैहर पहुंचे। इसके पहले वे विशेष विमान से दिल्ली से चलकर खजुराहो आए। यहां से में सवार होकर मैहर पहुंचे। हेलीपैड में कार्यकर्ताओं से मिलने के बाद सीधे मैहर मंदिर की डेउढ़ी पर पहुंचे। क्योंकि कोरोना प्रोटोकाल के कारण मैहर मंदिर बंद था। तो वे नीचे गेट पर ही पुरोहितों की मौजूदगी में पूजा अर्चना की।

इसके बाद मैहर के सर्किट हाउस में पहुंचकर पत्रकारों से रूबरू होते ​हुए केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकार को आढ़े हाथों लिया। फिर वे बाबा अलाउददीन खां मैहर कला अकादमी के सदस्य व नलतरंग वादक प्रभूदयाल द्विवदी के ​निधन पर घर पहुंचकर शोक संवेदना व्यक्त की। इसके बाद कांग्रेस पदाधिकारी रहे मनीष चतुर्वेदी के घर पहुंचकर शोक शोक जताया।

रैगांव उप चुनाव का नापने आएं तापमान-
कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का कार्यक्रम पूरी तरह से धार्मिक दौरा था। लेकिन राजनीतिक हल्कों में इसको लेकर तमाम तरह के कयास लगाए जा रहे है। कुछ इस दौरे को विंध्य के कोरोना के हालातों से जोड़कर देखा जा रहा है। वहीं कुछ लोग बेकाबू कोरोना से मौत के कारणों की बाजीगरी को बेनकाब करना बता रहे। हालांकि ये दौरा रैगांव उप चुनाव से जोड़कर भी देखा जा रहा है। राजनीतिक जानकारों का कहना है कि दमोह उप चुनाव में मिली सफलता के बाद प्रदेश कांग्रेस गुटबाजी खत्म कर आने वाला चुनाव लड़ना चाहती है। ऐसे में रैगांव ​विधानसभा से भाजपा के पांच बार के विधायक व पूर्व मंत्री जुगुल किशोर के निधन से रिक्त हुई सीट पर अंदर ही अंदर उप चुनाव की तैयारियां शुरू हो गई है। कयास लगाए जा रहे ​है​ कि मैहर में मां शारदा से आ​शीर्वाद लेने के बाद पूर्व CM कमलनाथ ने रैगांव उप चुनाव का तापमान नापकर आगे चले गए है।

सोशल डिस्टेंसिंग के नियम हवा में, मास्क भी नहीं आया नजर-
आरोप है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के दौरे के दौरान कांग्रेस पदाधिकारियों से लेकर कार्यकर्ता न सोशल डिस्टेंसिंग के निमयों का पालन किया और न ही कई लोग मास्क लगाए नजर आए। वहीं पूजा अर्चना करते समय किसी भी जनप्रतिनिधि का मास्क सही पोजीशन में नहीं नजर आया। हालांकि काफिला निकले समय ज्यादातर नेता एक दूसरे से चिपके नजर आए। वहीं जिला प्रशासन द्वारा नियुक्त इंसीडेन्ट कमांडर भी बेबस नजर आए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रोडवेज बस से कुचले बच्चे की मौत, सड़क पर शव ऱखकर जमकर काटा हंगामा

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले में बीते रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के बस स्टैंड में कुरारा की ओर...

कोविड-19 वैक्सीन महाअभियान गढ़ीमलहरा में निकली रैली

छतरपुर ज.सं। कोरोना संक्रमण से बचाव एवं कोविड-19 संक्रमण के वैक्सीनेशन के प्रति लोगो को लोगो को...

एक संक्रमित हुआ डिस्चार्ज

छतरपुर ज.सं। छतरपुर जिले में शनिवार को 01 कोविड संक्रमित मरीज को खजुराहो कोविड केयर सेंटर से...

प्राचार्य ने टीकाकरण कराने की अपील की

छतरपुर ज.सं। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-1 छतरपुर के प्राचार्य एस.के. उपाध्याय ने छात्रों, उनके माता-पिता सहित जिले...

Recent Comments

%d bloggers like this: