Home खबरों की खबर अन्य खबरे संक्रमित पानी पूरी बेचने वाले ने बांटा संक्रमण, एक साथ 11 लोग...

संक्रमित पानी पूरी बेचने वाले ने बांटा संक्रमण, एक साथ 11 लोग निकले पॉजिटिव, रेड जोन बनाकर कलेक्टर ने कराई तारबंदी

रेड जोन में तारबंदी कराते पुलिस और प्रशासनिक अफसर।

मध्यप्रदेश। जहां प्रदेश के शहरों में लॉकडाउन की वजह से ठेले पर खाने-पीने की सामग्री पर रोक लगी है पर ग्रामीण क्षेत्रों में कोई रोक नहीं है। इसका असर भी दिख रहा है। रीवा के मऊगंज में संक्रमित हाथ ठेले वाले ने लोगों को पानी पूरी खिलाता रहा। इसकी वजह 11 लाख संक्रमित हो गए। सभी एक ही वार्ड के हैं। ठेले वाले के परिजन संक्रमित थे, इसके बाद भी वह पानी पूरी बेचता रहा।

मऊगंज नगर पंचायत क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 5 में एक साथ इतनी बड़ी संख्या में पॉजिटिव मिलने की सूचना के बाद बुधवार की शाम कलेक्टर इलैया राजा टी पहुंचे। पूरे वार्ड को रेड जाने घोषित कर दिया।

मऊगंज नगर पंचायत क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 5 पहुंचे कलेक्टर और विधायक

इसके बाद गुरुवार को एएसपी मऊगंज विजय डाबर और एसडीओपी मऊगंज शैलेन्द्र शर्मा ने मोहल्ले की भौगोलिक स्थित तैयार कर 5 से 6 गलियों में तारबंदी कर मार्ग को बंद कर दिया है। साथ ही मोहल्ले में आम लोगों के आने जाने पर पाबंदी लगा दी गई है। वहीं स्वास्थ्य विभाग सैंपल लेना शुरू कर दिया। आशंका व्यक्त की जा रही है कि और संक्रमित मिलेंगे।

क्या है मामला-
मऊगंज वार्ड क्रमांक 5 स्थित रामलीला मैदान के समीप एक युवक सकरी गली में चोरी छिपे गोल गप्पे का ठेला लगाता था। वह बीमार पड़ा तो उसने कारोना की जांच कराई। उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उसके परिवार के लोग भी बीमार थे। लेकिन वह क्वारैंटाइन होने की जगह पानी पूरी बेचता रहा।

लोग पानी पूरी खाते रहे और संक्रमण बढ़ता गया। तीन दिन पहले एक वार्ड से 6 लोग कोरोना संक्रमित निकले तो स्वास्थ्य विभाग की नींद टूटी। मौका मुआयना कर हिस्ट्री खंगाली गई तो ठेले का रहस्य सामने आया। फिर स्थानीय प्रशासन ने सख्ती से ठेलेवाले को होम आइसोलेट कर बाकी को क्वारैंटाइन कराया गया। साथ ही जांच बढ़ाई तो फिर 11 पॉजिटिव सामने आए।

वार्ड क्रमांक 5 में तारबंदी करते कर्मचारी।

इधर पूरे मामले की जानकारी कुछ भाजपा समर्थकों ने मऊगंज विधायक प्रदीप पटेल को दी। उन्होंने कलेक्टर से बात कर तत्काल कोरोना काबू कराने की बात कही। कलेक्टर इलैया राजा टी और विधायक प्रदीप पटेल ने कोरोना प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया। इसमें स्थानीय प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई। ऐसे में कलेक्टर ने मऊगंज एसडीएम और नगर पंचायत सीएमओ पर नाराजगी जाहिर की।

उन्होंने तत्काल मोहल्ले के सभी मार्गों को सील कराते हुए रेड जाेन बना दिया। सड़कों पर बैरिकेडिंग और तारबंदी की गई। वहीं सख्त पाबंदी के लिए पुलिस बल तैनात किया गया। कलेक्टर ने कहा कि मोहल्ले में अब आने जाने पर पूर्ण पाबंदी रहेगी। जब तक वार्ड क्रमांक 5 में कोरोना कंट्रोल नहीं हो जाता है। इसके बाद 5 नंबर वार्ड से जुड़े अन्य वार्डों में फोकस किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

थाना अलीपुरा पुलिस द्वारा अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले में पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशन तथा एसडीओपी नौगांव के मार्गदर्शन में...

कट्टा लेकर घूम रहा यूवक पकड़ाया, सिविल लाइन पुलिस की कार्यवाही

मध्यप्रदेश। छतरपुर पुलिस अधीक्षक एवं अति. पुलिस अधीक्षक के निर्देशन मे एवं श्रीमान नगर पुलिस अधिक्षक के...

मासूम को कुचलने वाले ड्राइवर को नौकरी से निकाला

मध्यप्रदेश। ग्वालियर नगर निगम की कचरा गाड़ी से दो साल की बच्ची को कुचलने के मामले पर...

Recent Comments

%d bloggers like this: