Home खबरों की खबर अन्य खबरे कोरोना के कारण आज सम्पूर्ण देश में हाहाकार मचा हुआ है, प्रत्येक...

कोरोना के कारण आज सम्पूर्ण देश में हाहाकार मचा हुआ है, प्रत्येक व्यक्ति को मौत का डर सता रहा है, मृत्यु के डर को कैसे समाप्त किया जाए?अपने आत्म शक्ति के बल पर ही इसे हराया जा सकता है

डेस्क न्यूज। हम सभी लोग आज कोरोना महामारी से किसी ना किसी प्रकार से प्रभावित हो रहे हैं।कोई ना कोई जानकार या रिश्तेदार इस बीमारी का शिकार हो रहा है।

इसका डर इस कदर हमारे दिलोदिमाग पर हावी हो चुका है की हमें खाना-पीना,सोना, चैन से उठना-बैठना भी दुश्वार हो चुका है। घर से बाहर जो जा रहा है उसके लिए सदैव आशंका बनी रहती है की कहीं ये व्यक्ति कोरोना लेकर घर में ना आ जाए। प्रत्येक व्यक्ति अजीब तरह की चिंता से ग्रस्त है। ऐसा समय कभी भी नही आया था। पिछले वर्ष जब शुरू हुआ था तो इसका इतना भयानक रूप नही था। इस बार कुछ ज्यादा ही विकृति रूप लेकर आया है।इससे बचने का एक मात्र उपाय है की गुरुदेव जी श्री शक्ति पुत्र जी महाराज जी की विचारधारा का अक्षरशः पालन किया जाए। पिछले अनेक वर्षों से गुरुदेव जी ने समाज के लोगों को बार-बार आगाह किया है की अनैतिक कार्यों से दूर हो जाओ परन्तु ज्यादातर लोग कान में तेल डालकर सो रहे थे। आज प्रकृति जब दण्ड दे रही है तो हम त्राहि-त्राहि कर रहे हैं।चीन जैसा पापी देश जैविक हथियार के रूप में कोरोना का इस्तेमाल कर रहा है। कोरोना का जन्म चीन में ही हुआ है। इससे बचने के लिए सर्व प्रथम प्रशासन द्वारा जारी किए आदेशों का हम लोग पालन करें। मास्क का प्रयोग जरूर करें।

जिसको कोरोना हो जाए उसे पूरा प्रयास करना चाहिए की उसे अपना इलाज घर पर ही आइसोलेट रहकर करना चाहिए। अत्यधिक गंभीर स्थिति में ही अस्पताल की ओर अपना रुख कीजिए। डॉक्टर के द्वारा निर्देशित दवा वगैरह लगातार लीजिए। सबसे ज्यादा जरूरी उपाय ये है की जिसे हुआ है या नही हुआ है उसे ये करना चाहिए की हर व्यक्ति को रोज दुर्गा चालीसा का पाठ, गुरु चालीसा का पाठ और गुरु मन्त्र का जाप शक्ति चेतना मन्त्रका जाप और माँ ॐ का जाप अवश्य करना चाहिए। इन क्रमों से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होगी और हम लोग इस महामारी को हराने में कामयाब हो जाएँगे। जैसे-जैसे हमारे अन्दर का डर दूर भगेगा वैसे-वैसे हम इस पर विजय प्राप्त कर सकेंगे। मौत की सँख्या में वृद्धि की मूल वजह डर ही तो है। उपरोक्त क्रमों के कारण डर की समाप्ति हो जाएगी।

जो लोग भी इस लेख को पढ़ रहे हों वो लोग ज्यादा से ज्यादा लोगों को इन क्रमों से अवगत कराएं जिससे अधिकतर लोगों को लाभ मिल सके। आज के समय में मानवता की सबसे बड़ी यही सेवा है। हमारे प्रयास से अगर किसी की जान बच जाए ये बहुत बड़ी सेवा कही जाएगी। विधि के विधान को हम परिवर्तित नही कर सकते हैं पर दूसरों की मदद करके लोगों का कल्याण तो हम कर ही सकते हैं। आत्म बल के द्वारा ही इस महामारी को परास्त किया जा सकता है। माँ दुर्गा जी की नियमित साधना द्वारा आत्म बल प्राप्त किया जा सकता है।

जै माता की जै गुरूवर की

लेखक- शिव बहादुर सिंह फरीदाबाद (हरियाणा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

5 वर्षीय बच्चे को बाइक चालक युवक ने मारी टक्कर, बच्चे के सिर में आई चोट, घायल बच्चे को रीठी सीएचसी में कराया गया...

मध्यप्रदेश। कटनी जिले के रीठी तहसील अंतर्गत आने वाले ग्राम छोटा बरहटा के एक 5 वर्षीय बच्चे को...

ब्रेकिंग न्यूज: थाना बिजावर पुलिस द्वारा अवैध शराब के निर्माण अड्डा पर जाकर 500 लीटर की लहान नष्ट की गई

मध्यप्रदेश। छतरपुर पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन एवं एसडीओपी महोदय बिजावर के निर्देशन में दिनांक 21/01/22...

ग्वालियर की समाजसेविका श्रीमती सुलेखा शर्मा बनी महिला संगठन की प्रदेश सचिव

मध्यप्रदेश। ब्रम्हलीन आचार्य श्री प्रभाकर मिश्र जी, नेपाल के संहिता शास्त्री स्वामी श्री अर्जुन प्रसाद बस्तोला जी संगठन...

Recent Comments

%d bloggers like this: