Home खबरों की खबर अन्य खबरे चक्रवाती तूफान यास बिहार में आज शाम होगा दाखिल, सुबह से आसमान...

चक्रवाती तूफान यास बिहार में आज शाम होगा दाखिल, सुबह से आसमान में छाए काले बादल, पटना सहित 26 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, 18 स्पेशल ट्रेनें कैंसिल, NDRF और SDRF की 24 टीमें तैनात

फाइल फोटो।

बिहार। मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान यास को लेकर बिहार को अलर्ट पर रखा है। संभावना है कि तूफान आज ओडिशा के तट से टकराएगा, जिसके बाद पूर्वी बिहार के रास्ते राज्य में दाखिल होगा। 26 मई की शाम से इसका बड़ा असर देखने को मिलेगा, जो आने वाले 4 दिनों तक रहेगा। मौसम विभाग ने पटना सहित 26 जिलों को अलर्ट पर रखा है। इन जिलों में 160 MM तक बारिश होने और ठनका गिरने की संभावना है। संबंधित जिलों में सुरक्षा को लेकर आपदा राहत की टीमों को लगाया गया है। बिजली और अन्य आवश्यक व्यवस्था को लेकर पूरी तरह से रणनीति बनाई जा रही है। राहत एवं बचाव को लेकर राज्य के विभिन्न जिलों में NDRF और SDRF की 24 टीमें लगा दी गई हैं। राज्य के सभी 38 जिलों के DM को अलर्ट पर रहने को कहा गया है।

शाम को होगा असर, सुबह से ही मौसम खराब-
यास तूफान का असर 26 मई की शाम को बिहार में दिखेगा, लेकिन सुबह से ही मौसम खराब है। पटना सहित राज्य के 26 जिलों में आसमान में बादल हैं और 16 जिलों में बारिश व बूंदाबांदी हो रही है। पटना में सुबह से ही मौसम काफी ठंडा रहा, इस कारण से तापमान में भी गिरावट देखने को मिल रही है। सुबह कई इलाकों में हल्की बूंदाबांदी भी हुई है।

राज्य के 38 जिलों में अलर्ट-
मौसम विभाग का कहना है कि राज्य के सभी 38 जिलों में 30 मई तक तूफान का प्रभाव रहेगा। पटना के गायघाट, गया, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, वैशाली, मधुबनी, सहरसा, पूर्णिया, भागलपुर, बेतिया, मधेपुरा और खगड़िया में टीमों को विशेष अलर्ट कर लगाया गया है। मौसम विभाग के मुताबिक, 27 मई से 30 मई के बीच पूर्णिया, पटना, गया सहित बिहार के 26 जिलों में भारी बारिश का अंदेशा है। इस दौरान 40 से 55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ ही 64 से लेकर 160 एमाम तक बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने बिहार के सभी हिस्सों में यलो अलर्ट जारी किया है । 30 मई तक आंधी, तूफान, वज्रपात तथा तेज वर्षा की संभावना है।

पटना सहित प्रदेश के 38 जिलों का मौसम हुआ खराब-
मौसम विभाग के मुताबिक, पटना सहित राज्य के सभी 38 जिलों में हल्की और मध्य बारिश हो रही है। पूर्वी इलाके जो झारखंड से सटे हैं वहां तेज बारिश रिकॉर्ड की गई है। बांका, जमुई, शेखपुरा में शाम 5 बजे से काफी तेज बारिश को लेकर मौसम विभाग का अलर्ट है। इस दौरान 45 से लेकर 55 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चलेंगी।

सभी विभागों को 27-30 मई तक अलर्ट का निर्देश-
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी मंगलवार को एक हाईलेवल बैठक की है। वीडियो कांफ्रेंसिंग से हुई इस मीटिंग में आपदा प्रबंधन विभाग, संबद्ध विभाग और सभी जिलाधिकारी जुड़े थे। आपदा प्रबंधन विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत ने बताया कि बिहार में 27 मई से 30 मई तक आंधी, तूफान, वज्रपात और वर्षा की संभावना है। इसे देखते हुए सभी जिलाधिकारियों को सर्तक कर दिया गया है। ऊर्जा, कृषि, स्वास्थ्य, जल संसाधन, लघु जल संसाधन, पथ निर्माण एवं ग्रामीण कार्य विभाग को विशेष रूप से अलर्ट रहने को कहा गया है। NDRF और SDRF की टीम पूरी तरह तैयार है।

पटना में अलर्ट को देखते हुए प्रशासन की तैयारी-
1- सभी सरकारी अस्पतालों (PMCH, NMCH, IGIMS, AIIMS, ESIC बिहटा) को वैकल्पिक जेनरेटर की व्यवस्था रखने का निर्देश।

2- सभी निजी अस्पताल एवं डेडीकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेंटर में भी यही व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश।

3- ऑक्सीजन का सुरक्षित भंडारण भी सुनिश्चित करेंगे ताकि आकस्मिकता की स्थिति में इसका उपयोग किया जा सके।

4- सभी ऑक्सीजन प्लांट में भी विद्युत आपूर्ति हेतु वैकल्पिक व्यवस्था कराना सुनिश्चित करने तथा पूर्व से ही सभी खाली ऑक्सीजन सिलेंडर को अग्रिम में ही भरवा के रखवाना सुनिश्चित करने का निर्देश।

5- अधीक्षण अभियंता, विद्युत आपूर्ति अंचल पटना एवं सभी संबंधित कार्यपालक अभियंता विद्युत पोल, तार अथवा ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त होने इत्यादि कारणों से विद्युत आपूर्ति बाधित होने की स्थिति में न्यूनतम समय में विद्युत आपूर्ति रिस्टोर कराना सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है। इसके लिये विशेष टीम 24×7 तैयार करने का निर्देश दिया गया है।

6- सड़कों पर अथवा अन्यत्र पेड़ इत्यादि गिरने की स्थिति में अविलंब उसे हटाने के लिए विशेष टीम वाहन इत्यादि की व्यवस्था वन प्रमंडल, पटना एवं नगर निगम, पटना को करने का निर्देश दिया गया है।

गया से गुजरने वाली स्पेशल ट्रेनें रद्द-
संभावित तूफान ‘यास’ के खतरे को देखते हुए रेलवे ने कई ट्रेनें एक साथ रद्द कर दी है। रद्द की गई ट्रेनों का संचालन 25-27 मई तक नहीं किया जाएगा। रेलवे की ओर से फिलहाल उन्हीं ट्रेनों का संचालन रद्द किया गया है, जो हावड़ा से चल कर बिहार, यूपी, मध्य प्रदेश को जाती हैं। हाजीपुर जोन के सीपीआरओ राजेश कुमार ने इसकी पुष्टि की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कोतवाली पुलिस द्वारा एक और चोरी की मोटरसाइकिल बरामद की गई

मध्यप्रदेश। छतरपुर जीके जे थाना सिटी कोतवाली पुलिस ने सुरेंद्र सिंह परमार पिता हरपाल सिंह परमार उम्र...

जमीनी विवाद में दबंगों ने की मारपीट, पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले के बिवाँर थाना क्षेत्र के बिभूनी गांव में दबंगों ने जमीनी विवाद के चलते...

संयुक्त टीम की चेकिंग में 133 ओवरलोड ट्रक पकड़े, 75 ट्रकों से 26 लाख का जुर्माना वसूला गया

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिलाधिकारी के निर्देश पर खनिज विभाग वाणिज्य कर विभाग परिवहन एवं पुलिस विभाग की संयुक्त...

जिले में मानसून की दूसरी बारिश भी रही जोरदार, हवादार पानी से गिरे गरीबों के कच्चे मकान घरों और दुकानों में घुसा पानी

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले मे मानसून की दूसरी बारिस जोरदार रही, जहां तेज हवा के साथ हुई झमाझम...

Recent Comments

%d bloggers like this: