Home पॉलिटिक्स छात्र से प्रोफेसर ले रहा था रिश्वत, थीसिस अप्रूव करने के एवज...

छात्र से प्रोफेसर ले रहा था रिश्वत, थीसिस अप्रूव करने के एवज में 10 हजार लेते पकड़ाया

मध्यप्रदेश। ग्वालियर में EOW की टीम ने एक प्रोफेसर को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा है। प्रोफेसर ने अपने एक शोधार्थी छात्र से पीएचडी की थीसिस अप्रूव करने के बदले 51 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। तीन किश्तों में रुपए देना तय हुआ। मंगलवार को प्रोफेसर के घर पर छात्र पहली किश्त 10 हजार रुपए लेकर पहुंचा था। प्रोफेसर के रुपए लेकर जेब में रखते ही EOW की टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

शासकीय विजयाराजे सिंधिया कन्या महाविद्यालय मुरार में नृत्य विभाग के प्राध्यापक एंव विभागाध्यक्ष डॉ. बीडी माणिक उर्फ भगवानदास को आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने उनके घर मनोहर इन्क्लेव सिटी सेंटर से पकड़ा। दिल्ली नजफगढ़ निवासी अवनीश कुमार ने EOW में शिकायत की थी। अवनीश और प्रोफेसर के बीच लेनदेन की ऑडियो टेप के आधार पर EOW की टीम ने छात्र की शिकायत पर डॉ. माणिक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की और उसे ट्रैप करने की प्लानिंग की।

मंगलवार शाम को अवनीश ने फोन लगाकर बीडी माणिक से पूछा तो उन्होंने छात्र को घर पर आकर रुपए देने की बात कही। EOW थाना प्रभारी यशवंत गोयल, नीतू सिंह टीम के साथ मौके पर पहुंचे। प्रोफेसर के घर पहुंचे छात्र ने जैसे ही उनको रिश्वत दी बाहर खड़ी टीम ने घर के अंदर रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ लिया। EOW की टीम ने तत्काल प्रकरण बनाकर भ्रष्टाचार का मामला दर्ज कर लिया है।

प्रोफेसर के व्यवहार से दुखी था छात्र-
प्रोफेसर बीडी माणिक के व्यवहार से छात्र इस कदर दुखी था कि उसने रिश्वत की शिकायत करने की ठान ली। बीडी माणिक को जब छात्र ने रिश्वत देने में आनाकानी की तो वह उसके साथ गाली गलौच तक करने लगे। छात्र ने प्राध्यापक को सबक सिखाने के लिए शिकायत कर दी और वह ऑडियो भी सबूत के तौर पर दे दिया जिसमें वह गाली गलौज कर रहा था।

कमरे में मौन साध गए गुरु-
अपने आपको नृत्य का गुरु मानने वाले प्राध्यापक ने जब कमरे में EOW की टीम को देखा तो उनके होश उड़ गए। टीम को देखकर वह माजरा समझ गए और फिर उसके बाद उन्होंने मौन साध लिया। बचने के लिस कोई विरोध भी नहीं किया। कार्रवाई के दौरान घर में पत्नी और बेटा भी मौजूद था। पर उन्होंने भी कुछ नहीं कहा।

कई सम्मान ले चुके हैं-
पकड़ा गया बीडी माणिक विजयराजे सिंधिया महाविद्यालय में प्रोफेसर के साथ ही नृत्य विभाग का एचओडी भी है। प्रोफेसर को नृत्य और तबला के लिए कई स्थानीय और रीजनल कार्यक्रम में सम्मान भी मिला है। ऐसा भी पता लगा है कि राज्य स्तर पर भी कई कार्यक्रम में वह सम्मान पा चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

नाबालिग से बलात्संग के आरोपी को 20 वर्ष की कठोर कैद

छतरपुर जसं। नाबालिग को बहला फुसलाकर भगा ले जाकर बलात्संग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला सुनाया...

ग्राम बुडरख में हुआ क्रिकेट टूर्नामेंट का भव्य उद्घाटन: वरिष्ठ समाजसेवी इन्द्रपाल चौबे रहे मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद, पुलिस थाना महराजपुर की...

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले के महराजपुर तहसील अंतर्गत आने वाले ग्राम बुड़रक में आज स्वर्गीय श्रीमती सुनती बाई कुशवाहा...

3 परिवारों का सामाजिक बहिष्कार, तीनों परिवार का हुक्का पानी बन्द, गांव के दबंगो ने सुनाया फरमान, परिवार ने मांगी सुरक्षा

मध्यप्रदेश। बैतूल जिले के मुलताई थाना इलाके के गांव पारबिरोली में तीन परिवारों का सामाजिक बहिष्कार कर दिया...

मध्यप्रदेश सरकार का बड़ा फैसला: कॉलेज-यूनिवर्सिटी में ऑफलाइन ही होंगे एग्जाम, स्टूडेंट पॉजिटिव आता है तो 10 दिन बाद शामिल हो सकेगा

भोपाल। मध्य प्रदेश में कॉलेज- यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं ऑफलाइन ही होंगी। मंगलवार को उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव...

Recent Comments

%d bloggers like this: