Home आध्यात्मिक समाज में अनगिनत लोग परेशान हैं, नाना प्रकार की समस्याओं से घिरे...

समाज में अनगिनत लोग परेशान हैं, नाना प्रकार की समस्याओं से घिरे हैं और उनको कोई भी समाधान प्राप्त नही हो पा रहा है, ऐसे विकट परिस्थिति में गुरुदेव श्री शक्ति पुत्र महाराज जी ने समाज को कुछ अत्यन्त महत्व पूर्ण क्रम प्रदान किये हैं, जो भी मनुष्य इन क्रमों का पूरी निष्ठा से पालन करेगा, उस व्यक्ति के जीवन में शान्ति और समृद्धि का समावेश अवश्य होगा

डेस्क न्यूज। वर्तमान समय में बहुत सारे लोग अनेक समस्याओं से घिरे हैं और चिंतित भी हैं ,उनको कोई सही मार्ग नही मिल पा रहा है। ऐसे समय में गुरुदेव जी ने समाज को पाँच अति महत्वपूर्ण क्रम प्रदान किये हैं ,जो व्यक्ति इन क्रमों का पालन करेगा, उसे माँ दुर्गा जी का आशिर्वाद जरूर प्राप्त होगा। सबसे पहला क्रम है कि आप अपने घरों के मुख्य द्वार पर माँ का शक्ति ध्वज लगाइये। जिन घरों पर शक्ति ध्वज लगा होता है ,उन घरों पर समस्त दैवी शक्तियों का आशिर्वाद प्राप्त होता है। जब आप कहीं बाहर जाइये तो ध्वज को प्रणाम कीजिये और कहीं बाहर से आइये तो ध्वज को प्रणाम करके ही घर के अन्दर प्रवेश कीजिये। अपने घर को नशामुक्त और माँसाहार मुक्त रखिये।

धीरे -धीरे आपका घर मन्दिर स्वरूप बन जाएगा। दूसरा क्रम है कि आप अपने मस्तक(माथे ) पर कुमकुम का तिलक अवश्य लगा कर रखिये। आज्ञा चक्र को सदैव आक्षादित (ढँककर ) करके ही रखना चाहिए क्यूँकि बुरे विचार यहीं से प्रवेश करते हैं।अपने आज्ञा चक्र पर कुमकुम का तिलक लगा कर रखिये। तीसरा क्रम है कि आप सदैव रक्षा कवच धारण करके रखिये। जो भी रक्षा कवच धारण करके रखते हैं उनकी बड़ी से बड़ी बाधाएं बहुत ही साधारण रूप में होकर निकल जाती हैं। बहुत बड़ी से बड़ी दुर्घटनाएँ छोटे रूप में खरोंच लग कर निकल जाती हैं। प्रत्येक साधक को हर समय रक्षा कवच धारण करके रखना चाहिये। महिलाओं को रक्षा रूमाल मिलता है।

आप उसे अपने पास जरूर रखिये। उससे कई लाभ प्राप्त होते हैं। चौथा क्रम है शक्ति जल। गुरुदेव जी ने 108शक्ति यज्ञों की प्रतिज्ञा ली है ,जिनमें अभी तक 8 यज्ञ गुरुदेव जी ने संपन्न कर दिया है। अलग- अलग मौसमों में ,अलग- अलग स्थानों पर यज्ञ हो चुका है। गुरुदेव जी की प्रतिज्ञा है कि हर यज्ञ में बारिश अवश्य होगी। अभी तक जो भी यज्ञ संपन्न हुये हैं उन सभी में बारिश अवश्य हुई है। उन्हीं यज्ञों में गुरुदेव जी ने शक्ति जल का निर्माण किया है।

आप शक्ति जल का प्रयोग सिर्फ पान करने के लिये ही कीजिये। बहुत सारा गंगा जल या नर्मदा जल ले लीजिये उसी में थोड़ा सा शक्ति जल मिला लीजिये सारा का सारा गंगा जल शक्ति जल बन जाएगा। उसी जल को आप स्वयं और अपने परिवार के सभी सदस्यों को दो-दो बूंद सुबह शाम पीने के लिये दीजिये। शक्ति जल आप उसी व्यक्ति को दीजिये जिन्होंने अपने मुख को शुद्ध रखा है यानी उस समय कोई नशा ना किया हो। शक्ति जल को पीने के अनेक लाभ हैं। क्रोध ,बेचैनी ,घबराहट और भय आदि शक्ति जल पीने के कारण हमारे नियंत्रण में रहते हैं। आश्रम में शक्ति जल निःशुल्क वितरित किया जाता है। पाँचवां क्रम जो की अत्यन्त महत्व पूर्ण क्रम है वीरवार का व्रत। सभी व्रतों में सर्वश्रेष्ठ व्रत वीरवार का ही व्रत है।

माँ दुर्गा जी ने वीरवार के दिन ही सृष्टि की रचना की थी। अतः वीरवार का दिन माँ का दिन है। माँ दुर्गा जी के लिये ही व्रत रखिये। बुधवार और वीरवार की मध्यरात्रि से पूर्ण ब्रह्मचर्य व्रत का पालन करते हुये व्रत का शुभारम्भ कर दीजिये। सुबह स्नान आदि करके माँ गुरुवर की साधना करने के पश्चात आप थोड़ा बहुत फलाहार ले लीजिये। दिन में आप नमक और अन्न का सेवन मत कीजिये।

शाम को सुर्यास्त के उपरांत आप अपने घर में जो भी सात्विक भोजन बना हो और उसमें लहसुन और प्याज का प्रयोग ना हुआ हो। उस भोजन में नमक डालकर उसे आप ग्रहण कर सकते हैं। कुछ समय व्रत रखुने के बाद ही आपको अपने जीवन में परिवर्तन का एहसास होने लगेगा। उपरोक्त क्रमों का जो भी व्यक्ति पूरी निष्ठा और श्रद्धा से पालन करेगा उस व्यक्ति के ऊपर माँ गुरुवर की कृपा अवश्य होगी। अपने जीवन में सकारात्मक परिवर्तन करने के लिये सबसे शशक्त माध्यम यही है।

जै माता की जै गुरुवर की

(लेखक- शिवबहादुर सिंह फरीदाबाद हरियाणा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

खून से लथपथ मिली थी पल्लेदार की लाश, परिजनों को हत्या की आशंका

मध्यप्रदेश। दमोह जिला मुख्यालय के नया बाजार नंबर 3 में रहने वाले एक बुजुर्ग पल्लेदार का शव कचोरा...

मजदूरी कर लौट रहा था युवक, आरोपी ने गाली देकर शुरू किया विवाद, मारी चाकू

मध्यप्रदेश। दमोह कोतवाली थाने के बड़ापुरा इलाके में रविवार रात मजदूरी कर लौट रहे युवक को पड़ोसी ने...

फूड पॉइजनिंग से 2 बच्चियों की मौत, 12 की हालत गंभीर

मध्यप्रदेश। छिंदवाड़ा जिले के पांढुर्णा में फूड पॉइजनिंग से दो बच्चियों की मौत हो गई। दोनों ने शादी...

धर्मांतरण मामले में गृहमंत्री का एक्शन, इंटेलिजेंस को प्रदेश के सभी मिशनरी स्कूल पर नजर रखने को कहा

मध्यप्रदेश। भोपाल में सामने आई धर्मांतरण की घटना के बाद मध्यप्रदेश में संचालित सभी मिशनरी स्कूल सरकार की...

Recent Comments

%d bloggers like this: