Home खबरों की खबर अन्य खबरे पूर्व मंत्री उमंग सिंघार- सोनिया के वाट्सऐप चैट ने खोले राज, प्रताड़ित...

पूर्व मंत्री उमंग सिंघार- सोनिया के वाट्सऐप चैट ने खोले राज, प्रताड़ित किए जाने और शादी के नाम पर रोके रखने का जिक्र, अभी गिरफ्तारी नहीं होगी

भोपाल। मध्यप्रदेश सरकार के पूर्व वन मंत्री और गंधवानी से कांग्रेस विधायक उमंग सिंघार और उनकी गर्लफ्रेंड सोनिया भारद्वाज के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा था। सोनिया लगातार मानसिक प्रताड़ना झेल रही थी। इसका खुलासा सोनिया के फोन के वाट्सऐप चैट के दौरान भेजे गए मैसेज में हुआ है। सूत्रों की माने तो इसमें वह लिखती है कि शादी के नाम पर उसे अब तक रोका जा रहा है। वह इसके कारण काफी तनाव में है।

इसी तरह के कई और चैट मिलने का दावा पुलिस ने किया है। हालांकि पुलिस इसको लेकर कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दे रही है, लेकिन पुलिस ने जिस तरह से महज 30 घंटे के अंदर ही विधायक उमंग सिंघार को इस मामले में आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोपी बनाया है, उसे देखते हुए लगता है कि पुलिस के पास इस केस में कई महत्वपूर्ण सबूत हाथ लगे हैं। हालांकि पुलिस अभी उनकी गिरफ्तारी नहीं कर रही है।

एडिशनल एसपी राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि उमंग सिंगार पर सोनिया सुसाइड केस में आत्महत्या के लिए उकसाने का केस शाहपुरा पुलिस थाने में दर्ज किया गया है। उनके खिलाफ पुलिस को जांच में अब तक पर्याप्त सबूत मिले हैं, जिन्हें एक-एक कर जमा किया जा रहा है। उनके खिलाफ मामला गैर जमानती धाराओं में है, लेकिन अभी उनकी गिरफ्तारी नहीं की गई है। जल्द ही उनकी गिरफ्तारी की जाएगी।

पुलिस जांच कर रही है और एक-एक कड़ी को आपस में जोड़कर सारे सबूत जुटा रही है। जहां तक विधायक उमंग सिंघार के इस मामले में अपने को बेगुनाह बताने की बात है, तो वह कोर्ट में अपना पक्ष रख सकते हैं। पुलिस नियमानुसार ही सारी कार्रवाई कर रही है और अब तक जो भी बयान और सबूत मिले हैं वह सभी उमंग सिंगार के खिलाफ हैं।

सोनिया के फोन भी जब्त किया गया है। उसकी जांच करवाई जा रही है। सबसे बड़ी बात सोनिया के साथ उमंग सिंगार ने अपने संबंधों को कबूल किया है। उनके ही घर में सुसाइड किया है। इतना ही नहीं सोनिया ने मरने से पहले एक सुसाइड नोट लिखा है और इसके अलावा इस घटना से जुड़े लोगों के बयान भी सिंघार के खिलाफ है। पुलिस ने इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए कानून विशेषज्ञों से सलाह लेकर उमंग सिंगार के खिलाफ सोनिया को आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है।

FIR दर्ज होने का उमंग सिंघार को हो चुका था अहसास-
गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के सोमवार सुबह दिए बयान और पुलिस के लगातार सोनिया के परिजनों के बार-बार बयान लेने के कारण उमंग सिंगर को अपने खिलाफ मामला दर्ज होने का पहले ही अहसास हो गया था। इसी कारण उन्होंने कानून का हवाला देते हुए आईजी भोपाल को एक पत्र भी लिखा था। इसमें उन्होंने खुद को निर्दोष बताते हुए FIR दर्ज करने के पहले सभी सबूतों को ध्यान में रखने की बात की थी। हालांकि उनका यह प्रयास भी असफल रहा और पुलिस ने उन्हें इस मामले में आरोपी बनाने में ज्यादा देर नहीं की।

अब कोर्ट ही सिंघार के लिए एक मात्र रास्ता-
इस मामले में आरोपी बनाए गए सिंघार के पास आप सिर्फ एक ही विकल्प बचा है। वह गिरफ्तारी से बचने के लिए कोर्ट की शरण में जा सकते हैं। वे पुलिस से बचने के लिए अग्रिम जमानत के लिए कोर्ट में याचिका लगा सकते हैं। मामला गैर जमानती धाराओं का होने के कारण उन्हें थाने से जमानत नहीं मिल सकती है। ऐसे में पुलिस उन्हें गिरफ्तार कर कोर्ट भेजेगी और आगे का फैसला कोर्ट को करना है। अगर सिंगार को अग्रिम जमानत मिल जाती है, तो उन पर से गिरफ्तारी की तलवार हट जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अच्छी खबर: श्री जटाशंकर धाम में 15 माह बाद श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिर के कपाट, जल चढ़ाकर किए लोगों ने दर्शन

मध्यप्रदेश छतरपुर जिले के बिजावर अनुविभाग अंतर्गत आने वालेप्रसिद्ध तीर्थ एवं पर्यटन स्थल श्री जटाशंकर धाम में...

गोयरा पुलिस ने कट्टा कारतूस के साथ एक आरोपी को किया गिरफ्तार

मध्यप्रदेश। छतरपुर पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा के निर्देशन में एसडीओपी लवकुशनगर पीएल प्रजापति के मार्गदर्शन मे थाना...

कोतवाली पुलिस द्वारा एक और चोरी की मोटरसाइकिल बरामद की गई

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले के थाना सिटी कोतवाली पुलिस ने सुरेंद्र सिंह परमार पिता हरपाल सिंह परमार उम्र...

जमीनी विवाद में दबंगों ने की मारपीट, पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले के बिवाँर थाना क्षेत्र के बिभूनी गांव में दबंगों ने जमीनी विवाद के चलते...

Recent Comments

%d bloggers like this: