Home मध्यप्रदेश छतरपुर आकाशवाणी को बचाने की कवायद तेज, प्रहलाद पटेल ने केंद्रीय सूचना...

छतरपुर आकाशवाणी को बचाने की कवायद तेज, प्रहलाद पटेल ने केंद्रीय सूचना मंत्री को लिखा पत्र, कहा ‘बुंदेलखंड की विरासत है छतरपुर आकाशवाणी’

छतरपुर जसं। बुंदेलखंड की आवाज बनकर हमेशा लोगों के कानों में बजती रही ‘आकाशवाणी छतरपुर’ को केंद्र सरकार बंद करने जा रही है। यह बुंदेली संस्कृति की धरोहर को जन-जन तक पहुंचाती रही है। इसे बंद करने से छतरपुर सहित पूरे बुंदेलखंड में निराशा है।

इसे भांपते हुए केंद्रीय मंत्री और क्षेत्रीय सांसद प्रहलाद पटेल ने अपने ही साथी केंद्रीय सूचना मंत्री डॉ. एल मुरगन को पत्र लिख आकाशवाणी को पहले की तरह संचालित कराने की अपील की है। पत्र के माध्यम से प्रहलाद पटेल ने 47 वर्षों से संचालित अनन्य खूबियों वाले बुंदेलखंड की विरासत ‘छतरपुर आकाशवाणी केंद्र’की उपलब्धियों और महता को ध्यान में रखते हुए केंद्र को यथावत् बनाए रखने का अनुरोध किया है।

46 साल पहले हुई थी स्थापना-
7 अगस्त 1976 को 46 साल पहले कार्यक्रमों की विविध सरगम के साथ छतरपुर आकाशवाणी की स्थापना हुई थी। यहां की तत्कालीन सांसद विद्यावती चतुर्वेदी के प्रयास से यहां आकाशवाणी (रेडियो स्टेशन) की शुरुआत हुई थी। तब के इस पिछड़े क्षेत्र को ऊंचाईयों की नई सौगात मिली थी।

4 साल बाद गोल्डन जुबली-
चार साल बाद जिस आकाशवाणी छतरपुर की स्थापना की गोल्ड़न जुबली मनाने की तैयारी होना चाहिये जबकि उसे ठीक उसके आने के पहले समाप्त किया जा रहा है। जबकि उत्तरप्रदेश-मध्यप्रदेश सहित ऑनलाइन ऐप्प के माध्यम से पूरा देश आकाशवाणी छतरपुर से जुडा है।

अनेक कार्यक्रम होते थे प्रसारित-
जानकारी के मुताबिक आकाशवाणी छतरपुर से प्रसारित विभिन्न कार्यक्रमों में आकस्मिक उद्घोषक के रूप में 34, ग्राम सभा कैंपेयर्स में 19, नारीजगत में 11, युववाणी में 14 और वसुंधरा व बालमेला को प्रस्तुत करने वाले दो-दो कमपेयर्स कार्यरत है। जिसमे 9 लोग पूर्व से अन्य शासकीय विभागों में कार्यरत है। कुल 82 कमपेयर्स उद्घोषको में से पूर्व से शासकीय कार्यरत 9 लोगो को हटा दिया जाये तो 73 कार्यरत उद्घोषक व कमपेयर्स हैं।

नए आदेश से बंद हो जाएगी आकाशवाणी !-
प्रसार भारती के नए आदेश के अनुसार अब युववाणी, नारीजगत और ग्राम सभा जैसे कार्यक्रम हफ्ता में एक दिन शुक्रवार को प्रसारित होंगे। छतरपुर आकाशवाणी से प्रसारित दोपहर की सभा को रोक दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

खून से लथपथ मिली थी पल्लेदार की लाश, परिजनों को हत्या की आशंका

मध्यप्रदेश। दमोह जिला मुख्यालय के नया बाजार नंबर 3 में रहने वाले एक बुजुर्ग पल्लेदार का शव कचोरा...

मजदूरी कर लौट रहा था युवक, आरोपी ने गाली देकर शुरू किया विवाद, मारी चाकू

मध्यप्रदेश। दमोह कोतवाली थाने के बड़ापुरा इलाके में रविवार रात मजदूरी कर लौट रहे युवक को पड़ोसी ने...

फूड पॉइजनिंग से 2 बच्चियों की मौत, 12 की हालत गंभीर

मध्यप्रदेश। छिंदवाड़ा जिले के पांढुर्णा में फूड पॉइजनिंग से दो बच्चियों की मौत हो गई। दोनों ने शादी...

धर्मांतरण मामले में गृहमंत्री का एक्शन, इंटेलिजेंस को प्रदेश के सभी मिशनरी स्कूल पर नजर रखने को कहा

मध्यप्रदेश। भोपाल में सामने आई धर्मांतरण की घटना के बाद मध्यप्रदेश में संचालित सभी मिशनरी स्कूल सरकार की...

Recent Comments

%d bloggers like this: