Home खबरों की खबर अन्य खबरे लोक निर्माण विभाग में हुए भ्रष्टाचार की होगी जांच, लोक निर्माण राज्यमंत्री...

लोक निर्माण विभाग में हुए भ्रष्टाचार की होगी जांच, लोक निर्माण राज्यमंत्री सुरेश धाकड़ ने दिए जांच के आदेश

लोक निर्माण राज्यमंत्री ने जांच के दिए आदेश

मध्यप्रदेश। टीकमगढ़ जिले में 28 मई को प्रवास के दौरान लोक निर्माण राज्य मंत्री एवं जिले के प्रभारी कोविड मंत्री सुरेश धाकड़ से जिले के जन प्रतिनिधियों ने शिकायत की थी कि लोक निर्माण विभाग टीकमगढ़ के अधिकारियों द्वारा सड़क निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार किया जा रहा है। जिसे गंभीरता से लेते हुए राज्यमंत्री ने जांच के आदेश दिए हैं। भाजपा नेता विकास यादव ने बताया कि 28 मई को राज्यमंत्री जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक के लिए टीकमगढ़ प्रवास पर आए थे।

इस दौरान लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों द्वारा टीकमगढ़- अहार- नारायणपुर मार्ग एवं टीकमगढ़- सुधासागर- अहार मार्ग के निर्माण कार्य में किए गए भ्रष्टाचार की शिकायत मंत्री सुरेश धाकड़ से की थी। शिकायत में लोगों ने बताया था कि टीकमगढ़ अहार नारायणपुर मार्ग पर डामरीकरण के लिए साल 2017-18 में अनुबंध किया गया था, लेकिन मार्ग की स्थिति अच्छी होने के कारण निरीक्षण के बाद अधीक्षणयंत्री लोक निर्माण विभाग नौगांव द्वारा उक्त मार्ग का डामरीकरण निरस्त कर दिया गया था।

माह जून-जुलाई 2020 में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना विभाग द्वारा उक्त दोनों मार्गों पर चौड़ीकरण एवं सीसी रोड़ के टेंडर लगाए गए। जिसका कार्य अक्टूबर-नवम्बर 2020 में शरू हुआ। इस दौरान लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों द्वारा कागजों में फर्जी डामरीकरण दिखाकर दिसंबर 2020 में करोड़ों रुपए का भुगतान प्राप्त कर लिया गया है।

माप पुस्तिका में फर्जी माप चढ़ाकर एवं देयक बनाकर भुगतान संबंधी औपचारिकताएं पूरी कर खुला भ्रष्टाचार किया गया है। टीकमगढ़-सुधासागर-अहार मार्ग पर ठेकेदार की गारंटी होने के बाद भी फर्जी देयक तैयार किए गए, जो जांच का विषय है। मूल अनुबंध जिसमें काम होना था निरस्त होने के बाद भी फर्जी तरीके से डामरीकरण किया गया, जबकि लगभग एक साल पहले ही इस मार्ग पर डामरीकरण किया गया था।

शिकायत पर कार्रवाई करते हुए लोक निर्माण राज्य मंत्री द्वारा मुख्य अभियंता लोक निर्माण विभाग सागर संभाग (सागर) को पत्र भेजकर दोनों मार्गों के निर्माण में गुणवत्ताविहीन सामग्री का उपयोग किए जाने, शासन के मापदण्डों के अनुरूप मार्ग निर्माण नहीं किए जाने की जांच कराने तथा टेंडर प्रक्रिया व भुगतान से संबंधित दस्तावेज एवं एमबी अवलोकन के लिए संबंधित अधिकारी के हस्ते उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

मालपीथा पंचायत में मनरेगा और विकास कार्यों के भ्रष्टाचार की अब तक नहीं हुई जांच-
जतारा जनपद की ग्राम पंचायत मालपीथा के विकास कार्यों में राशि का गबन किया गया है। जिसकी जांच को लेकर जिला पंचायत सीईओ ने कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग टीकमगढ़ व सहायक यंत्री जनपद पंचायत बल्देवगढ़ को पत्र लिखा है।

जिसमें शिकायत में दर्शाए गए बिंदुओं की जांच कर अपनी रिपोर्ट 5 दिन में प्रस्तुत करने के निर्देश दिए थे। जिससे आगे की कार्रवाई के लिए कलेक्टर टीकमगढ़ को अवगत कराया जा सके। जांच में सीसी रोड निर्माण कार्य साहू के मकान से राकेश तिवारी के मकान तक, कल्लू कुम्हार के मकान से आंगनबाड़ी तक, भूपत के मकान से राकेश तिवारी के मकान तक में स्वीकृत राशि से अधिक राशि सरपंच व सचिव द्वारा निकालने का आरोप लगाया गया है। इसी प्रकार सुदूर सड़क निर्माण कार्य महर्षि स्कूल से शांति धाम तक में भी अनियमितताएं होना उल्लेख किया गया है।

साथ ही साथ मालपीथा गांव में मनरेगा योजना के 63 कार्यों में उपयंत्री रमाशंकर गुप्ता एवं सहायक यंत्री देवानंद शुक्ला द्वारा फर्जी पूर्णतः प्रमाणपत्र जारी किए गए हैं। गाेलू राजा बुंदेला ने आरोप लगाया कि जिन लोगों ने गांव के निर्माण कार्यों में भ्रष्टाचार किया है। उन्हीं अधिकारियों ने शनिवार को मालपीथा पहुंचकर जांच की। गौरतलब है कि इसी मामले में कलेक्टर सुभाष कुमार द्विवेदी ने भी 8 अप्रैल को जनपद सीईओ जतारा को पत्र लिखकर जांच प्रतिवेदन 7 दिन में सौंपने के निर्देश दिए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

जनपद पंचायत छतरपुर में पदस्थ प्रदीप कुमार पाठक सहायक ग्रेट-3 एवं पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग में पदस्थ DEO जी.पी कुशवाहा हुए रिटायर्ड, जनपद...

मध्यप्रदेश। छतरपुर जनपद पंचायत में सहायक ग्रेड-3 के पद पर पदस्थ रहे प्रदीप कुमार पाठक का कार्यकाल...

पौधे रोपकर शुरू किया पंच-ज अभियान, पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश

छतरपुर ज.सं। म.प्र. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार प्रधान जिला न्यायाधीश सह अध्यक्ष जिला विधिक...

नेशनल लोक अदालत के आयोजन के लिए हुई बैठक

छतरपुर ज.सं। राष्ट्रीय और राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार आगामी 11 सितम्बर को जिला न्यायालय छतरपुर...

नगरीय निकायों के विकास कार्यों की हुई समीक्षा

छतरपुर ज.सं। कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने छतरपुर जिले के सभी नगरीय निकायों के सीएमओ से साथ आज...

Recent Comments

%d bloggers like this: