Home मध्यप्रदेश अच्छी खबर: मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा मध्यप्रदेश में 1 जून से होगी...

अच्छी खबर: मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा मध्यप्रदेश में 1 जून से होगी अनलॉक की शुरुआत, शादियों में दोनों पक्षों के 10-10 लोग शामिल हो सकेंगे, कार्यक्रमस्थल पर ही होगा कोरोना टेस्ट, प्रदेश में धारा 144 लागू रहेगी

मध्यप्रदेश। प्रदेश में 1 जून से अनलॉक की शुरुआत होगी, लेकिन इस दौरान बंदिशें भी जारी रहेंगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राजनीतिक व सार्वजनिक आयोजनों पर रोक रहेगी। प्रदेश में धारा 144 लागू रहेगी, ताकि भीड ना हो। धरना, प्रदर्शन और रैलियों पर प्रतिबंध रहेगा। वैवाहिक कार्यक्रमों की अनुमति दी जाएगी, लेकिन दोनों पक्षों से 10-10 से ज्यादा लोगों को इजाजत नहीं होगी। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में शादियों ने कई परिवार तबाह कर दिए।

मुख्यमंत्री ने बुधवार देर शाम प्रदेश की जनता को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। वायरस अभी गया नहीं है। इंदौर व भोपाल में सावधानी की जरुरत है। दोनों जिलों में कोरोना के पॉजिटिव केस आ रहे है। रलताल, सीधी में भी ध्यान देने की जरुरत है।

शिवराज ने कहा कि मप्र में कोरोना काे काबू करने के लिए अलग मॉडल बनाया। ग्राम, ब्लाक व जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप बनाए। जिले में प्रभारी मंत्री के साथ सभी जनप्रतिनिधि, कलेक्टर-एसपी को शामिल किया। ब्लाक में विधायकों को इस ग्रुप की कमान दी गई। इसी तरह ग्राम में पंचायत के प्रतिनिधियों को जिम्मेदारी दी गई।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना को नियंत्रित करने के लिए व्यवस्था का विकेंद्रीकरण किया। किल कोरोना अभियान चलाया। सर्वे दल घर-घर पहुंंचा। माइक्रो कंटेंटमेंट बनाए गए। जिसका निर्धारण क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप ने किया। मध्य प्रदेश में जनभागीदारी का मॉडल बनाया गया। उन्होंने कहा कि अभी लंबा रास्ता तय करना है। लेकिन कर्फ्यू अंनतकाल तक नहीं रह सकता। हमने तय किया है कि 1 जून से धीरे-धीरे आर्थिक गतिविधियां शुरु करेंगे।

उन्होंने कहा कि तीसरी लहर के तिए सावधान रहने की जरुरत है। यदि असवाधान रहे, बड़े पैमाने पर आयोजन होने लगे और भीड़ जुटने लगी तो संक्रमण को फैलने में देर नहीं लगेगी। इसलिए कोरोना कर्फ्यू धीरे-धीरे खुलेगा। गांव में ग्राम, ब्लाक और जिले की क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप तय करेंगे। हमने इसके लिए रोडमैप तैयार किया है।

जिले की परिस्थितियों के हिसाब से होंगे निर्णय-


मुख्यमंत्री ने कहा कि हर जिले की अलग-अलग परिस्थितिया हैं। कहीं कोरोना पूरी तरह से नियंत्रित हो गया है तो कहीं केस हर दिन कम-ज्यादा हो रहे हैं। भोपाल-इंदौर जैसे बड़े जिलों में अभी ज्यादा केस आ रहे हैं। ऐसे में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप को इन सभी पहलुओं पर विचार कर निर्णय लेना चाहिए।

30-31 मई को हाेंगी क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुपों की बैठक –


मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि जिला, ब्लॉक व गांव स्तर पर बनी क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुपों की बैठक 30-31 मई तक कर निर्णय लें कि 1 जून से क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा? उन्होंने कलेक्टरों से कहा है कि इन ग्रुपों की बैठकें समय पर हो जाएं, यह सुनिश्चित कर लिया जाए।

बनेंगे नियम-


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कौन सी गतिवििधयों चालू रहेंगी? बाजारों में भीड़ रोकने के लिए नियम बनाए जाएंगे। ताकि संक्रमण फिर ना फैले। उन्होंने लोगों से अपील की है कि 1 जून के बाद छूट मिलने पर घर से बाहर निकलने के बाद मास्क अनिवार्य रुप से लगाएं।

वैवाहिक कार्यक्रम में होगी कोरोना की टेस्टिंग-


मुख्यमंत्री ने कहा कि शादी कार्यक्रम में अधिकतम 20 लोगों के शामिल होने की अनुमति रहेगी। इसके साथ ही कार्यक्रम स्थल पर ही कोरोना के टेस्ट कराया जाएगा। क्योंकि यदि संक्रमण बढ़ा तो फिर दिक्कत होगी।

एक भी केस मिला तो बनाएंगे माइक्रो कंटेटमेंट जोन-


हर राेज 75 हजार का टेस्टिंग टारगेट रहेगा। संक्रमण की संख्या कम हो गई है, ऐेसे में ट्रेसिंग संभव है। किसी एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आएगी तो पूरे परिवार का टेस्ट किया जाएगा। एक केस मिलने पर माइक्रो कंटेटमेंट जाेन बनाकर प्रतिबंध भी लगाए जाएंगे।

धर्मगुरुओं से मुख्यमंत्री की अपील-


मुख्यमंत्री ने सभी धर्मगुरुओं से अपील की है कि कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए जरुरी है कि वैक्सीनेशन और मास्क की अनिवार्यता। उन्होंने कहा कि धर्मगुरु अपने प्रभाव का उपयोग करते हुए अनुयायियों को नियंत्रित करें। राजनैतिक दल भी कार्यकर्ताओं को कोरोना से निपटने में सहयोग करने के लिए प्रेरित करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

थाना अलीपुरा पुलिस द्वारा अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले में पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशन तथा एसडीओपी नौगांव के मार्गदर्शन में...

कट्टा लेकर घूम रहा यूवक पकड़ाया, सिविल लाइन पुलिस की कार्यवाही

मध्यप्रदेश। छतरपुर पुलिस अधीक्षक एवं अति. पुलिस अधीक्षक के निर्देशन मे एवं श्रीमान नगर पुलिस अधिक्षक के...

मासूम को कुचलने वाले ड्राइवर को नौकरी से निकाला

मध्यप्रदेश। ग्वालियर नगर निगम की कचरा गाड़ी से दो साल की बच्ची को कुचलने के मामले पर...

Recent Comments

%d bloggers like this: