Home उत्तरप्रदेश पति-पत्नी समेत 2 बच्चे फांसी के फंदे से लटके मिले, पड़ोसी बोले-कर्ज...

पति-पत्नी समेत 2 बच्चे फांसी के फंदे से लटके मिले, पड़ोसी बोले-कर्ज में डूबा था परिवार, पुलिस को मिला सुसाइड नोट

उत्तरप्रदेश। शाहजहांपुर जिले में एक दर्दनाक घटना सामने आयी है। जहां एक घर मे पति पत्नी और उनके 2 मासूम बच्चे फांसी के फंदे से लटके मिले। पड़ोसियों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है। बताया जा रहा है कि सुसाइड नोट में आर्थिक तंगी की बात कही गयी है।

लोहे की ग्रिल से लटके मिले 4 शव-


यह घटना शहर के चौक कोतवाली क्षेत्र के कच्चा कटरा की है। एक पड़ोसी ने बताया कि आज किसी काम से अखिलेश को फोन कर रहा था लेकिन फोन नही उठा। मैंने सोचा कहीं व्यस्त होगा। फिर हमने कई बार 2 घंटे तक ट्राई किया लेकिन फोन नही उठा। फिर मुझे कुछ शक हुआ तो पुलिस को सूचना दी। पुलिस के साथ हम लोग घर में गए। जब देखा तो घर की छत पर लगे लोहे के जाल से अखिलेश गुप्ता का शव लटक रहा था। फिर एक ग्रिल से उनकी पत्नी रेशु लटकी मिली। इसके अलावा 12 साल का बेटा शिवांक कमरे में बने रोशनदान की खिड़की की ग्रिल से लटका मिला। जबकि 6 साल की बेटी अर्चिता कमरे की चौखट से लटकी मिली।

चारों ने पी थी फांसी से पहले चाय-


पुलिस के मुताबिक जब वह पहुंची तो कमरे में 4 कप चाय के मेज पर रखे हैं। माना जा रहा है कि परिवार ने पहले साथ बैठकर चाय पी है। उसके बाद फांसी लगाई है। यह भी कयास लगाया जा रहा है कि पहले बच्चों को पिता ने फांसी दी फिर पति पत्नी ने खुद फांसी लगाई है। बहरहाल, पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमे आर्थिक तंगी की बात कही गयी है। इसी आधार पर पुलिस छानबीन कर रही है।

दिवाली पर नए घर मे शिफ्ट हुआ था परिवार-


अखिलेश बरेली के फरीदपुर के मूल निवासी हैं। अभी बीते 5 से 6 साल से वह शाहजहांपुर में किराये के मकान में रह रहे थे। बीते दिवाली में उन्होंने कच्चा कटरा में अपना नया घर बनाया था और गृह प्रवेश किया था। बताया जा रहा है कि घर बनवाने के लिए ब्याज पर और बैंक से लोन भी लिया था। अब वही कर्जा उनका सिरदर्द बनता जा रहा था। इसके साथ ही जानकारी के मुताबिक अखिलेश गुप्ता के पास दवाइयों की कोई एजेंसी थी। जिसमे उसे घाटा हुआ था। जिसकी वजह से वह कर्ज में डूब गया था। सुसाइड नोट से पता चलता है कि परिवार की आर्थिक हालत इस कदर खराब हो गयी थी कि उसके सामने मौत के अलावा कोई और रास्ता नही बचा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रोडवेज बस से कुचले बच्चे की मौत, सड़क पर शव ऱखकर जमकर काटा हंगामा

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले में बीते रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के बस स्टैंड में कुरारा की ओर...

कोविड-19 वैक्सीन महाअभियान गढ़ीमलहरा में निकली रैली

छतरपुर ज.सं। कोरोना संक्रमण से बचाव एवं कोविड-19 संक्रमण के वैक्सीनेशन के प्रति लोगो को लोगो को...

एक संक्रमित हुआ डिस्चार्ज

छतरपुर ज.सं। छतरपुर जिले में शनिवार को 01 कोविड संक्रमित मरीज को खजुराहो कोविड केयर सेंटर से...

प्राचार्य ने टीकाकरण कराने की अपील की

छतरपुर ज.सं। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-1 छतरपुर के प्राचार्य एस.के. उपाध्याय ने छात्रों, उनके माता-पिता सहित जिले...

Recent Comments

%d bloggers like this: