Home मध्यप्रदेश बड़ी खबर: बलराम तालाब के नाम पर खेतों से अवैध मुरूम, मिट्टी...

बड़ी खबर: बलराम तालाब के नाम पर खेतों से अवैध मुरूम, मिट्टी उत्खनन कर रहे रेलवे के ठेकेदार

मध्यप्रदेश। कटनी जिले के रीठी में ग्रामीण किसानों को पैसे का लालच,देकर मुरूम व मिट्टी निकाल खेतो को बिगाड़ रहे रेलवे के ठेकेदार किसान ने ग्राम पंचायत द्वारा लेटर पैड पर यह कहकर लिखवाया की मुझे तहसीलदार के यंहा बलराम तालाब खोदने के ग्राम व खुद की जमीन है के दस्तावेज दिखाना है की आड़ में खेतों से अवैध मुरूम मिट्टी खनन कर रहे रेल्वे ठेकेदार लाखो की कर रहे राजस्व शुल्क की चोरी।

ज्ञात हो रीठी कटनी बीना रेलखण्ड निर्माणाधीन तीसरी रेल लाईन में मुरूम, मिट्टी डालने का काम पिछले कई माह से जारी है। संबंधित ठेकेदार द्वारा देत्त्याकार मशीनों की मदद से इतनी बड़े पैमाने पर उत्खनन कर डाला की वहां पर संचालित शासकीय प्राथमिक सैटेलाइट प्राथमिक शाला को भी नहीं बख्शा गया।

यह पूरा मामला कटनी जिले की रीठी तहसील क्षेत्र अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत कैना उजियारपुरा का है। जहां महीनों से रेलवे ठेकेदार द्वारा रॉयल्टी बचाने के चक्कर में साठगांठ के चलते अवैध उत्खनन किया गया।शाला भवन से महज 5 फुट ही बाकी रह गया है। वरना बिल्डिंग भी गिर सकती थी। बरसात के समय यहां पानी के भराव से स्कूल में पढ़ने वाले छोटे बच्चों या किसी अन्य के साथ कोई भी बड़ा हादसा भी हो सकता है। मीडिया कर्मियों ने वहां मौजूद रेलवे ठेकेदार के कर्मचारियों से जानकारी ली गई तो उन्होंने ग्राम पंचायत कैना के लेटर पैड पर भगवानदास पिता नत्थू चढ़ार। बलराम तालाब की जानकारी के साथ खसरा, रकवा भी दिखाया गया।

वहीं कैना सचिव भोलाराम चढ़ार से जानकारी लेने पर उन्होंने ऐसा कुछ भी नहीं होना बताया उन्होंने बताया कि भगवान दास पिता नत्थू चढ़ार द्वारा कहा गया कि मुझे बलराम तालाब खुदवाना है तहसीलदार रीठी को ग्राम पंचायत के लेटर पेड में अपनी जमीन पर बलराम तालाब योजना का लाभ लेना है। इसलिए लिख दिया सचिव ने कहा कि बलराम तालाब कृषि विभाग व भूसरंक्षण विभाग से होता है इसमें ग्राम पंचायत का वर्तमान में कोई संबंध नही है।

जब बलराम तालाब स्वीकृति विषय पर कृषि विभाग के कृषि विस्तार अधिकारी रीठी श्री टेकाम ने बात कही तो उन्होंने कहा कि ऐसी योजना हमारे विभाग से वर्तमान में चालू नही है यह योजना भू संरक्षण विभाग ही करता है हम लोग केवल स्वीकृति होने पर कृषक को तकनीकी स्वीकृति देते हैं निर्माण कार्य से हमे कोई लेना देना नही है वही भू सरंक्षण विभाग कटनी के प्रमुख श्री वर्मा जी से कैना के ग्राम उजयार पूरा में चल रहे बलराम तालाब स्वीकृति व खनन के बारे में पूंछा गया तो उन्होंने कहा हमारे विभाग से उक्त ग्राम में कोई बलराम तालाब की स्वीकृति प्रदान नही की गई।

बताया गया कि रीठी शिक्षा विभाग को पूर्व में संबंधित शाला के शिक्षक द्वारा स्कूल परिसर से सटाकर खनन किये जाने शिकायत की गई थी जिस पर रीठी शिक्षा विभाग इस पर तहकीकात कर अग्रिम कार्यवाही हेतु प्रयास किया गया लेकिन आगे सब ठंडे बस्ते में मामला शांत हो गया अब सवाल यह उठता है कि जब किसी भी विभाग को इसकी भनक तक नहीं लगी तो ग्राम पंचायत की एनओसी रेलवे ठेकेदारों के पास क्या कर रही है।

विश्वनीय सूत्रों की माने तो रेलवे ठेकेदार कोई उत्तरप्रदेश के मैनपुरी इलाके से आते हैं जो एक पार्टी के बड़े नेता व विधयक बताये गए हैं जिनका काम बेखौफ अवैध रूप से धड़ल्ले से लगभग एक हेक्टेयर भूमि से अधिक पर अवैध मुरुम मिट्टी का खनन दर्जनों हाइवा, जेसीव्ही मशीन लगाकर बड़े पैमाने कर रहे जिससे शासन को लाखों रुपये राजस्व की क्षति पहुचने से नही चूक रहे।

जबकि स्थानीय रीठी पुलिस प्रशासन व तहसीलदार रीठी को उक्त अवैध खनन की जानकारी होने के बाद भी अपनी जिम्मेदारी न निभाते हुए अभी तक खनन रोकने या उसकी सच्चाई तक पहुचने की कोशिश नही कर रहे वहीं किसानों को पैसो का लालच देकर उनके खेतों की मुरूम निकाली जा रही है। अब देखना होगा कि ऊपर बैठे संबंधित अधिकारी इस विषय पर क्या कार्रवाई करते हैं। या फिर ऐसे ही अवैध उत्खनन होता रहेगा या फिर स्कूल के पास हुए उत्खनन से कोई बड़े हादसे के इंतजार में है करेगा।

इनका कहना-
मुझे अवैध खनन की जानकारी आपके द्वारा दी गई है शीघ्र ही विजिट कर मामले की जांच की जाएगी ग्राम पंचायत कैना व किसान से जमीन के दस्तावेज बलराम तालाब की स्वीकृति तथा रेलवे ठेकेदार से मामले को संज्ञान लिया जाएगा अवैध उत्खखन पर वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।
प्रिया चंद्रावत- एसडीएम रीठी।

(कटनी ब्यूरो विनोद दुबे की रिपोर्ट)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

चचेरे भाई के हत्यारे समेत चार को उम्रकैद

उत्तरप्रदेश। अलीगढ़ जिले में 10 बीघा पुश्तैनी जमीन के लिए अपने दोस्तों के साथ मिलकर चचेरे भाई की...

महिला और वकील के बीच हुई नोक-झोंक, मकान के सिलसिले में 17 हजार रुपए लिया था, तब से गायब था वकील: पीड़ित महिला

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिला मुख्यालय पर महिला और वकील की तीखी नोक-झोंक और झूमा-झटकी का...

SI के बेटे ने खुद को मारी गोली, मौके पर ही हुई मौत

मध्यप्रदेश। इंदौर में SI के बेटे ने खुद को गोली मार ली। इस घटना में उसकी मौत हो...

नई शराब नीति का प्रदेश में जमकर हो रहा विरोध, युवाओं को शराब के नशे की ओर धकेल रही यह सरकार, कटनी में आम...

मध्यप्रदेश। प्रदेश में नई शराब नीति का विरोध शुरू हो गया। विगत दिवस कटनी जिले में आम आदमी पार्टी...

Recent Comments

%d bloggers like this: