Home मध्यप्रदेश आईजी हरिनारायण चारी मिश्र के एक्शन प्लान से नकली इंजेक्शन बेचने वालों...

आईजी हरिनारायण चारी मिश्र के एक्शन प्लान से नकली इंजेक्शन बेचने वालों पर अब आएगी सामत, आरोपियों की कॉल डिटेल निकाल रहे अधिकारी, संपत्ति का भी ब्यौरा मांगा, इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वालों के मकान होंगे जमींदोज

मध्यप्रदेश। इंदौर आईजी हरिनारायण चारी मिश्र ने सभी पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए हैं, नकली रेमडेसिविर बेचने वालों की कॉल डिटेल निकाली जाए। यदि उसमें से कोई भी पीड़ित यह शिकायत करता है, नकली एक्शन से मौत हुई है, तो आरोपी पर 304 ए गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया जाए।

आईजी श्री मिश्र ने स्पष्ट कर दिया है कि नकली इंजेक्शन बेचने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। उनकी संपत्ति का ब्यौरा भी निकाला जाए। आरोपियों के घरों को जमींदोज भी किया जाएगा। वहीं, जिला प्रशासन द्वारा लगातार पकड़े गए आरोपियों पर रासुका की कार्रवाई की जा रही है।

रेमडेसिविर बेचते अब तक यह भी धरे गए-


1- विजय नगर ने सूरज से इंदौर लाकर नकली इंजेक्शन में 11 आरोपियों को पकड़ा था, जिसमें से 6 पर रासुका लगाई जा चुकी है।

2- एसटीएफ ने चिड़ियाघर के पास रेमडेसिविर बेच रहे एमआर राजेश पिता जगदीश पाटीदार निवासी राऊ और उसके दोस्त ज्ञानेश्वर पिता धनराज बारसकर निवासी भमौरी को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में कबूल किया है, ये इंजेक्शन वे विजयनगर स्थित राज मेडिकल के अनुराग पिता घनश्याम सिंह निवासी स्कीम 114 से खरीद कर लाए थे। तीनों से 12 इंजेक्शन जब्त किए गए थे।

3- पीथमपुर स्थित फार्मा कंपनी इपोक के मालिक डॉक्टर विनय शंकर त्रिपाठी निवासी रानीबाग से 20 लाख रुपए के 400 इंजेक्शन जब्त किए गए थे। क्राइम ब्रांच एएसपी गुरुप्रसाद पाराशर के अनुसार वह हिमाचल में अवैध रूप से इंजेक्शन बनाकर यहां बेचने लाया था।

4- 10 दिन पूर्व सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में पीड़ित पक्ष ने नर्स पर इंजेक्शन बेचने का आरोप लगाया गया था। उसका भी वीडियो वायरल हुआ था, लेकिन मामले में कार्रवाई नहीं हुई।

5- राजेंद्र नगर पुलिस ने नीलेश नाम के ​​​​​​व्यक्ति को रेमडेसिविर की कालाबाजारी करते पकड़ा था। उसने पीड़ित परिवार से इंजेक्शन देने के लिए 22 हजार रुपए में सौदा किया था।

6- रविवार को राजेंद्रनगर थाना पुलिस ने बारोड अस्पताल की नर्स कविता चौहान,डॉक्टर भूपेंद्र परमार और एमआर शुभम को गिरफ्तार किया था। कविता ने कहा इंजेक्शन 35 हजार रुपये में देगी। उसने कहा एक इंजेक्शन बिक गया है।

7- सोमवार को कनाडिया थाना क्षेत्र में रेमडेसिविर के 2 इंजेक्शन के साथ लैब टेक्नीशियन को पकड़ा गया है। वह दो इंजेक्शन जरूरतमंद मरीज के परिजन को 52 हजार रुपए में बेच रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अच्छी खबर: श्री जटाशंकर धाम में 15 माह बाद श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिर के कपाट, जल चढ़ाकर किए लोगों ने दर्शन

मध्यप्रदेश छतरपुर जिले के बिजावर अनुविभाग अंतर्गत आने वालेप्रसिद्ध तीर्थ एवं पर्यटन स्थल श्री जटाशंकर धाम में...

गोयरा पुलिस ने कट्टा कारतूस के साथ एक आरोपी को किया गिरफ्तार

मध्यप्रदेश। छतरपुर पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा के निर्देशन में एसडीओपी लवकुशनगर पीएल प्रजापति के मार्गदर्शन मे थाना...

कोतवाली पुलिस द्वारा एक और चोरी की मोटरसाइकिल बरामद की गई

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले के थाना सिटी कोतवाली पुलिस ने सुरेंद्र सिंह परमार पिता हरपाल सिंह परमार उम्र...

जमीनी विवाद में दबंगों ने की मारपीट, पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले के बिवाँर थाना क्षेत्र के बिभूनी गांव में दबंगों ने जमीनी विवाद के चलते...

Recent Comments

%d bloggers like this: