Home मध्यप्रदेश मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा का निधन, कोरोना संक्रमित होने के...

मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा का निधन, कोरोना संक्रमित होने के बाद हॉस्पिटल में दो बार हार्ट अटैक आया, सिरोंज में किया गया राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

भोपाल। प्रदेश के पूर्व मंत्री और भाजपा नेता रहे लक्ष्मीकांत शर्मा का मंगलवार सुबह अंतिम संस्कार किया गया। राजकीय सम्मान के साथ उन्हें उनके पैतृक गांव सिरोंज में पंचतत्व में विलीन किया गया। कोरोना से जंग लड़ते हुए सोमवार को उनका निधन हो गया था। वे 11 मई को कोरोना संक्रमित पाए गए थे। 12 मई को उन्हें भोपाल के चिरायु अस्पताल में भर्ती किया गया था। अस्पताल में उन्हें दो बार हार्ट अटैक आया था। सोमवार दोपहर उनकी तबीयत ज्यादा खराब होने के बाद उन्हें एयर एंबुलेंस से चेन्नई ले जाने की तैयारी थी।शर्मा का नाम व्यापम घोटाले में सामने आया था।

60 वर्षीय शर्मा 1993 में पहली बार विधायक चुने गए थे। इसके बाद 1998, 2003 और 2008 में सिरोंज विधानसभा क्षेत्र से लगातार विधायक बनते चुने गए। 2018 के चुनाव में भाजपा ने उन्हें टिकट न देकर उनके छोटे भाई उमाकांत शर्मा को टिकट दिया था। जो अभी सिरोंज से विधायक हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पहले कार्यकाल में लक्ष्मीकांत शर्मा खनिज मंत्री थेl शिवराज सरकार के दूसरे कार्यकाल 2008 से 2013 में लक्ष्मीकांत शर्मा उच्च शिक्षा जनसंपर्क एवं संस्कृति जैसे महत्वपूर्ण विभाग के मंत्री रहे हैंl 2013 में लक्ष्मीकांत शर्मा कांग्रेस के उम्मीदवार गोर्वधन उपाध्याय से चुनाव हारने के बाद राजनीतिक परिदृश्य से गायब हो गए थे।

व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापम) घोटाले में वे आरोपी थे। यह केस अभी कोर्ट में चल रहा है। व्यापम की ओर से आयोजित संविदा शिक्षक, सहकारिता, पीएमटी सहित कई परीक्षाओं में धांधली के मामले में लक्ष्मीकांत शर्मा को एसटीएफ और सीबीआई ने आरोपी बनाया था। हनी ट्रैप मामले में भी लक्ष्मीकांत शर्मा का एक कथित ऑडियो 2019 में सामने आया था। इसके बाद आरएसएस और बीजेपी ने लक्ष्मीकांत शर्मा से किनारा कर लिया था।

पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा का पार्थिव शरीर एक सुसज्जित वाहन में सिरोंज लाया गया।

पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा का पार्थिव शरीर एक सुसज्जित वाहन में उनकी फोटो और फूल मालाओं के साथ सिरोंज लाया गया। उनके समर्थकों, रिश्तेदारों और ग्रामीणजनों ने बड़ी संख्या में पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। उनके अंतिम संस्कार से पहले उन्हें पुलिस की खास टुकड़ी ने बिगुल और हवाई फायर के साथ गार्ड ऑफ ऑनर दिया। जिसके बाद उनका रीति रिवाज के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया।

समर्थकों, रिश्तेदारों और ग्रामीणजनों ने बड़ी संख्या में पहुंचकर श्रद्धांजलि अर्पित की

गौरतलब है कि सिरोंज में एक शिक्षक के रूप में सर्वमान्य शर्मा ने जब राजनीति में कदम रखा तो भाजपा में उनका बहुत अच्छा सम्मान रहा। मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा के निधन पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर दुख जताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बढ़ती महंगाई को लेकर महिला कांग्रेस ने छत्रसाल चौक कांग्रेस कार्यालय के बाहर बैठकर पहले सेकी रोटी,घरेलू गैस सिलेंडर पर पहनाई माला, फिर रोटी...

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिला मुख्यालय पर महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुषमा देवी के निर्देश पर महिला कांग्रेस...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की गोद ली हुई 3 बेटियों की शादी आज, शिवराज सिंह चौहान पत्नी साधना सिंह के साथ करेंगे कन्यादान

तीनों दत्तक बेटियों के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनकी पत्नी साधना सिंह।

प्रधानमंत्री ने नरेंद्र मोदी ने बाराणसी में कहा- कोरोना की दूसरी लहर को UP ने जिस तरह संभाला वह अभूतपूर्व है

उत्तरप्रदेश। वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज काशी में हैं। यहां उन्होंने जापान और भारत की दोस्ती...

Recent Comments

%d bloggers like this: