Home मध्यप्रदेश भोपाल के गोविंदपुरा से भाजपा विधायक का कृष्णा गौर ने किया दावा,...

भोपाल के गोविंदपुरा से भाजपा विधायक का कृष्णा गौर ने किया दावा, भेल कारखाने के 100 श्रमिकों की हुई मौत, कोरोनाकाल में भेल मैनेजमेंट ने फौरन काम बंद नहीं किया तो कल बैठूंगी धरने पर

मध्यप्रदेश। राजधानी भोपाल में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए लॉकडाउन लगाया गया है। इसमें कारखानों के साथ ही जरूरी सेवाओं को छूट दी गई है। इन संस्थानों में काम करने वाले लोग भी कोरोना की चपेट में आ रही है। अब भोपाल की गोविंदपुरा से विधायक कृष्णा गौर ने बीएचईएल (भेल) कारखाना बंद न करने के विरोध में बुधवार को धरने देने की चेतावनी दी है। विधायक ने कहा कि अब तक 100 कर्मचारियों की कोरोना से मौत हो गई हैै।

इस संबंध में उन्होंने मंगलवार को भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया को धरने की अनुमति के लिए पत्र लिखा है। बता दें विधायक लंबे समय से कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए भेल कारखाने को बंद करने की मांग कर रही है। अब उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि भेल प्रबंधन भोपाल इकाई को तत्काल बंद करने के आदेश जारी नहीं करता है तो मुझे कोविड नियमों का पालन करते हुए धरने पर बैठने के लिए बाध्य होना पड़ेगा।

कृष्णा गौर ने कहा कि भेल में कर्मचारी लगातार संक्रमित हो रहे है। रोज कोई दुख भरी खबर सुनने को मिल रही है। अब मैं अपने लोगों को खोना नहीं चाहती हूं। भेल प्रबंधन को संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए 7 दिन के लिए कारखाने को बंद करना चाहिए। यदि भेल प्रबंधन इस पर कोई निर्णय नहीं लेता है तो मैं चेतावनी देते हुए कि बुधवार को धरने पर बैठूंगी।

500 कर्मचारी संक्रमित, 100 की अब तक मौत-


अपने पत्र में विधायक ने लिखा है कि बीएचईएल कारखाने में संक्रमितों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ रही है। साथ ही कर्मचारियों की मौत भी हो रही है। आज संक्रमितों की संख्या लगभग 500 है। और करीब 100 (ठेका श्रमिकों को मिलाकर) कर्मचारियों की मौत भी हो गई है। इस कारण कर्मचारियों एवं उनके परिवार में भय एवं निराशा की भावना व्याप्त हो गई है।

भेल की दूसरी ईकाइयां बंद-


पत्र में यह भी बताया गया है कि बीएचईएल कारखाने कि अन्य इकाइयों जैसे बैंगलुरू, रानी पेठ, तिरुच्चिराप्पल्लि आदि में अपनी इकाइयों को अलग-अलग तारीख के लिए बंद कर दिया है। विधायक ने उनको बंद करने के आदेश की प्रतिलिपियां भी संलग्न करने का जिक्र किया है। लेकिन भोपाल भेल प्रबंधन अपने हठधर्मिता के कारण अपनी इकाई को सख्त चालू कर रखा है। जिससे आज भयावह परिस्थिति उत्पन्न हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

जम्मू-कश्‍मीर में आतंकी हमला, बारामूला में CRPF टीम पर ग्रेनेड अटैक, दो जवान और एक नागरिक घायल, सर्च ऑपरेशन जारी

बारामूला में घटनास्थल पर सुरक्षाबल श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के बारामूला में सुरक्षा बलों पर आतंकियों...

जीपी सिंह नहीं पहुंचे कोतवाली: पुलिस ने भेजा था नोटिस, मगर नहीं आए, राजद्रोह मामले में फिर भेजा जा सकता है बुलावा

पिछले दिनों कोतवाली थाने की टीम ने जीपी सिंह के घर की तलाशी लेकर कंप्यूटर लैपटॉप जब्त किए थे।

1 अगस्त को आएंगे गृह मंत्री अमित शाह आएंगे यूपी दौरे पर, वाराणसी से मिर्जापुर जाएंगे अमित शाह, भाजपा नेताओं को विधानसभा चुनाव की...

उत्तरप्रदेश। आगामी 1 अगस्त को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह विधानसभा चुनाव से पहले मिर्जापुर के महत्वपूर्ण...

Recent Comments

%d bloggers like this: