Home खबरों की खबर अन्य खबरे जिला शांति समिति की बैठक संपन्न: नवरात्रि और दशहरा पर्व परस्पर सौहार्द...

जिला शांति समिति की बैठक संपन्न: नवरात्रि और दशहरा पर्व परस्पर सौहार्द एवं शांति से मनाने का निर्णय कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए त्यौहार मनाये, बूढ़ा बांध पर मूर्ति विसर्जन, शहर के मुख्य मंदिरों पर पर्याप्त सुरक्षा होगी, मुख्य पंडालोें में सीसीटीवी कैमरे लगाने की अपील

छतरपुर जसं। जिले में नवरात्रि और दशहरा पर्व परस्पर सौहार्द एवं शांतिपूर्ण तरीके से कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए मनाया जाएगा। यह निर्णय एडीएम आर.डी.एस. अग्निवंशी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष छतरपुर में सोमवार को सम्पन्न जिला शांति समिति की बैठक में लिया गया। बैठक में एएसपी विक्रम सिंह, एसडीएम छतरपुर यू.सी. मेहरा, सीएमओ छतरपुर ओ.पी.एस. भदौरिया सहित शांति समिति के सदस्यगण उपस्थित रहे।

प्रारंभ में समिति के सदस्यों ने सुझाव दिये। एडीएम ने शासन द्वारा जारी कोविड गाइडलाइन की जानकारी देते हुए बताया कि 30×45 आकार का पंडाल बनाया जा सकेगा। पंडाल में श्रृद्धालु और दर्शकों की भीड़ न हो। धार्मिक स्थलों पर रूल ऑफ 6 लागू रहेगा। संकुचित जगह के कारण पंडाल में श्रृद्धालु, दर्शकों की भीड़ की स्थिति नहीं बने, यह अनिवार्य है। शासन के निर्देशानुसार रात्रि 11 बजे से प्रातः 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग के संबंध में सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन का पालन करना होगा। प्रतिमा विसर्जन स्थल पर जाने के लिए एसडीएम की अनुमति से अधिकतम 10 व्यक्ति के समूह को अनुमति होगी। विसर्जन बूढ़ा बांध पर होगा। शहर के मुख्य मंदिरों के आसपास खुले में बिकने वाले मांस एवं अण्डों की बिक्री प्रतिबंधित रहेगी। यहां की दुकानों को अन्य स्थानों पर पहुंचाया जाएगा।  

एएसपी विक्रम सिंह ने कहा कि आगामी नवरात्रि एवं दशहरा महत्वपूर्ण त्यौहार है। पिछले कुछ दिनों से कोविड संक्रमण के प्रकरण बढ़ रहे है, इसे देखते हुए शासन द्वारा जारी कोविड गाइडलाइन का पालन करना जरूरी है। मूर्ति स्थापना के लिए कोई भी नवीन स्थल या पंडाल नहीं बनंेगे। आयोजक विद्युत विभाग से विधिवत विद्युत कनेक्शन प्राप्त करें और आकस्मिक दुर्घटना की रोकथाम के लिए बाल्टी और बालू (रेत) का प्रबंध करें। दुर्गा स्थापना पंडाल के पास सुरक्षा के लिए पुलिस फोर्स भी मौजूद रहेगीें।

जिन स्थानों पर शहर में पंडाल स्थापित किए जाते है वहां आयोजक वॉलेंटियर्स सहित सूची पुलिस प्रशासन को देंगे। पुलिस प्रशासन और आयोजकों की आयोजन के संबंध में चर्चा होगी। पंडाल की समुचित व्यवस्था के लिए वॉलेंटियर्स की तैनाती करंे। बड़े पंडाल के आयोजकों को सीसीटीवी कैमरे लगाने, पंडालों में सुरक्षा के मद्देनजर रात्रि में वॉलेंटियर्स को रोकने और इनके नामों की सूची पुलिस प्रशासन को देने की सलाह दी गई।

शांति समिति के सदस्यों से एएसपी द्वारा अपील की गई है कि सोशल मीडिया में आने वाले आपत्तिजनक संदेश एवं अफवाह फैलाने वाले पोस्ट या मैसेज को फॉरवर्ड नहीं करें और ऐसे किसी भी संदेश को पुलिस प्रशासन तक तुरंत पहुंचाये।
नगरपालिका द्वारा साफ-सफाई कराने के साथ-साथ शहर की बंद पड़ी लाइट व्यवस्था को सुधारा जाएगा। आकस्मिक दुर्घटना की रोकथाम के लिए अग्निशामक गाड़ी साजसज्जा के साथ उपलब्ध रहेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

मृतक महिला के परिजनों ने लगाए हत्या के आरोप,छत्रसाल चौक पर परिजनों ने किया चक्का जाम, पुलिस की समझाइश के बाद खोला गया जाम

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिला मुख्यालय पर मृतक महिला की मां निर्मला कोरी ने आरोप लगाते हुए कहा है...

प्रदेश में खाद की त्राहि-त्राहि, पर मुख्यमंत्री मौन?, बतायें कालाबाजारियों को संरक्षण दे रहा है कौन?: रवि सक्सेना

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और वरिष्ठ प्रवक्ता रवि सक्सेना ने कहा मध्यप्रदेश के किसान इस समय...

कलेक्टर ने राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम की समीक्षा, टीबी मरीजों के बेहतर उपचार के लिए दिए निर्देश

छतरपुर जसं। कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में शनिवार को राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम...

कमिश्नर कार्यालय में फरियादी ने खाया जहर, फंड और पेंशन का पैसा न मिलने से था परेशान, कमिश्नर से समस्या बताने के बाद खा...

कमिश्नर कार्यालय में फरियादी ने खाया जहर। उत्तरप्रदेश। बांदा जिले में फंड और पेंशन...

Recent Comments

%d bloggers like this: