Home मध्यप्रदेश हनुवंतिया से भी खूबसूरत है कटनी जिले के बरही का मां कोनिया...

हनुवंतिया से भी खूबसूरत है कटनी जिले के बरही का मां कोनिया धाम, महानदी मुहाने का एक गांव कैसे बना कोनिया धाम, सीएम शिवराज ने जल पर्यटन केंद्र बनाने की थी घोषणा, घोषणा के 1 साल बाद भी विकास को तरसता यह क्षेत्र, पूछ रही जनता कब चलेगा क्रूज, कैसे विकसित होंगे कॉटेज विकसित करने की घोषणा पर कब करेंगे अमल

मध्यप्रदेश। कटनी जिला मुख्यालय से 60 किलोमीटर दूर, बरही से महज 10 किलोमीटर की दूरी पर मैहर-उमरिया मार्ग से सटा हुआ महानदी के मुहाने स्थित रमणीय, सौम्य पहाड़ी में सिद्धपीठ प्राचीन माँ काली का दरबार सजा है। माँ काली का यह दिव्य, अलौकिक दरबार कोनिया गांव में स्थित है, जो क्षेत्र की धार्मिक आस्था के साथ ही पर्यटन का मुख्य केंद्र भी है।

अब यह स्थान कोनिया गांव से कोनिया धाम बन चुका है। माँ काली धाम कोनिया का यह दरवार चारो ओर से पानी से घिरा हुआ, जो अपनी रमणीयता, सौम्यता के चलते लोगो को आकर्षित करता है। इस क्षेत्र में पर्यटन की अपार सम्भवना को देखते हुए मध्यप्रदेश की सरकार के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने यहां जल पर्यटन को बढ़ावा देने के तहत क्रूज चलाने यहां के टापू में कॉटेज विकसित करने की घोषणा कटनी के मंच से की थी, लेकिन घोषणा के 1 साल बाद भी विकास की सरकारी किरण यहां अभी तक नही पहुँची है। बाणसागर के जलभराव का यह खूबसूरत क्षेत्र हनुवंतिया से भी अधिक आकर्षक व खूबसूरत है।

स्टीमर के माध्यम से इस खूबसूरत नजारे को अपने कैमरे में कैद किया बाणसागर भराव क्षेत्र में माँ काली का यह दरवार चारो ओर से पानी से घिर गया, जहां 15 साल पहले नाव के सहारे जोखिम उठा यहां लोग जा पाते थे, कोनिया गांव के तात्कालीन सरपंच तीरथ पटेल ने मंदिर पहुँचने के लिए अथक प्रयास कर पहुँच मार्ग का निर्माण कराया। मंदिर के पुजारी इंद्रपाल मिश्रा सच्ची आस्था, भक्ति एवं तीरथ के प्रयासों से दिल्ली के दानवीर, समाजसेवी संजीव कपूर ने माँ की प्रेरणा से मंदिर का जीर्णोद्धार कराया, जहाँ अब चारोधाम की झलक दिख रही है, जिससे यह कोनिया गांव अब कोनिया धाम बन गया है। यहां से 40 किलोमीटर की दूरी पर बांधवगढ़ नेशनल पार्क, 40 किलोमीटर दूर माँ शारदा धाम मैहर लगा हुआ है।

आपको बता दे कि कटनी जिले का यह खूबसूरत प्राकृतिक स्थल सरकार की घोषणा के बाद भले ही विकास से अभी तक दूर है, फिर भी यहां पर्यटन को बढ़ावा देने के कारगर प्रयास किए जाए तो देश का बहुत बड़ा न सिर्फ पर्यटन केंद्र बनेगा, बल्कि रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। चारो ओर समुद्र सा नजारा दिखाई देता है, पानी के बीचों-बीच 10 से अधिक टापू है, जो आकर्षण के केंद्र है। यहां का पर्यटन विकास होगा, तो यह क्षेत्र हनुवंतिया से भी खूबसूरत होगा, बसर्ते सरकार अपने वायदे पर अमल करें।

क्षेत्रीय जनपद सदस्य तीरथ पटेल ने बताया कि क्षेत्र के विधायक संजय सत्येंद्र पाठक की मांग पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोनिया को जल पर्यटन केंद्र बनाने की घोषणा के बाद यहां का विकास होने की उम्मीद लगाए क्षेत्रवासी इंतजार कर रहे है और सरकार से पूछ भी रहे है कि क्या हुआ आपके वायदे का सरकार, कब करेंगे यहां के विकास पर अपनी नजरें इनायत।

(शक्ति न्यूज़ के लिए कटनी से विनोद दुबे की रिपोर्ट)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

नई शराब नीति का प्रदेश में जमकर हो रहा विरोध, युवाओं को शराब के नशे की ओर धकेल रही यह सरकार, कटनी में आम...

मध्यप्रदेश। प्रदेश में नई शराब नीति का विरोध शुरू हो गया। विगत दिवस कटनी जिले में आम आदमी पार्टी...

बाइक सवार युवकों को कार ने मारी टक्कर, 1 युवक की मौत, 1 घायल

मध्यप्रदेश। दमोह जिले में कार और बाइक की जोरदार टक्कर हो गई। हादसे में एक बाइक सवार युवक...

रिश्वत खोर बाबू रिश्वत लेते गिरफ्तार

मध्यप्रदेश। दमोह कलेक्ट्रेट में संचालित आदिम जाति कल्याण विभाग के बाबू को सागर लोकायुक्त ने 3000 की रिश्वत...

Recent Comments

%d bloggers like this: