Home खबरों की खबर अन्य खबरे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मांडविया पर भड़कीं मनमोहन सिंह की बेटी, अस्‍पताल के...

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मांडविया पर भड़कीं मनमोहन सिंह की बेटी, अस्‍पताल के बेड पर लेटे पिता की तस्‍वीर पब्लिक होने पर बोलीं- मेरे पेरेंट्स चिड़ियाघर के जानवर नहीं

नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की बेटी दमन सिंह ने पिता के इलाज के दौरान की तस्वीर मीडिया में आने पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। द टेलीग्राफ को दिए इंटरव्यू में दमन सिंह ने कहा कि मेरे पेरेंट्स कठिन हालात का सामना करने की कोशिश कर रहे हैं। वे बुजुर्ग लोग हैं। चिड़ियाघर के जानवर नहीं हैं।

दरअसल, मनमोहन सिंह का दिल्ली के एम्स में इलाज चल रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया शुक्रवार को उनकी हालचाल जानने के लिए अस्पताल पहुंचे थे। मांडविया ने इस मुलाकात की तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की। वहीं, न्यूज चैनलों पर कुछ वीडियो दिखाए गए, जिनमें मनमोहन सिंह बिस्तर पर लेटे हुए नजर आ रहे हैं और उनकी पत्नी गुरशरण कौर उनके पास खड़ी हैं।

दमन बोलीं- मेरी मां ने फोटो खींचने से मना किया था-
दमन ने कहा, “मेरे पिता का एम्स में डेंगू का इलाज चल रहा है। उनकी हालत स्थिर है, लेकिन उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम है। हमने संक्रमण के जोखिम के कारण आने वालों पर रोक लगाई है। स्वास्थ्य मंत्री का आना और अपनी चिंता जताना अच्छा लगा। हालांकि, मेरे पेरेंट्स उस समय फोटो खिंचवाने की स्थिति में नहीं थे। मेरी मां ने जोर देकर कहा कि फोटोग्राफर को कमरे से बाहर जाना चाहिए, लेकिन उन्हें पूरी तरह से नजरअंदाज कर दिया गया। इसे लेकर वह बहुत परेशान थीं।

डॉक्टर्स बोले- रोगियों की प्राइवेसी बनाए रखना नैतिकता-
इस मामले पर डॉक्टर्स ने कहा कि रोगियों की प्राइवेसी बनाए रखना नैतिकता है, जिसे मेडिकल एजुकेशन के दौरान पढ़ाया जाता है। डॉक्टर्स और हॉस्पिटल्स का यह दायित्व है कि रोगी की गोपनियता की रक्षा हो। फोरम फॉर मेडिकल एथिक्स सोसाइटी (FMES) के सदस्य ने कहा कि अगर पूर्व प्रधानमंत्री की तस्वीर उनके परिवार की सहमति के बगैर ली गई है तो यह नैतिकता का उल्लंघन है।

लोगों की कड़ी प्रतिक्रिया के बाद मांडविया ने तस्वीरें डिलीट की-
केंद्रीय मंत्री की ओर से शेयर की गई तस्वीरों पर लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी। यूजर्स ने ट्वीट करके कहा कि मीडिया की सुर्खियां पाने के लिए ऐसा किया गया, जो कि निंदनीय है। इस तरह के आक्रोश को देखते हुए मांडविया ने तस्वीरें डिलीट कर दीं। यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है कि डॉक्टर्स और एम्स मैनेजमेंट ने फोटोग्राफर को अंदर कैसे जाने दिया। इससे भी चौंकाने वाली बात यह है कि एम्स के निदेशक गुलेरिया खुद वहां मौजूद थे।

इसी साल कोरोना संक्रमित हुए थे मनमोहन सिंह-
मनमोहन सिंह फिलहाल राजस्थान से राज्यसभा सदस्य हैं। वो 2004 से 2014 तक देश के प्रधानमंत्री रहे। मनमोहन सिंह इस साल 19 अप्रैल को कोरोना वायरस से भी संक्रमित हो गए थे। उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। 10 दिन के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्‌टी मिली थी। मनमोहन सिंह को शुगर की भी बीमारी है। उनकी दो बाईपास सर्जरी भी हो चुकी है। पहली सर्जरी 1990 में ब्रिटेन में हुई थी, जबकि 2009 में एम्स में उनकी दूसरी बाईपास सर्जरी की गई थी। पिछले साल एक दवा के रिएक्शन और बुखार होने के बाद भी मनमोहन सिंह को एम्स में भर्ती कराया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

करतारपुर साहिब में पाकिस्तानी मॉडल का फोटोशूट मामले में विरोध के बाद स्वाला लाला ने मांगी माफी, भारत ने पाकिस्तानी राजनयिक को तलब किया

चंडीगढ़ एजेंसी। पाकिस्तान स्थित श्री करतारपुर साहिब गुरुद्वारे में पाकिस्तानी मॉडल स्वाला लाला के फोटोशूट करने पर भारत...

ससुराल गए युवक की संदिग्ध मौत, हत्या के आरोप, देवरिया हाईवे जाम

उत्तरप्रदेश। गोरखपुर में ससुराल गए युवक की संदिग्ध मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों...

आगरा में फ्लैट में मिला 60 साल की महिला का शव, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

उत्तरप्रदेश। आगरा के थाना छत्ता अंतर्गत जीवनी मंडी में मंगलवार को फ्लैट में एक 60 साल की महिला...

Recent Comments

%d bloggers like this: