Home मध्यप्रदेश कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के डिस्ट्रिक्ट एक्शन प्लान की टीएल में...

कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के डिस्ट्रिक्ट एक्शन प्लान की टीएल में होगी समीक्षा, हर रोज 3-3 ग्रामों का भ्रमण कर रिपोर्ट देने के निर्देश

छतरपुर जसं। कलेक्टर संदीप जी आर ने कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के डिस्ट्रिक्ट एक्शन प्लान की विकासखण्डवार समीक्षा की। जिले के 1140 आबाद ग्राम के अलावा शहरी क्षेत्र की बस्तियों में घर-घर नल के पयेजल उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिये बड़ामलहरा और बकस्वाहा में क्रमशः 120 और 90 कार्य प्रगतिरत है। अन्य विकासखण्डों कार्य की निविदा प्रक्रिया जारी है। जल मिशन विभाग द्वारा सभी 8 ब्लॉक 165 कार्य स्वीकृत किये गये है, जिनमें 91 सोर्स सफल रहे। बैठक में प्रगतिरत ग्रामीण समूल जल प्रदाय योजना एवं स्वीकृत जल प्रदाय ग्रामीण समूह जल योजना की समीक्षा की गई।

उन्होंने पेयजल व्यवस्था एवं जल जीवन मिशन कार्य की समीक्षा करते हुये पीएचई महकमे की अधिकारियों को हर रोज 3-3 ग्रामों का विजिट करते हुये किये गये भ्रमण और पेयजल व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिये किये कार्य से जुड़े पालन प्रतिवेदन की जानकारी को ग्रुप में शेयर करने निर्देश दिये है। उन्होंने कहा कि लोगों की बुनियादी सुविधा से जुड़ी पेयजल की सुविधा को उपलब्ध कराने में किसी भी स्तर पर लापरवाही न करें और सुधार संबंधी कार्य समय पर पूर्ण करें।

उन्होंने पीएचई विभाग क्रियाशील हैण्डपम्प की सूची, ऐसे हैण्ड पम्प जिनमें पाइप लाइन बढ़ानी है की सूची और ऐसे पम्प जिनमें स्त्रोत सूख गये है ग्रामवार भ्रमण के आधार पर प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। बैठक में जल जीवन मिशन और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी के महकमे के छतरपुर जिले के अधिकारियों सहित कार्य करने वाले एजेंसियों के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

कलेक्टर ने उपयंत्रीवार कार्यों की समीक्षा करते हुये कार्य की अद्यतन स्थिति, पूर्णतः होने की संभावित समयावधि और अप्रारंभ होने के कारणों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जल निगम द्वारा जो कार्य पूर्ण हो रहे है उन्हें तुरंत हैण्डओवर करें। उन्होंने निर्देश दिये कि जो कार्य 80 से 90 प्रतिशत तक हो चुके है उन्हें शीघ्रता से पूर्ण करें। विद्युत पोल संबंधी कार्य की समीक्षा में निर्देश दिये है कि 3 दिवस में सहायक यंत्रीवार प्रस्ताव म.प्र. विद्युत मण्डल को प्रस्तुत करें और कॉपी कलेक्टर कार्यालय को दे। इस कार्य की टीएल बैठक में समीक्षा होगी। उन्होंने ओवर हैड एवं पाइप लाइन संबंधी कार्य की अलग-अलग समीक्षा की।

कलेक्टर ने कहा कि ब्लॉक लेबल जल समिति का गठन तुरंत करें। ग्राम समिति में सामाजिक सहभागिता को जोड़े और इसके लिये अनुविभाग में एसडीएम, सीईओ जनपद और पीएचई विभाग के एसडीओ खण्ड समिति गठित करें। बैठक में प्रगतिरत ग्रामीण समूह जल प्रदाय योजना की समीक्षा की गई। उन्होंने जल विकास निगम को निर्देश दिये कि योजनावार स्कालर रखे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

खून से लथपथ मिली थी पल्लेदार की लाश, परिजनों को हत्या की आशंका

मध्यप्रदेश। दमोह जिला मुख्यालय के नया बाजार नंबर 3 में रहने वाले एक बुजुर्ग पल्लेदार का शव कचोरा...

मजदूरी कर लौट रहा था युवक, आरोपी ने गाली देकर शुरू किया विवाद, मारी चाकू

मध्यप्रदेश। दमोह कोतवाली थाने के बड़ापुरा इलाके में रविवार रात मजदूरी कर लौट रहे युवक को पड़ोसी ने...

फूड पॉइजनिंग से 2 बच्चियों की मौत, 12 की हालत गंभीर

मध्यप्रदेश। छिंदवाड़ा जिले के पांढुर्णा में फूड पॉइजनिंग से दो बच्चियों की मौत हो गई। दोनों ने शादी...

धर्मांतरण मामले में गृहमंत्री का एक्शन, इंटेलिजेंस को प्रदेश के सभी मिशनरी स्कूल पर नजर रखने को कहा

मध्यप्रदेश। भोपाल में सामने आई धर्मांतरण की घटना के बाद मध्यप्रदेश में संचालित सभी मिशनरी स्कूल सरकार की...

Recent Comments

%d bloggers like this: