Home आध्यात्मिक जीवन से हताश औऱ निराश लोगों के लिए आशा की किरण है...

जीवन से हताश औऱ निराश लोगों के लिए आशा की किरण है भगवती मानव कल्याण संगठन

डेस्क न्यूज। समाज में अधिकतर लोग सत्य से अनभिज्ञ होकर दर दर की ठोकरें खाने के लिए बाध्य हो रहे हैं। अनेक लोगों क़ो पता ही नही है की हमें कौन से मार्ग का पालन करना चाहिए। अनेक लोग समाज क़ो दिग्भ्रमित करने वाले बाबाओं के चक्कर में पड़कर अपना समय औऱ धन दोनों बर्बाद कर रहे हैं। बाबा लोगों क़ो भी धन की लोलुपता ने अँधा बना दिया है।

उन्हें सत्य का जब स्वयम ज्ञान नही है तो दूसरों क़ो कैसे सत्य का ज्ञान कराएँगे। बहुत सारे लोग अपनी विभिन्न समस्याओं के कारण इधर से उधर भटक रहे हैं। ऐसे परेशान व्यक्तियों के लिए समाज में उम्मीद की किरण बनकर कोई भी कार्य कर रहा है तो गुरुदेव जी द्वारा सँचालित एक मात्र संगठन है-भगवती मानव कल्याण संगठन। मध्य प्रदेश के शहडोल जिले के व्यौहारी तहसील में स्थित पंच ज्योति शक्ति तीर्थ सिद्धाश्रम करोड़ों लोगों के लिए संजीवनी बूटी का कार्य कर रहा है।

जीवन से निराश औऱ परेशान लोगों के लिए अध्यात्म के मार्ग द्वारा गुरुदेव श्री शक्ति पुत्र महाराज जी ने माँ दुर्गा जी की साधना के माध्यम से लाखों करोड़ों लोगों के जीवन क़ो परिवर्तित करने का कार्य कर रहे हैं। आप संगठन के दीक्षित शिष्यों से सम्पर्क करके अपने जीवन क़ो खुशहाल बना सकते हैं। हम यहाँ कुछ बिन्दुओं पर प्रकाश डालने जा रहे हैं जिनके माध्यम से आप वर्तमान परिस्थितियों से निजात पा सकते हैं।


सर्व प्रथम आप लोग यू- ट्यूब के BMKS चैनल पर शक्ति पुत्र जी महाराज लिख कर गुरुदेव जी के चिंतन सुनना प्रारम्भ कर दीजिए। जिससे आपको अनेक लाभ मिलने आरम्भ हो जाएँगे। नित्य आप लोग सुबह औऱ शाम क़ो श्री दुर्गा चालीसा का पाठ करना शुरू कर दीजिए। जिससे आपको आश्रम में 23वर्षों से अनवरत चल रहे चालीसा पाठ का लाभ मिलना प्रारम्भ हो जायेगा।


नित्य गुरु मंत्र औऱ माँ के मंत्र का जप एक-एक माला जपना प्रारम्भ कर दीजिए। माँ औऱ ॐ मन्त्र का जप कम से कम 11-11बार करना शुरू कर दीजिए। जिससे आपको आत्मबल (आत्म शक्ति) मिलना प्रारम्भ हो जायेगा। प्रत्येक वीरवार (बृहस्पति वार) का व्रत जरूर रखिये। परिवार के पत्येक सदस्यों के लिए ये व्रत अत्यन्त लाभकारी है। बड़ा ही सरल व्रत है। प्रतिदिन ईश्वर चैनल पर रात्रि 8से 8:30बजे तक गुरुवर के चिंतन का प्रसारण होता है। आप सपरिवार अवश्य देखिए।


आश्रम से छपने वाली मासिक पत्रिका(सिद्धाश्रम पत्रिका) अपने पास मँगवाइये।जिससे आपको संगठन द्वारा सँचालित अनेक जन कल्याण कारी कार्यक्रमों की जानकारी प्राप्त होती रहेगी। आपके जिले में हो रहे महा आरती के क्रम में अवश्य भाग लीजिए। जिसका लाभ आप अपने पूरे परिवार के साथ प्राप्त कर सकते हैं। गुरुदेव जी द्वारा निर्देशित आरती औऱ चालीसा पाठ के क्रमों में बढ़- चढ़ कर हिस्सा लीजिए। माँ की आरती औऱ चालीसा पाठ ऊर्जा के बहुत बड़े श्रोत हैं। आप अपने जिले में हो रहें इन क्रमों का निरन्तर लाभ ले सकते हैं


गुरुदेव जी द्वारा सँचालित शिविर का लाभ भी आप प्राप्त कर सकते हैं। इन शिविरों में सम्पन्न हुई माँ की दिव्य आरती हमारे जीवन की दशा औऱ दिशा दोनों क़ो परिवर्तित कर देती हैं। इन क्रमों के माध्यम से हमारा अन्तःकरण निर्मल होने लगता है औऱ सत्य असत्य का ज्ञान हमें होने लगता है औऱ जीवन के तमाम भटकावों से हमें छुट्कारा मिल जाता है। कलिकाल (कलयुग) के अनेक विकारों क़ो नष्ट करने का ये सबसे सशक्त माध्यम है।


सत्य की विचारधारा क़ो अपनाकर अपना औऱ अपने परिवार के सदस्यों के जीवन क़ो सफल बनाइए।ज्यादा से ज्यादा नए व्यक्तियों क़ो इन क्रमों से अवगत कराइए जिनसे उनका कल्याण हो सके।

जै माता की जै गुरुवर की

लेखक- शिव बहादुर सिंह फरीदाबाद (हरियाणा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

थाना बक्सवाहा पुलिस की कार्यवाही, देशी कट्टा लिए व्यक्ति को किया गिरफ़्तार

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले की पुलिस ने आज दिनांक 18.10.21 को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम...

बाल आरोग्य संवर्धन कार्यक्रम के तहत कराया गया बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण

छतरपुर जसं। कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह के निर्देशानुसार बाल आरोग्य संवर्धन कार्यक्रम के तहत सोमवार को परियोजना बिजावर...

कलेक्टर की अध्यक्षता में टीएल बैठक सम्पन्न, एसडीएम प्रमुखता से पटवारियों की समीक्षा करें: कलेक्टर, खनिज, ट्रांसपोर्ट, आबकारी एवं दवा विक्रेता संघ जिला अस्पताल...

छतरपुर जसं। कलेक्टर छतरपुर शीलेन्द्र सिंह ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में टीएल प्रकरणों की साप्ताहिक समीक्षा...

22 को कैम्पस ड्राइव का आयोजन

छतरपुर जसं। आईटीआई छतरपुर में 22 अक्टूबर शुक्रवार को कैम्पस ड्राइव का आयोजन किया गया है। यह...

Recent Comments

%d bloggers like this: