Home खबरों की खबर अन्य खबरे समय के महत्व क़ो जिस किसी ने समझ लिया वह व्यक्ति सफलता...

समय के महत्व क़ो जिस किसी ने समझ लिया वह व्यक्ति सफलता पाने से कभी वंचित नही रह सकता है, गुरुदेव जी ने सदैव अपने चिंतनों मे समय के महत्व क़ो रूपान्तरित किया है, हमें अपने बेशकीमती समय क़ा सदैव सदुपयोग करते रहना चाहिए

डेस्क न्यूज। आज पैसे से भी ज्यादा समय का महत्व है। जिसने अपने समय का सही उपयोग कर लिया,उसका जीवन सफल हो गया। अनेक महापुरुष जिन्होने समाज क़ो नयी दिशा प्रदान किया है उन्होने समय क़ो विशेष महत्व प्रदान किया है। आज लाखों करोड़ों लोग अपने समय क़ो व्यर्थ के कार्यों मे लगाकर अपने जीवन क़ो बर्बाद करने पर आमादा हैं।

बहुत लोग अपने जिम्मेदारियों से पीछा छुड़ाकर अन्मयस्क जीवन जी रहे हैं।आप ऐसे मित्रों और रिश्तेदारों से सदैव दूरी बना कर रखिए जो व्यर्थ के कार्यों में लिप्त रहते हैं। फोन पर फालतू बातों पर चर्चा करते रहते हैं। ऐसे लोग समाज के लिए अभिशाप हैं। ज्यादातर लोग अश्लीलता के कार्यों मे अपने समय क़ो नष्ट कर रहे हैं। कुछ लोग समझते हैं की हमारे बुरे कार्यों क़ो कोई देख तो पा रहा नही है तो ऐसे लोग भ्रम का जीवन जी रहे हैं। आत्म सत्ता, गुरू सत्ता और प्रकृति सत्ता से हमारा कुछ भी छिपा नही है। हम बन्द कमरे मे भी कुछ भी गलत करेंगे तो प्रकृति सत्ता से छुपाना असम्भव है। थोड़ा विचार कीजिए कि हमारा जन्म किसलिए हुआ है और हम कर क्या रहे हैं? कई लोग अपने जन्म के उद्देश्य से ही भटक गए हैं। जब प्रकृति सत्ता हम सभी से कोई भेदभाव नही करती हैं जो सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड की रचयिता हैं तो हम किस अधिकार से लोगों के साथ ऊँच-नीच, जाति-पाँति आदि का भेद कर सकते हैं।

प्रकृति ने सभी क़ो समान समय दिया है। जो ज्ञानवान हैं उन्होने अपने समय क़ा सही उपयोग करके अपने जीवन मे शान्ति कायम कर लिया है। आज भी अधिकाँश लोग अपने दिमाग क़ा दुरुपयोग करके वासनात्मक जीवन जी रहे हैं। सोते-उठते उनके दिमाग मे वासना ही भरी रहती है। ऐसे लोगों क़ा एक ना एक दिन पतन सुनिश्चित है। गुरुदेव जी की विचारधारा का अक्षरशः पालन करने वाला साधक कभी भी समय का दुरुपयोग नही करेंगे।

तमाम ऐसे रचनात्मक कार्य हैं जिनके द्वारा समय का सही उपयोग किया जा सकता है। सर्व प्रथम गुरुदेव जी द्वारा निर्देशित माँ की साधना तीनों समय करने का प्रयास कीजिए। तीनों समय सम्भव ना हो तो सुबह शाम जरूर साधना कीजिए। गुरुदेव जी द्वारा निर्देशित 15मिनट के प्राणायाम क़ो अपने जीवन क़ा अभिन्न अंग बना लीजिए। अगर आप टीम प्रमुख हैं तो आरती और चालीसा पाठ के क्रमों मे अपने समय का सदुपयोग कीजिए। अगर हम टीम प्रमुख नही हैं तो भी अपने जिले मे हो रहे आरती पाठ के क्रमों मे अपनी क्षमतानुसार जरूर शामिल होइए। इन सभी क्रमों से असीम ऊर्जा की प्राप्ति होती है। लोगों क़ो नशे और माँस से होने वाले नुकसान से अवगत कराते रहिए। लोगों क़ो चरित्रवान बनने के लिए प्रेरित करते रहिए। हमारा एक-एक पल बहुमूल्य है।

गुरुदेव जी के आश्रम मे जब आप जाइएगा तब समय के विशेष महत्व से रूबरू हो पाइयेगा। आपके जीवन की समस्त समस्याओं का समाधान अगर आपको प्राप्त करना है और समय के महत्व का ज्ञान प्राप्त करना है तो आप नियमित माँ एवम गुरुवर की साधना प्रारम्भ कर दीजिए। थोड़े समय बाद आपको सुखद परिणाम प्राप्त होने शुरू हो जाएँगे। कौन क्या कर रहा है या कौन क्या नही कर रहा है, इन पचड़ों में कभी मत पड़िय़े। माँ गुरुवर की साधना ही सर्वोपरि है। बस हमें अपने आचार व्यवहार पर नियंत्रण रखना है शेष माँ गुरुवर पर छोड़ दीजिए। समय के सही उपयोग के बारे में योजना बनाते रहना चाहिए। जीवन का कोई भरोसा नही है तो क्यों ना एक -एक क्षण क़ा सदुपयोग कर लिया जाए।

जै माता की जै गुरुवर की

लेखक- शिवबहादुर सिंह फरीदाबाद (हरियाणा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अलर्ट पर हुआ इजराइल, विदेशी यात्रियों की एंट्री पर बैन, इजराइली लोगों को भी लौटने पर क्वारैंटाइन रहना होगा

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के चलते इजराइल ने सभी विदेशी यात्रियों की एंट्री पर...

पेरेंट्स के विरोध का हुआ असर, 100% क्षमता से स्कूल खोलने का आदेश 6 दिन में ही वापस, नया आदेश सोमवार से लागू

भोपाल। मध्यप्रदेश में छोटी क्लास के बच्चों की स्कूल पूरी क्षमता के खोले जाने के फैसले पर सरकार...

अधेड़ व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या, पुलिस पर लगा आरोपियों को बचाने का आरोप

उत्तरप्रदेश। बस्ती के दुबौलिया थाना क्षेत्र में रविवार को एक 50 साल के व्यक्ति की लाठी-डंडों और ईंट...

Recent Comments

%d bloggers like this: