Home मध्यप्रदेश बस-कंटेनर की भिड़ंत, कंटेनर चालक की मौत के बाद शव फंसा, पुलिस...

बस-कंटेनर की भिड़ंत, कंटेनर चालक की मौत के बाद शव फंसा, पुलिस ने जेसीबी से कंटेनर की बॉडी को काटकर निकाला

मध्यप्रदेश। भिंड के गोहद चौराहा थाना क्षेत्र में एनएच 719 पर एक बस चालक ने वाहन को तेजी व लापरवाही से चलाते हुए कंटेनर में टक्कर मार दी। इस आमने सामने की भिड़ंत में कंटेनर चालक की मौत हो गई। कंटेनर चालक का शव वाहन में फंस गया। इसके बाद जेसीबी मशीन को बुलाकर कंटेनर की बॉडी तोड़कर शव को निकाला गया। गोहद थाना पुलिस ने शव को पीएम के लिए भेजते हुए चालक के परिजनों को सूचना दे दी।

यह हादसा शुक्रवार सुबह करीब नौ बजे के आस पास था। इस समय सड़क पर घना कोहरा था। ग्वालियर से बस क्रमांक एमपी 30 पी 2171भिंड की ओर रवाना हुई। गोहद चौराहा थाना क्षेत्र में बूटी कुईया के पास जैसे ही बस पहुंची। बस चालक ने वाहन को तेजी से घने कोहरे के बीच चलाते हुए सड़क के बीच का रोड सेफ्टी मार्कर को क्रॉस करते हुए वन-वे से टू-वे की ओर बढ़ गया। इसी समय भिंड से मालनपुर की ओर जा रहे खाली कंटेनर क्रमांक एमएच 20 डीइ 6568 बस चालक को ननजर नहीं आया। बस सामने से रॉन्ग साइड जाकर कंटेनर से जा भिड़ी। भिड़ंत इतनी ज्यादा तेज थी कि बस में सवार यात्रियों में चीख-पुकार मच गई। कंटेनर का ड्राइवर साइड का हिस्सा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। इस दुर्घटना में कंटेनर चालक कन्नौज उत्तरप्रदेश निवासी मनोज कुमार की मौत हो गई। शव सीट पर ही फंस कर रह गया।

घायलों को अस्पताल लेकर पहुंची पुलिस-
हादसे की सूचना मिलने पर गोहद चौराहा थाना टीआइ ओपी मिश्रा दल बल के साथ मौके पर पहुंचे। बस ड्राइवर की हालत भी गंभीर बताई जा रही है। हादसे में बस में सवार आशा बाई पत्नी बलराम सिंह निवासी भीमनगर रौन, भानु प्रताप पुत्र सरनाम चौहान निवासी रौन भीमनगर, योगेंद्र पुत्र रामचरण तोमर निवासी छींमका गोहद, जितेंद्र पुत्र भगवान सिंह तोमर निवासी छींमका, राजू पुत्र गुलाब सिंह निवासी रामपुरा गोहद, जीतू सिंह निवासी गोहद, शाहरुख खान निवासी गोहदी गोहद घायल हो गए। पुलिस ने सभी घायलों को गोहद अस्पताल भिजवाया। गोहद में प्राइमरी इलाज के बाद गंभीर हालत होने पर योगेंद्र तोमर और जितेंद्र तोमर को ग्वालियर जेएएच के लिए रेफर कर दिया गया।

एक घंटे तक चालक का फंसा रहा शव-
यह हादसा के बाद कंटेनर में ड्राइवर मनोज बुरी तरह से फंस गया था। इसी से उसकी मौत हो चुकी थी। हादसे के तत्काल बाद पुलिस ने राहत कार्य शुरू कर दिया था, लेकिन कंटेनर में ड्राइवर का शव करीब एक घंटे तक फंसा रहा। पुलिस ने जेसीबी मशीन को बुलाकर कंटेनर की बॉडी को तोड़ा और चालक के शव को वाहन निकलवाया। ड्राइवर के पास से मिले लाइसेंस से उसका नाम मालूम किया गया। पुलिस ने ड्राइवर के परिजनों को हादसे की सूचना दे दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

गाड़ियों पर डंपर पलटने से 5 घायल, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

उत्तरप्रदेश। चित्रकूट में खोह रेलवे क्रॉसिंग के निर्माणाधीन ओवरब्रिज के नीचे सोमवार को दर्दनाक हादसा हो गया। गिट्टी...

खेतों में घूम रहा तेंदुआ, ग्रामीणों में दहशत, बाहर निकलने से डर रहें लोग

उत्तरप्रदेश। बाराबंकी जिले में एक बार फिर तेंदुआ के दिखने से लोग दहशत में हैं। यहां जिले में...

सुसाइड करने जा रही युवती को पुलिस ने बचाया, राप्ती नदी में कूदने जा रही थी युवती

उत्तरप्रदेश। गोरखपुर जिले में एक बार फिर पुलिस ने एक युवती की जान बचाई है। घरवालों की बातों...

कार से मिले 22 लाख रुपए, आयकर विभाग और निर्वाचन आयोग की टीम मौके पर पहुंची

उत्तरप्रदेश। कानपुर में पुलिस को चेकिंग के दौरान कार से 25 लाख की नगदी मिली। इससे इलाके में...

Recent Comments

%d bloggers like this: