Home मध्यप्रदेश पत्रकारों के सहयोग से ही छतरपुर जिले का चहुमुखी विकास होगा: कलेक्टर,...

पत्रकारों के सहयोग से ही छतरपुर जिले का चहुमुखी विकास होगा: कलेक्टर, शिक्षा एवं स्वास्थ्य विभाग पर मुख्य फोकस रहेगा, सरकार के द्वारा चलाई जा रही शासकीय योजनाओं को पात्र हितग्राही तक लाभ पहुंचाना है

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले के नए कलेक्टर संदीप जी आर ने आज अपनी पहली पत्रकारवार्ता में कलेक्ट्रेट की सभाकक्ष में जिले के सभी पत्रकारों को आमंत्रित किया था। इस अवसर पर कलेक्टर ने अपना परिचय पत्रकारों को दिया और जिले के पत्रकारों का परिचय प्राप्त किया।

इस अवसर पर कलेक्टर संदीप जी आर ने कहा कि छतरपुर जिला काफी पिछड़ा हुआ जिला है इस जिले में बहुत काम करने की जरूरत है। मीडिया के बंधुओं के सहयोग के बिना विकास संभव नहीं है। उन्होंने बताया कि हमारा मुख्य फोकस शिक्षा एवं स्वास्थ्य पर रहेगा। खासतौर से गर्भवती महिलाओं में होने वाली खून की कमी से निजात दिलाना एवं कुपोषित बच्चों को से मुक्ति दिलाना है।

इसके अलावा छतरपुर जिले में सरकार के द्वारा चलाई जा रही शासकीय योजनाओं को पात्र हितग्राही तक लाभ पहुंचाना है। कलेक्टर ने सभी पत्रकारों से अपने अपने सुझाव देने के लिए भी कहा। इस अवसर पर कई पत्रकारों ने कलेक्टर को बताया कि छतरपुर तहसील में 11 हजार नामांतरण के केस पेंडिंग पड़े हुए हैं और वर्तमान तहसीलदार लगातार नामांतरण के केसों को खारिज कर देते हैं। और भारी भ्रष्टाचार तहसील में हो रहा है। कलेक्टर ने पत्रकारों के सुझाव को नोट किया और कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।

इसके अलावा पत्रकारों ने सवाल किए कि छतरपुर जिले में रेत का अवैध उत्खनन पुलिस के संरक्षण में चल रहा है और सभी थानों में इसके लिए एकमोटी रकम रेत माफियों के द्वारा दी जाती है। खनिज विभाग कार्यवाही करना तो चाहता है परंतु पुलिस विभाग उनका सहयोग नहीं करती है। कलेक्टर ने अतिशीघ्र कार्यवाही करने के लिए आश्वासन दिया है।

इसके अलावा कलेक्टर ने जिले में स्वच्छता अभियान के संबंध में कहा कि सभी लोग मिलकर स्वच्छता अभियान के लिए अपनी मनोप्रवृत्ति बदलें और अपना शहर स्वच्छ बनाने के लिए सडक़ों पर कचरा न फकें। दुकानदारों से अपील की है कि वह अपनी अपनी दुकान के बाहर एक एक डस्टबिन रखें ताकि नगर पालिका से आने वाली कचरा वाहन उस कचरे को उठा ले जा सके। कलेक्टर ने यह भी कहा कि छतरपुर से लगभग 3 ब्लाकों का भ्रमण कर चुके हैं और छतरपुर में पानी की भी समस्या काफी है इस समस्या का भी निदान ढूंढना पड़ेगा।

इस अवसर पर छतरपुर जिले के सभी इलेक्ट्रानिंक एवं प्रिंट मीडिया के पत्रकार और विभिन्न समाचार पत्रों के संवाददाता मौजूद थे। इसके अलावा जनसंपर्क अधिकारी छतरपुर भी कलेक्टर के साथ थे। वहीं दूसरी ओर कलेक्टर ने सभी पत्रकारों को मिलने के लिए समय निर्धारित कर दिया है। अब पत्रकार शाम 6 बजे से साढ़े 6 बजे तक मिल सकते हैं और किसी भी विषय पर चर्चा कर सकते हैं। यह पहली बार हुआ है कि जब किसी नए कलेक्टर ने आते ही मीडिया से सीधे रूबरू हुए और मीडिया के लोगों को मिलने का समय निर्धारित किया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

ब्रेकिंग न्यूज: थाना बिजावर पुलिस द्वारा अवैध शराब के निर्माण अड्डा पर जाकर 500 लीटर की लहान नष्ट की गई

मध्यप्रदेश। छतरपुर पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन एवं एसडीओपी महोदय बिजावर के निर्देशन में दिनांक 21/01/22...

ग्वालियर की समाजसेविका श्रीमती सुलेखा शर्मा बनी महिला संगठन की प्रदेश सचिव

मध्यप्रदेश। ब्रम्हलीन आचार्य श्री प्रभाकर मिश्र जी, नेपाल के संहिता शास्त्री स्वामी श्री अर्जुन प्रसाद बस्तोला जी संगठन...

प्रधान न्यायाधीश ने संप्रेक्षण गृह का निरीक्षण किया

छतरपुर जसं। प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश हृदेश श्रीवास्तव ने गुरुवार को संप्रेक्षण गृह, राजयश्री शिशु गृह तथा...

Recent Comments

%d bloggers like this: