Home मध्यप्रदेश वनवासी लीलाओं की 2 दिवसीय प्रसतुति, 89 ब्लॉक्स में संस्कृति विभाग शबरी...

वनवासी लीलाओं की 2 दिवसीय प्रसतुति, 89 ब्लॉक्स में संस्कृति विभाग शबरी और निषादराज गुह्य की लीलाओं का करेगा आयोजन

छतरपुर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशन में संस्कृति विभाग द्वारा तैयार रामकथा साहित्य में वर्णित वनवासी चरित्रों पर आधारित वनवासी लीलाएं क्रमशः शबरी और निषादराज गुह्य की प्रस्तुतियां जिला प्रशासन के सहयोग से प्रदेश के 89 जनजातीय ब्लॉकों में होंगी। इस क्रम में जिला प्रशासन छतरपुर के सहयोग से दो दिवसीय वनवासी लीलाओं की प्रस्तुतियां 9 एवं 10 मई, 2022 को अंबेडकर भवन, किशोर सागर मार्ग, छतरपुर में आयोजित की जा रही है।

प्रस्तुतियों की श्रृंखला में सर्वप्रथम 9 मई 2022 को अंजली शुक्ला, छतरपुर द्वारा भक्तिमती शबरी एवं 10 मई, 2022 को संदीप श्रीवास्तव-टीकमगढ़ द्वारा निषादराज गुह्य की प्रस्तुति दी जा रही है। इन दोनों ही प्रस्तुति का आलेख श्री योगेश त्रिपाठी एवं संगीत संयोजन श्री मिलिन्द त्रिवेदी द्वारा किया गया है।

कार्यक्रम के पहले दिन 9 मई, 2022 को वनवासी लीला नाट्य भक्तिमती शबरी की प्रस्तुति दी गई। लीला नाट्य भक्तिमति शबरी कथा में बताया कि पिछले जन्म में माता शबरी एक रानी थीं, जो भक्ति करना चाहती थीं लेकिन माता शबरी को राजा भक्ति करने से मना कर देते हैं। तब शबरी मां गंगा से अगले जन्म भक्ति करने की बात कहकर गंगा में डूब कर अपने प्राण त्याग देती हैं। अगले दृश्य में शबरी का दूसरा जन्म होता है और गंगा किनारे गिरि वन में बसे भील समुदाय को शबरी गंगा से मिलती हैं।

भील समुदाय़ शबरी का लालन-पालन करते हैं और शबरी युवावस्था में आती हैं तो उनका विवाह करने का प्रयोजन किया जाता है लेकिन अपने विवाह में जानवरों की बलि देने का विरोध करते हुए, वे घर छोड़ कर घूमते हुए मतंग ऋषि के आश्रम में पहुंचती हैं, जहां ऋषि मतंग माता शबरी को दीक्षा देते हैं। आश्रम में कई कपि भी रहते हैं जो माता शबरी का अपमान करते हैं। अत्यधिक वृद्धावस्था होने के कारण मतंग ऋषि माता शबरी से कहते हैं कि इस जन्म में मुझे तो भगवान राम के दर्शन नहीं हुए, लेकिन तुम जरूर इंतजार करना भगवान जरूर दर्शन देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

खून से लथपथ मिली थी पल्लेदार की लाश, परिजनों को हत्या की आशंका

मध्यप्रदेश। दमोह जिला मुख्यालय के नया बाजार नंबर 3 में रहने वाले एक बुजुर्ग पल्लेदार का शव कचोरा...

मजदूरी कर लौट रहा था युवक, आरोपी ने गाली देकर शुरू किया विवाद, मारी चाकू

मध्यप्रदेश। दमोह कोतवाली थाने के बड़ापुरा इलाके में रविवार रात मजदूरी कर लौट रहे युवक को पड़ोसी ने...

फूड पॉइजनिंग से 2 बच्चियों की मौत, 12 की हालत गंभीर

मध्यप्रदेश। छिंदवाड़ा जिले के पांढुर्णा में फूड पॉइजनिंग से दो बच्चियों की मौत हो गई। दोनों ने शादी...

धर्मांतरण मामले में गृहमंत्री का एक्शन, इंटेलिजेंस को प्रदेश के सभी मिशनरी स्कूल पर नजर रखने को कहा

मध्यप्रदेश। भोपाल में सामने आई धर्मांतरण की घटना के बाद मध्यप्रदेश में संचालित सभी मिशनरी स्कूल सरकार की...

Recent Comments

%d bloggers like this: