Home मध्यप्रदेश बड़ी खबर: आयुष्मान कार्ड धारी से बेजा वसूली, 80 वर्षीय व्रद्ध से...

बड़ी खबर: आयुष्मान कार्ड धारी से बेजा वसूली, 80 वर्षीय व्रद्ध से इलाज करने के बदले 60 से 70 हजार रुपये लेकर ऑपरेशन किया

कटनी। मध्यप्रदेश सरकार आयुष्मान कार्ड के जरिये हर एक गरीब वर्ग को निःशुल्क इलाज मुहैया कराने का दावा करती है, लेकिन आयुष्मान कार्ड की क्या हकीकत है, हम आपको इस खबर के माध्यम से बताते है, जिसको देखने के बाद आपके भी रोंगटे खड़े हो जाएंगे।

यह हम इसलिए कह रहे है क्यों कि सरकार गरीब वर्ग को आयुष्मान कार्ड के माध्यम से आयुष्मान कार्ड मुहैया करा रही है, लेकीन इसका कितना पालन हो रहा है और डॉक्टर और निजी क्लिनिक और राज्य सरकार से अधिकृत आयुष्मान चिकित्सालय कितना पालन कर रहे और सरकार को पलीता लगा रहे है यह आप इस खबर से समझ सकते है।

हम बात कर रहे है मध्यप्रदेश के कटनी जिले के जीजी नर्सिंग होम की जिसमे निवार पहाड़ी निवासी फदाली राम पटेल 80 वर्षीय व्रद्ध अपने पैर की जांघ की हड्डी टूट जाने पर इलाज कराने भर्ती किया जाता है, और व्रद्ध से उसका आयुष्मान कार्ड लेकर उसका इलाज करने का दावा किया जाता है, लेकिन बाद में उन्हें यह कहकर रुपये लेकर इलाज करने की बात कही जाती है कि आयुष्मान से इलाज नही होगा और व्रद्ध फदाली राम पटेल से 60 से 70 हजार रुपये ऐठ लिए जाते है।

आपको बता दे कि पहाड़ी निवार निवासी फदाली राम पटेल पेशे से रोजमर्रा मजदूरी कर अपनी पत्नी सहित घर का मुखिया है परंतु पैर में जांघ की हड्डी टूट जाने से अपंग हो गया और अब उसकी धर्मपत्नी किसी तरह सब्जी भाजी बेचकर अपना और अपने पति फदाली राम पटेल का भरण पोषण करती है चूँकि यह व्रद्ध दम्पति निःसन्तान है।

पीड़ित से बात करते समय यह जानने का प्रयास किया आपके घर मे कोई बच्चे है तो इसी बात पर बिलख पड़ी, और ऐसे व्रद्ध मरीज से जीजी नर्सिंग होम संचालक डॉक्टर विकास गुप्ता द्वारा भर्ती मरीज से रुपये की माँग कर धीरे धीरे कई किस्तो में 60 से 70 हजार रुपये वसूले जा चुके है। और ऑपरेशन के बाद डिस्चार्ज के समय 30 हजार रुपये का भुगतान करने की बात व्रद्ध मरीज की पत्नी ने कहा और किसी तरह इतनी बड़ी रकम की व्यवस्था कर 30 हजार जमा कर अपने पति को निजी नर्सिंग होम से छुट्टी कराकर घर ले जा सकी।

व्रद्ध दम्पति ने अपनी बीती पर शिकायत पत्र लेकर कटनी कलेक्ट्रेट जा पहुँची और शिकायत में कहा कि हमारे आयुष्मान कार्ड योजना का लाभ नही मिला और हमारे आयुष्मान कार्ड की I.D.-PBGWEKZ1Q से 32310₹ आयुष्मान खाते से निकाला जा चुका है, हम गरीब बूढा बूढ़ी को मेरे द्वारा दिये गए रकम को या आयुष्मान योजना की राशि ही लौटा दिया जाए ताकि हम अपना भरण पोषण आसानी से कर सके और जो कर्ज लेकर इलाज कराए है वो राशि कर्ज की चुका सके।

इस शिकायत के आधार पर कलेक्टर ने जिला अस्पताल CMHO कार्यालय को जाँच करने हेतु निर्देशित किया, और पीड़ित व्रद्ध दम्पति जिला अस्पताल CMHO कार्यालय आकर अपना बयान भी दर्ज करवा चुकी है। आयुष्मान पोर्टल पर फदाली राम पटेल की ID से ट्रांजेक्शन 32310₹ हुआ, यह देख यह साबित हुआ कि आयुष्मान योजना से फदाली राम पटेल की ID- I.D.-PBGWEKZ1Q से आहरण किया गया है।

इस पर कटनी जिला अस्पताल CMHO डॉक्टर प्रदीप मुड़िया ने कार्यवाही करने और पीड़िता को अवैध रूप से लिये गए पैसे वापस करवाने की बात कही है। बात सरकार गरीबो के कल्याण हेतु योजनाएं संचालित कराने की बात करती है और सरकार से अधिकृत संस्थान गरीबो का खून चूसकर अपनी जेब भरते और मोटी कमाई करते है और सरकार की योजनाए विफल होती है अतः सरकार को ऐसे निजी संस्थानों पर सख्त कार्यवाही करना होगा ताकि आम गरीब इंसान कहि लुटा न जा सके।

(कटनी ब्यूरो विनोद दुबे की रिपोर्ट)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

छतरपुर जिले का कोरोना अपडेट: सोमवार को छतरपुर जिले में निकले 35 कोरोना पॉजिटिव केस

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले में सोमवार को जिले में 35 कोरोना पॉजिटिव केस निकले, जिसमे शहर में 13 केस,...

ब्रेकिंग न्यूज: कांग्रेस पार्टी ऑटो चालकों की समस्या दूर करने आई आगे, बैठक में ऑटो चालको ने बताई अपनी परेशानियां

मध्यप्रदेश। कटनी शहर के ऑटो चालक इन दिनों आरटीओ विभाग द्वारा आए दिन दी जाने वाली आर्थिक प्रताड़ना...

विचार व विवेक: नास्तिकता और विज्ञानवाद में भेद है

डेस्क न्यूज। पृथिवी के प्रत्येक देश में कोई न कोई एक ऐसा आध्यात्मिक विचारक उत्पन्न हुआ है कि...

सवारियों से भरी बस और ट्रक की आमने सामने भिड़ंत, कई यात्री घायल, टला बड़ा हादसा

मध्यप्रदेश। कटनी जिले में बड़ा हादसा घटित हुआ है। यहां बस ट्रक की आमने सामने भिड़ंत में कुछ...

Recent Comments

%d bloggers like this: