Home उत्तरप्रदेश किसानों को जलवायु परिवर्तन के दौर में उचित फसलो के चुनाव करने...

किसानों को जलवायु परिवर्तन के दौर में उचित फसलो के चुनाव करने के सम्बंध में दी सलाह

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले के कुरारा स्थित स्थानीय कृषिविज्ञान केंद्र कुरारा की कृषि वैज्ञानिक डॉ शालिनी ने किसानों को जलवायु परिवर्तन के दौर में उचित फसलो के चुनाव करने के सम्बंध में सलाह दी है। वही आगामी खरीफ फसलों में ज्वार ,मक्का की फसलो के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

कृषि विज्ञान केंद्र कुरारा में कार्यरत कृषि वैज्ञानिक डॉ शालिनी ने किसानों को बताया कि कृषि की उत्पादकता पूरी तरह से मौसम जलवायु व पानी की उपलब्धता पर निर्भर करती है। इनमे से किसी कारक के बदलने से उत्पादन प्रभावित होता है। सूखा, बाढ़ व फसल पकने के समय अधिक बरसात होने से फसलो को भारी हानि पहुंचतीं है।

खरीफ की फसलो में जलवायु परिवर्तन के दौर में परम्परागत कृषि प्रथाओं के साथ वैकल्पिक कृषि प्रथा को अपनाना पड़ेगा। जोखिम को कम करने के लिए खरीफ की फसल में किसान उर्द, मूंग, तिल, अरहर, की खेती के साथ कुछ क्षेत्र में सोयाबीन, मक्का, ज्वार, व बाजरा की खेती करें।

इन फसलो में जल भराव सहन करने की क्षमता होती है। तथा नुकसान कम होता है। भूमिगत जल से धान की खेती को बढ़ावा न दे जल भराव वाले खेत मे धान की खेती न करे। उर्द ,मूंग, अरहर, तिल, की फसलें अधिक वर्षा नही सहन नहीं कर पाती है। इन फसलो को नाली विधि से लगाएं। तथा फसल बुवाई में अंतर रखे।

लंबी अवधि वाली फसल अरहर का क्षेत्रफल कम हो रहा है। इसकी बुवाई लाइन में करे तथा इसके लाइन के बीच में मूंग ,उरद, तिल की बुवाई कर सकते हैं। जिन क्षेत्र में पानी की समस्या है। वहां कम अवधि की प्रजाति लगाए। वही खेतों के समतली करण होना जरूरी है।इससे 20 से 30 प्रतिशत पानी की बचत होती है।तथा मिट्टी के कटाव को रोका जा सकता है।फसल अवशेष को नई तकनीक से मिट्टी का सुधार करें।

जैविक खाद व हरी खाद का प्रयोग कर ने से मिट्टी की गुणवत्ता लंबे समय तक बनी रहती है। सूक्ष्म सिंचाई व बौछारी सिंचाई से 30 से 40 प्रतिशत पानी की बचत की जा सकती है। इससे फसल उत्पादन व गुणवत्ता में सुधार होता है। उन्होंने किसानों को सलाह दी है किखरीफ फसलों में नई तकनीक का प्रयोग कर अधिक उत्पादन ले सकते हैं।

(हमीरपुर ब्यूरो अजय शिवहरे)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

1 अगस्त को आएंगे गृह मंत्री अमित शाह आएंगे यूपी दौरे पर, वाराणसी से मिर्जापुर जाएंगे अमित शाह, भाजपा नेताओं को विधानसभा चुनाव की...

उत्तरप्रदेश। आगामी 1 अगस्त को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह विधानसभा चुनाव से पहले मिर्जापुर के महत्वपूर्ण...

रास्ता विवाद को लेकर युवक की हत्या, मकान निर्माण के दौरान आने जाने की रास्ता को लेकर हुआ था विवाद, पड़ोसी ने सिर पर...

मध्यप्रदेश। छिंदवाड़ा जिले में चांद के ग्राम उभेगांव में बुधवार सुबह आने-जाने के रास्ते को लेकर पड़ोसियों...

प्रभारी मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने विशाल अन्न महोत्सव की तैयारियों को लेकर की समीक्षा, बैठक में अधिकारियों से जानी पीएम आवास की प्रगति

प्रदेशभर में 7 अगस्त को मनाया जाएगा अन्न महोत्सव, खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री रीवा में बैठक लेकर सतना...

Recent Comments

%d bloggers like this: