Home मध्यप्रदेश नगरीय निकाय एवं पंचायत चुनाव बिना ओबीसी आरक्षण के संबंध में आए...

नगरीय निकाय एवं पंचायत चुनाव बिना ओबीसी आरक्षण के संबंध में आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में मीडिया के सवालों से बचते नजर आए जतारा विधायक हरिशंकर खटीक

मध्यप्रदेश। छतरपुर में भाजपा कार्यालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जतारा विधायक एवं भाजपा के प्रदेश महामंत्री हरिशंकर खटीक ने कहा कि नगरीय निकाय एवं पंचायत चुनाव बिना ओबीसी आरक्षण करने के संबंध में आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर मध्य प्रदेश सरकार पारित आदेश में संशोधन का आदेश दायर करके पुनः अदालत से आग्रह करेगी कि मध्य प्रदेश में ओबीसी आरक्षण के साथ में ही पंचायत एवं स्थानीय निकाय चुनाव संपन्न हो।

आदेश में संशोधन की आवश्यकता इसलिए भी है क्योंकि वर्ष 2022 में नया परिसीमन त्रिस्तरीय पंचायतों का किया गया है तथा वर्ष 2019 से 2022 के मध्य में 35 नए नगरीय निकाय गठित हुए हैं नगरीय निकायों में ग्रामीण क्षेत्र से 128 ग्राम पंचायतें तथा उनके 297 ग्राम नगरीय निकायों में चले गए हैं जबकि उच्चतम न्यायालय के आदेश में वर्ष 2019 में त्रिस्तरीय पंचायतों के परिसीमन के आधार पर चुनाव कराए जाने के निर्देश दिए गए हैं जिससे कई विसंगतियां उत्पन्न होंगे चुनाव नवीन परिसीमन के अनुसार ही कराया जाना आवश्यक है तो वही उन्होंने पत्रकार वार्ता में कहा कि भाजपा शीघ्र चुनाव कराना चाहती है तथा इसके लिए पहले भी कई बार प्रयास किए गए हैं भाजपा यह भी चाहती है कि चुनाव पिछड़े वर्ग के आरक्षण के साथ हो।

जब मीडिया ने पत्रकार वार्ता के माध्यम से उनसे पूछा कि क्या भाजपा का सामान्य और sc-st वोटर नहीं है क्या उनके वोट की आवश्यकता नहीं पड़ती है तो उन्होंने कहा कि ज्यादातर मध्य प्रदेश में ओबीसी सीटो पर चुनाव कराया जाना उचित है तब मीडिया ने कहा कि सामान आरक्षण पर भी तो चुनाव संपन्न कराया जा सकता है फिर पार्टी तय करें कि टिकट ओबीसी को देना है कि सामान्य, मीडिया ने कहा कि आप प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कोर्ट के आदेश को मान्य नहीं रहे हैं और यदि कोर्ट जो आदेश देगा क्या आप वह नहीं मानेंगे। प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा जिला अध्यक्ष मलखान सिंह जिला उपाध्यक्ष जयराम चतुर्वेदी मीडिया प्रभारी अरविंद बुंदेला अरविंद रावत युवा मोर्चा अध्यक्ष नीरज चतुर्वेदी सहित मीडिया कर्मी उपस्थित रहे।।

जैसे ही मीडिया ने पूछा कि छतरपुर का गौरव आकाशवाणी रिले सेंटर में तब्दील होने जा रहा है तो वह सवालों से बचते हुए नजर आए और उन्होंने गोलमोल जवाब देते हुए कहा कि मैं भी पत्राचार के माध्यम से शासन प्रशासन को अवगत कराऊंगा साथ ही भारतीय जनता पार्टी के जनप्रतिनिधियों के माध्यम से भी इस को बचाने का प्रयास करेंगे तो मीडिया ने सवाल पूछा की आकाशवाणी के साथ-साथ कृषि कॉलेज नरसिंह ट्रेनिंग सेंटर आदि जो छतरपुर जिले के लिए सौगात थी अब वह सरकार ने छीन ली तो उस पर उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि छतरपुर में मेडिकल कॉलेज भाजपा सरकार की ही देन है और केन बेतवा लिंक परियोजना आदि उपलब्धि भाजपा की देन है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

खून से लथपथ मिली थी पल्लेदार की लाश, परिजनों को हत्या की आशंका

मध्यप्रदेश। दमोह जिला मुख्यालय के नया बाजार नंबर 3 में रहने वाले एक बुजुर्ग पल्लेदार का शव कचोरा...

मजदूरी कर लौट रहा था युवक, आरोपी ने गाली देकर शुरू किया विवाद, मारी चाकू

मध्यप्रदेश। दमोह कोतवाली थाने के बड़ापुरा इलाके में रविवार रात मजदूरी कर लौट रहे युवक को पड़ोसी ने...

फूड पॉइजनिंग से 2 बच्चियों की मौत, 12 की हालत गंभीर

मध्यप्रदेश। छिंदवाड़ा जिले के पांढुर्णा में फूड पॉइजनिंग से दो बच्चियों की मौत हो गई। दोनों ने शादी...

धर्मांतरण मामले में गृहमंत्री का एक्शन, इंटेलिजेंस को प्रदेश के सभी मिशनरी स्कूल पर नजर रखने को कहा

मध्यप्रदेश। भोपाल में सामने आई धर्मांतरण की घटना के बाद मध्यप्रदेश में संचालित सभी मिशनरी स्कूल सरकार की...

Recent Comments

%d bloggers like this: