Home खबरों की खबर अन्य खबरे महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक घोटाले में अजित पवार पर कसा शिकंजा, ED...

महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक घोटाले में अजित पवार पर कसा शिकंजा, ED ने अटैच की पत्नी की शुगर मिल, जल्द हो सकती है डिप्टी CM से पूछताछ

पुणे। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने महाराष्ट्र राज्य को ऑपरेटिव बैंक घोटाला मामले में उपमुख्यमंत्री अजित पवार से जुड़ी 65.75 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की है। इनमें कोरेगांव के चिमनगांव स्थित चीनी मिल की जमीन, इमारत, प्लांट और मशीन शामिल हैं। ये प्रॉपर्टी 2010 में इसी कीमत पर खरीदी गईं थीं। इस मामले में अजित पवार ने कहा कि उन्हें जांच एजेंसी की ओर से कोई नोटिस नहीं मिला है और उन्हें इसकी जानकारी नहीं है।

प्रवर्तन निदेशालय ने एक बयान में कहा कि जब्त संपत्तियों का मालिकाना हक मेसर्स गुरु कमोडिटी सर्विस प्राइवेट लिमिटेड के पास है और इसे मेसर्स जरंडेश्वर सहकारी शुगर कारखाना (जरंडेश्वर एसएसके) को लीज पर दिया गया है। ED के मुताबिक, जरंडेश्वर सहकारी शक्कर कारखाने की ज्यादातर हिस्सेदारी मेसर्स स्पार्कलिंग सॉयल प्राइवेट लिमिटेड के पास है, जो महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार और उनकी पत्नी सुनेत्रा पवार से जुड़ी हुई है।

मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रही है ED
इस मामले में मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने 2019 में एक FIR दर्ज की थी। ED इसी के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज कर छानबीन कर रही है। ED का दावा है कि 2010 में महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक ने जरंडेश्वर सहकारी शक्कर कारखाने को नीलाम किया था, लेकिन जानबूझकर इसकी कीमत कम तय की गई।

जांच एजेंसी के मुताबिक, पवार महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में शामिल थे और प्रभावशाली लोगों में से हैं। सहकारी शक्कर कारखाना गुरु कमोडिटी सर्विसेस लिमिटेड ने खरीद लिया और तुरंत इसे जरंडेश्वर सहकारी शक्कर कारखाने को लीज पर दे दिया।

अजित पवार पर फर्जी कंपनी बनाने का आरोप-
आरोप है कि इसका मालिकाना अधिकार पाने के लिए अजित पवार और उनकी पत्नी ने मेसर्स गुरु कमोडिटी सर्विस प्राइवेट लिमिटेड नाम की फर्जी कंपनी बनाई। इसके अलावा जरंडेश्वर शक्कर कारखाने के जरिए सहकारी शक्कर कारखाने के नाम पर पुणे जिला केंद्रीय को ऑपरेटिव बैंक से 700 करोड़ रुपए का कर्ज ले लिया।

पवार परिवार ने चीनी मिलों पर किया है कब्जाः सोमैया-
इस मामले में भाजपा नेता किरीट सोमैया ने कहा कि ED ने अजित पवार की बेनामी शक्कर कारखाने की संपत्ति जब्त की है। शरद पवार के परिवार ने सहकारी बैंक में घोटाला कर ऐसे कई शक्कर कारखाने अपने नाम किए हैं। रोहित पवार ने इसी तरह से एक शक्कर कारखाना अपने कब्जे में लिया है इसकी भी जांच होनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बढ़ती महंगाई को लेकर महिला कांग्रेस ने छत्रसाल चौक कांग्रेस कार्यालय के बाहर बैठकर पहले सेकी रोटी,घरेलू गैस सिलेंडर पर पहनाई माला, फिर रोटी...

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिला मुख्यालय पर महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुषमा देवी के निर्देश पर महिला कांग्रेस...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की गोद ली हुई 3 बेटियों की शादी आज, शिवराज सिंह चौहान पत्नी साधना सिंह के साथ करेंगे कन्यादान

तीनों दत्तक बेटियों के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनकी पत्नी साधना सिंह।

प्रधानमंत्री ने नरेंद्र मोदी ने बाराणसी में कहा- कोरोना की दूसरी लहर को UP ने जिस तरह संभाला वह अभूतपूर्व है

उत्तरप्रदेश। वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज काशी में हैं। यहां उन्होंने जापान और भारत की दोस्ती...

Recent Comments

%d bloggers like this: