Home मध्यप्रदेश संगठन के सामने निकला विधायकों का दर्द, जमकर ब्यूरोक्रेसी के खिलाफ फूटा...

संगठन के सामने निकला विधायकों का दर्द, जमकर ब्यूरोक्रेसी के खिलाफ फूटा गुस्सा, ग्वालियर-चंबल के विधायक ने कहा- कलेक्टर हमारी नहीं सुनते

मध्य प्रदेश। भाजपा ने मिशन 2023 की मैदानी रणनीति बनाने से पहले विधायकों का फीडबैक लिया। इसके लिए पार्टी के राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, प्रदेश प्रभारी पी मुरलीधर राव और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने विधायकों से वन-टू-वन चर्चा की। विधायकों से सवाल कॉमन थे। पंचायत से लेकर विधानसभा चुनाव तक की तैयारी से जुड़े सवाल किए गए। अधिकतर विधायकों ने जवाब देने से पहले अपना दर्द बयां कर दिया।

पार्टी सूत्रों ने बताया कि ग्वालियर-चंबल संभाग के विधायकों ने कहा कि सरकार में काम नहीं होते हैं। जनता के बीच जाने का सबसे मजबूत आधार उनके काम होना होता है, लेकिन अफसर तवज्जो नहीं देते। एक विधायक ने तो यहां तक कहा कि प्रमुख सचिव और कलेक्टर विधायकों की सुनते तक नहीं हैं। इसी तरह महाकौशल क्षेत्र के विधायकों ने कहा कि इस अंचल से सरकार में प्रतिनिधित्व होना चाहिए।

क्यों बदला गया बैठक का समय?
BJP के बड़े नेताओं के बीच इसे लेकर चर्चा है कि विधायकों की बैठक दोपहर को होने वाली थी, लेकिन अचानक इसका समय शाम 5 बजे हो गया, जबकि सभी विधायक सुबह 11 बजे BJP कार्यालय पहुंच गए थे। विधायकों से वन-टू-वन चर्चा भी देर से शुरू की गई। दोपहर करीब 12 बजे विधायकों को बताया कि 6 संभागों की संयुक्त बैठक शाम को होगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश से बाहर थे, उनके आने के बाद बैठक शुरू हुई।

पार्टी सूत्रों का कहना है कि विधायकों की बैठक 24 व 25 नवंबर को होनी है, यह 6 दिन पहले संगठन स्तर पर तय हो गया था। BJP कार्यालय से इसकी विधिवत सूचना भी विधायकों को भेज दी गई थी। ऐसे में मुख्यमंत्री का 24 नवंबर को तमिलनाडु धार्मिक यात्रा पर जाने को लेकर संगठन पर सवाल खड़े हो रहे हैं। BJP में इसको लेकर भी चर्चा है कि विधायकों की बैठक का समय बदलने की एक वजह मुख्यमंत्री का मौजूद नहीं होना था।

राष्ट्रीय महामंत्री बीएल संतोष 28 से 30 नवंबर तक एमपी के दौरे पर
BJP के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष तीन दिन 28 से 30 नवंबर तक प्रवास पर मध्यप्रदेश आएंगे। इस प्रवास के दौरान वे 28 नवंबर को ग्वालियर में RSS प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात कर सकते हैं। वे इस दौरान संगठन पदाधिकारियों की बैठक ले सकते हैं।
राष्ट्रीय संगठन महामंत्री के अचानक मध्यप्रदेश प्रवास को लेकर भी कई अटकलें चल रही हैं। कहा जा रहा है कि प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के बाद विधायकों की नराजगी संतोष के आने की बड़ी वजह हो सकती है। संतोष ग्वालियर में RSS प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात करेंगे। वहीं, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी 27 नवंबर को ग्वालियर प्रवास पर रहेंगे। इसको लेकर BJP के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि 26 नवंबर को होने वाली प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में भी राष्ट्रीय महामंत्री के कार्यक्रम की रूपरेखा पर चर्चा होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

करतारपुर साहिब में पाकिस्तानी मॉडल का फोटोशूट मामले में विरोध के बाद स्वाला लाला ने मांगी माफी, भारत ने पाकिस्तानी राजनयिक को तलब किया

चंडीगढ़ एजेंसी। पाकिस्तान स्थित श्री करतारपुर साहिब गुरुद्वारे में पाकिस्तानी मॉडल स्वाला लाला के फोटोशूट करने पर भारत...

ससुराल गए युवक की संदिग्ध मौत, हत्या के आरोप, देवरिया हाईवे जाम

उत्तरप्रदेश। गोरखपुर में ससुराल गए युवक की संदिग्ध मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों...

आगरा में फ्लैट में मिला 60 साल की महिला का शव, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

उत्तरप्रदेश। आगरा के थाना छत्ता अंतर्गत जीवनी मंडी में मंगलवार को फ्लैट में एक 60 साल की महिला...

Recent Comments

%d bloggers like this: