Home खबरों की खबर अन्य खबरे दमोह उपचुनाव में हार के बाद भाजपा में मचा घमासान, पूर्व मंत्री...

दमोह उपचुनाव में हार के बाद भाजपा में मचा घमासान, पूर्व मंत्री कुसुम मेहदेले बोलीं- उपचुनाव करना उचित नहीं था, अजय विश्नोई की टिप्पणी सही, जयंत मलैया को नोटिस देना दुर्भाग्यपूर्ण

शिवराज सरकार में कुसुम मेहदेले कैबिनेट मंत्री रह चुकी हैं।

मध्यप्रदेश। दमोह उपचुनाव में बीजेपी की हार के बाद पार्टी के ही वरिष्ठ नेता मुखर हो रहे हैं। पूर्व मंत्री व 7 बार के विधायक जयंत मलैया को बुंदेलखंड की नेता कुसुम मेहदेले का समर्थन मिला है। पूर्व मंत्री कुसुम ने हार के लिए जयंत और उनके पुत्र सिद्धार्थ को जिम्मेदार ठहराने का विरोध किया है। उन्होंने मलैया को नोटिस देने को दुर्भाग्यपूर्ण भी बताया। साथ ही, बीजेपी विधायक अजय विश्नोई के बयान का समर्थन किया है।

पूर्व मंत्री ने सोशल मीडिया पर लिखा- अब बीजेपी के पास वरिष्ठ कार्यकर्ताओं की उपेक्षा व अवमानना करने और उनकी निष्ठा पर असत्य लांछन लगाना भी शुरू हो गया है। जयंत मलैया को नोटिस और सिद्धार्थ की सदस्यता समाप्त करना दुर्भाग्यपूर्ण है।

महदेले ने आगे लिखा- मलैया और सिद्धार्थ पर आरोप-प्रत्यारोप उचित नहीं है। उप चुनाव करवाना भी उचित नहीं था। उन्होंने विधायक अजय विश्नोई का समर्थन करते हुए लिखा- अजय विश्नोईजी आपने दमोह उपचुनाव को लेकर सही टिप्पणी की है। बता दें, दो दिन पहले अजय विश्नोई ने सोशल मीडिया पर सवाल किया था- चुनाव में हार की जवाबदारी क्या टिकट बांटने वाले और चुनाव प्रभारी लेंगे?
मलैया जी और सिद्दार्थ पर आरोप-प्रत्यारोप उचित नहीं है। उपचुनाव करवाना भी उचित नहीं था।
बता दें, चुनाव में पार्टी के उम्मीदवार राहुल सिंह लोधी की हार के लिए जिम्मेदार मानते हुए पार्टी ने जयंत मलैया को नोटिस दिया है। इस पर मलैया का कहना है, सिर्फ मेरा बूथ नहीं हारी भाजपा। राहुल लोधी खुद अपना वार्ड हार गए। केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जहां रहते हैं, वह वार्ड हार गए। जिला पंचायत और नगर पालिका अध्यक्ष का वार्ड भी हार गए। अब हार का ठीकरा किसी पर तो फोड़ना था, तो मुझ पर और मेरे बेटे पर फोड़ दिया। शिवराज जी हार की जिम्मेदारी तो लेंगे नहीं।

कोठारी ने भी किया है मलैया का समर्थन-
बीजेपी के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री हिम्मत कोठारी मलैया के समर्थन में सामने आए हैं। उन्होंने कहा, जयंत मलैया बीजेपी के वरिष्ठ नेता हैं, उन्हें हार के लिए जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है। हार की जिम्मेदारी उन्हें लेना चाहिए, जो उप चुनाव के प्रभारी थे।

कांग्रेस का तंज- बीजेपी में बिकाऊ-टिकाऊ संघर्ष शुुरू-
दमोह उप चुनाव में हार के बाद बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के मुखर होने पर कांग्रेस ने तंज कसा है। पार्टी के प्रदेश मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने सोशल मीडिया पर लिखा – दमोह उप चुनाव परिणाम के बाद अब एक बार फिर भाजपा में बिकाऊ-टिकाऊ संघर्ष शुुरू? टिकाऊओं ने खोला बिकाऊओं के खिलाफ मोर्चा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रोडवेज बस से कुचले बच्चे की मौत, सड़क पर शव ऱखकर जमकर काटा हंगामा

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले में बीते रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के बस स्टैंड में कुरारा की ओर...

कोविड-19 वैक्सीन महाअभियान गढ़ीमलहरा में निकली रैली

छतरपुर ज.सं। कोरोना संक्रमण से बचाव एवं कोविड-19 संक्रमण के वैक्सीनेशन के प्रति लोगो को लोगो को...

एक संक्रमित हुआ डिस्चार्ज

छतरपुर ज.सं। छतरपुर जिले में शनिवार को 01 कोविड संक्रमित मरीज को खजुराहो कोविड केयर सेंटर से...

प्राचार्य ने टीकाकरण कराने की अपील की

छतरपुर ज.सं। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-1 छतरपुर के प्राचार्य एस.के. उपाध्याय ने छात्रों, उनके माता-पिता सहित जिले...

Recent Comments

%d bloggers like this: