Home खबरों की खबर अन्य खबरे खुद को MBBS बताकर कर रहे थे मरीजों का इलाज, सीएमओ की...

खुद को MBBS बताकर कर रहे थे मरीजों का इलाज, सीएमओ की जांच में डिग्री मिली फर्जी

उत्तरप्रदेश। मेरठ में खुद को MBBS डॉक्टर बताकर मरीजों का इलाज करने वाले 10 झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ मंगलवार को एफआईआर कराई गई है। इन डॉक्टरों के खिलाफ सीएमओ से शिकायत की गई थी। सीएमओ द्वारा गठित उच्च जांच कमेटी ने पाया कि ये झोलाछाप डॉक्टर मरीजों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे हैं। इन्हें पूर्व में नोटिस भी दी गई थी। लेकिन इन सभी ने नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया।

उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कराई एफआईआर-
सीएमओ डॉक्टर अखिलेश मोहन के निर्देश पर उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर सुधीर कुमार ने 10 झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ एफआईआर कराई है। डॉक्टर सुधीर कुमार ने बताया की आरोपियोंं में बिजेंद्र स्वरूप निवासी जेल चुंगी, फिरदोस गांव पिठलोकर थाना सरधना, सुनील कुमार निवासी रिठानी, कौसर अली निवासी आसिफाबाद थाना परीक्षितगढ़, प्रमोद तोमर निवासी शाहपीर गेट निकट थाना कोतवाली, अनुज सिरोही निवासी गांव समसपुर थाना हस्तिनापुर, फरमान निवासी आरटीओ पुल के पास शास्त्रीनगर, डालचंद निवासी मीनाक्षीपुरम थाना गंगानगर, अजय शर्मा व सुदेश शर्मा निवासी सरधना, धर्मेंद्र कुमार निवासी सुशांत सिटी, शाहना परवीन-​परवीन नर्सिंग होम सरधना के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

MBBS बताकर मरीजों को ठग रहे-
डॉक्टर सुधीर के अनुसार, जांच कमेटी में सामने आया कि ये 10 झोलाछाप डॉक्टर इलाज के नाम पर मरीजों को ठग रहे थे। इनकी 700 रुपये तक की फीस थी और अस्पताल में मरीजों काे भर्ती कराकर नियम विरुद्ध इलाज कर रहे थे। जिनमें किसी के भी पास MBBS की डिग्री नहीं है। फर्जी तरह से खुद को डॉक्टर बताकर बीमार का इलाज करते पाए गए। इन सभी के खिलाफ सीएमओ कार्यालय में लिखित में भी शिकायत मिली। इन्हीं शिकायतों के आधार पर सीएमओ ने टीम गठित कर जांच कराई।

क्लीनिक व अस्पताल तक खड़े कर लिए-
सीएमओ डॉ अखिलेश मोहन के अनुसार, जांच में सामने आया कि सभी ने क्लीनिक खोल रखे हैं। इनके क्लीनिक पर प्रतिदिन 10 से 50 मरीज उपचार कराने आते हैं। वहीं सरधना में शाहना परवीन ने नर्सिंग होम भी बना रखा है। इन सभी को 4-4 नाेटिस दिए गए, लेकिन नोटिस देने के बाद भी कोई जवाब नहीं दिया। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने यह कार्रवाई की है। CMO डॉ अखिलेश मोहन का कहना है कि ये सभी फर्जी डॉक्टर हैं, जिनके खिलाफ जांच कराकर कार्रवाई की गई है। पूरे मामले में स्वास्थ्य विभाग कड़ी कार्रवाई कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

करतारपुर साहिब में पाकिस्तानी मॉडल का फोटोशूट मामले में विरोध के बाद स्वाला लाला ने मांगी माफी, भारत ने पाकिस्तानी राजनयिक को तलब किया

चंडीगढ़ एजेंसी। पाकिस्तान स्थित श्री करतारपुर साहिब गुरुद्वारे में पाकिस्तानी मॉडल स्वाला लाला के फोटोशूट करने पर भारत...

ससुराल गए युवक की संदिग्ध मौत, हत्या के आरोप, देवरिया हाईवे जाम

उत्तरप्रदेश। गोरखपुर में ससुराल गए युवक की संदिग्ध मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों...

आगरा में फ्लैट में मिला 60 साल की महिला का शव, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

उत्तरप्रदेश। आगरा के थाना छत्ता अंतर्गत जीवनी मंडी में मंगलवार को फ्लैट में एक 60 साल की महिला...

Recent Comments

%d bloggers like this: