Home मध्यप्रदेश डीएलसीसी बैठक: रोजगार मूलक योजना में बैंकर्स तत्परता दिखाये, लक्ष्यानुरूप ऋण वितरण...

डीएलसीसी बैठक: रोजगार मूलक योजना में बैंकर्स तत्परता दिखाये, लक्ष्यानुरूप ऋण वितरण करें, ब्लॉक मोबाइल बैंक स्थापित होंगे, पीएम स्वनिधि में दोबारा ऋण देते वक्त दस्तावेजों की मांग न करें

छतरपुर जसं। कलेक्टर छतरपुर संदीप जी आर ने विशेष परामर्श (डीएलसीसी) की समीक्षा बैठक में कहा कि शासन द्वारा बेरोजगारों को आर्थिक रूप से संबल बनाने के लिये प्रतिमाह रोजगार दिवस मनाकर उन्हें लाभान्वित किया जा रहा है। बैंक हितग्राही मूलक योजना में जरूरतमंद लोगों की मदद के लिये तत्परता दिखाते हुये निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप ऋण मुहैया कराये।

उन्होंने कहा कि बैंकर्स हितग्राही मूलक योजना में दिये जाने वाले ऋण को अभी से ही उस श्रेणी में डालना शुरू करें। जिले के प्रत्येक ब्लॉक मोबाइल बैंक स्थापित करने का निर्णय लिया गया। बैठक में पीएम आवास शहरी7 सहित उद्योग विभाग एवं अन्य विभागों की हितग्राही मूलक योजना में गतवर्ष के लक्ष्य के विरूद्ध हासिल उपलब्धि पर चर्चा की गई। बैठक में समिति के संबंधित अधिकारी एवं बैंकर्स प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

कलेक्टर ने कहा कि बैंकर्स हितग्राहियों के दस्तावेजों के सत्यापन के लिये कारगर रणनीति बनाये और निश्चित समय तय करें, उस समय पर हितग्राहियों को बुलाये जिससे हितग्राहियों को बार-बार बैंक में उपस्थित न होने पड़े। इसी तरह बैंक में आने वाले दिव्यांग हितग्राहियों और बैंक खाताधारी दिव्यांग की सुविधा के लिये सुविधा जनक एवं सरलता से आ जा सकने वाले निर्धारित आकार का रैंप बनाये। बैठक में किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी अभियान पर जानकारी दी गई। स्वसहायता समूह के सदस्यों को बैंक में बार-बार न आना पड़े, ऐसे समूह से उनके कार्य स्थल पर सारी औपचारिकता पूरी करें।

उन्होंने कहा कि बैंक पार्किंग व्यवस्था को सुचारू बनाये जिससे आवागमन सरल हो और आने जाने आम लोगों को कठिनाई न हों। इसके लिये सीएमओ छतरपुर और एलडीएम शहर की बैंकों की सूची बनाये और वहां की पार्किंग व्यवस्था के लिये स्थल का मुआयना करें। बैंक के बाहर स्थित डीजीसेट अन्यत्र शिफ्ट करें, जिससे और जगह या स्थान की सुलभता हो।

बैंकर्स पीएम स्वनिधि योजना सहित अन्य योजना में एक बार लाभान्वित हो चुके और जो दूसरी बार ऋण ले रहे है ऐसे हितग्राहियों से केवाईसी के लिये दोबारा दस्तावेजों की मांग न करें। इस योजना में पहली बार लाभान्वित हो चुके हितग्राहियों के दस्तावेज बैंक के पास पूर्व ही मौजूद है। उन्होंने कहा कि प्रथम तिमाही में ही बैंक दिये गये लक्ष्य को हासिल करने की रणनीति पर कार्य करें।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

खून से लथपथ मिली थी पल्लेदार की लाश, परिजनों को हत्या की आशंका

मध्यप्रदेश। दमोह जिला मुख्यालय के नया बाजार नंबर 3 में रहने वाले एक बुजुर्ग पल्लेदार का शव कचोरा...

मजदूरी कर लौट रहा था युवक, आरोपी ने गाली देकर शुरू किया विवाद, मारी चाकू

मध्यप्रदेश। दमोह कोतवाली थाने के बड़ापुरा इलाके में रविवार रात मजदूरी कर लौट रहे युवक को पड़ोसी ने...

फूड पॉइजनिंग से 2 बच्चियों की मौत, 12 की हालत गंभीर

मध्यप्रदेश। छिंदवाड़ा जिले के पांढुर्णा में फूड पॉइजनिंग से दो बच्चियों की मौत हो गई। दोनों ने शादी...

धर्मांतरण मामले में गृहमंत्री का एक्शन, इंटेलिजेंस को प्रदेश के सभी मिशनरी स्कूल पर नजर रखने को कहा

मध्यप्रदेश। भोपाल में सामने आई धर्मांतरण की घटना के बाद मध्यप्रदेश में संचालित सभी मिशनरी स्कूल सरकार की...

Recent Comments

%d bloggers like this: