Home खबरों की खबर अन्य खबरे मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने दिया सुझाव, गांव- गांव एंबुलेंस भेजें जिसमें...

मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने दिया सुझाव, गांव- गांव एंबुलेंस भेजें जिसमें जांच किट, दवा और वैक्सीन तीनों हों, मुख्यमंत्री बोले जल्द होगा अमल

मध्यप्रदेश। सोमवार को सागर आए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से जिले के प्रतिनिधियों ने कोविड की रोकथाम और तीसरी लहर की तैयारियों को लेकर भी सुझाव दिए। राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने सुझाव दिया कि गांव में संक्रमण रोकने के लिए विशेष ध्यान दिया जाए।

ऐसी व्यवस्था हो कि एक ही एंबुलेंस में कोरोना की जांच किट, दवाओं की किट और वैक्सीन के डोज की व्यवस्था हो। यह एंबुलेंस गांव-गांव घूमे ताकि लोगों का वैक्सीनेशन करवाया जा सके। जो संदिग्ध हैं उनकी जांच हो सके और उन्हें दवाओं की किट का वितरण भी सुनिश्चित हो।

ऐसा होने से गांव में संक्रमण की चेन पूरी तरह से खत्म हो जाएगी। जिले के कोविड प्रभारी पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव ने समर्थन करते हुए कहा कि राजपूत का यह सुझाव उचित है। जिस पर मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया कि इस पर विचार होगा। 1 जून से अनलॉक होने के साथ ही इस पर अमल करने का आश्वासन भी उन्होंने मंत्री को दिया।

राजपूत ने मुख्यमंत्री से यह भी कहा कि बीएमसी को लेकर अक्सर लोगों की शिकायतें आती रहती हैं परंतु यह इसकी प्रतिष्ठा बनाने का भी समय है। सर्वश्रेष्ठ उपचार देकर ऐसा किया जा सकता है। उन्होंने सागर कमिश्नर की भी तारीफ करते कि उन्होंने कुछ हद तक व्यवस्था सुधारी हैं। इस पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि बीएमसी में सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त हों, जिससे लोगों का विश्वास अस्पताल के प्रति बढ़े।

जिला अस्पताल की 7 एकड़ जगह बीएमसी को ट्रांसफर करने पर सीएम सहमत, तत्काल निर्णय के आदेश-
समीक्षा बैठक के दौरान शैलेंद्र जैन ने दो बिंदुओं पर माननीय मुख्यमंत्री का ध्यान आकर्षित किया। उन्होंने कहा कि बीएमसी का हॉस्पिटल 750 बिस्तर का है। इसे बढ़ाकर 1100 किया जाना है परंतु स्थान के अभाव में 400 बिस्तर का अस्पताल भवन बन नहीं पा रहा है।

जिला अस्पताल की 7 एकड़ भूमि की हस्तांतरण फाइल लगभग 1 साल से भोपाल में लंबित है। यदि यह भूमि कॉलेज को मिल जाती है तो इस समस्या का समाधान हो जाएगा। जिस पर माननीय मुख्यमंत्री ने तत्काल निर्णय करने के आदेश दिए।

जैन ने कहा तीसरी लहर को देखते हुए जिला अस्पताल को दोबारा 400 बिस्तर का किया जाए। वर्तमान में इसे 100 बिस्तर का कर दिया गया है। जबकि पूर्व में 400 बिस्तर का सर्व सुविधायुक्त अस्पताल संचालित हो रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

थाना अलीपुरा पुलिस द्वारा अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले में पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशन तथा एसडीओपी नौगांव के मार्गदर्शन में...

कट्टा लेकर घूम रहा यूवक पकड़ाया, सिविल लाइन पुलिस की कार्यवाही

मध्यप्रदेश। छतरपुर पुलिस अधीक्षक एवं अति. पुलिस अधीक्षक के निर्देशन मे एवं श्रीमान नगर पुलिस अधिक्षक के...

मासूम को कुचलने वाले ड्राइवर को नौकरी से निकाला

मध्यप्रदेश। ग्वालियर नगर निगम की कचरा गाड़ी से दो साल की बच्ची को कुचलने के मामले पर...

Recent Comments

%d bloggers like this: