Home छत्तीसगढ़ श्रमिक स्पेशल ट्रेन में महिला ने दिया बच्चे को जन्म, पैदल आ...

श्रमिक स्पेशल ट्रेन में महिला ने दिया बच्चे को जन्म, पैदल आ रहे मजदूर की रास्ते मे मौत

छत्तीसगढ़ एजेंसी। सरकार ने प्रवासी श्रमिकों को उनके घर पहुंचाने के लिए स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं। बावजूद इसके हजारों की संख्या में मजदूर अपनी पत्नी व बच्चों को लेकर मीलों पैदल सफर तय कर रहे हैं। ऐसे ही दो मामले सामने आए हैं। जिसमे एक मामले में खुशी और दूसरे में गम देखने को मिला। एक मामला हबीबगंज से श्रमिक स्पेशल ट्रेन से बिलासपुर लौटे राजेंद्र यादव दूसरी बच्ची के जन्म को लेकर खुशी के साथ हैरानी भी है। वह ईश्वर को धन्यवाद देते हैं कि इतनी परेशानी के बावजूद उनके घर खुशी आई है। 


मुंगेली का राजेंद्र यादव अपनी पत्नी ईश्वरी यादव और डेढ़ साल की छोटी बच्ची को लेकर भोपाल मजदूरी करने गया था। घर लौटने के लिए किसी तरह पत्नी व बच्ची को लेकर हबीबगंज से शनिवार को ट्रेन में बैठा। ट्रेन चली ही थी कि कुछ घंटे बाद पत्नी को प्रसव पीड़ा शुरू हो गई और नागपुर से पहले ही उसकी डिलीवरी कराने पड़ी। इस दौरान ट्रेन में उसके गांव की बैठी अन्य महिलाओं ने साथ दिया और सुरक्षित प्रसव कराया। बिलासपुर ट्रेन पहुंची तो महिला व बच्ची को एंबुलेंस से सिम्स में भर्ती कराया गया है। जहां दोनों स्वस्थ हैं। पति राजेंद्र ने बताया कि उनको खेती-बाड़ी के लिए गांव लौटना ही था, लेकिन ऐेसे फंस जाएंगे नहीं सोचा था। पत्नी को जब अचानक से दिक्कत हुई तो कुछ समझ नहीं आ रहा था। कोच में बैठी महिलाओं ने बहुत साथ दिया। बेटी हुई है। इतनी तकलीफ के बाद गांव पहुंचने से पहले खुशी मिली है। अब गांव में ही रहेंगे।

मजदूर की रास्ते मे मौत


वही दूसरे मामले में भीलाई में प्रवासी मजदूर की संदिग्ध मौत का हैं, जहां सड़क किनारे उसका मिला शव भिलाई में दुर्ग-राजनांदगांव के अंजोरा बाइपास पर एक प्रवासी मजदूर का शव मिला है। शव के पास ही बैग व खाली पानी की बाेतल भी मिली है। फिलहाल अभी तक उसकी पहचान नहीं हो सकी है। दुर्ग-राजनांदगांव के अंजोरा बाइपास पर रविवार सुबह सड़क किनारे एक प्रवासी मजदूर युवक का शव मिला है। शव के पास ही बैग और पानी की खाली बोतल भी मिली है। फिलहाल शव की पहचान नहीं हो सकी है। उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया है। पुलिस को संभावना है कि युवक महाराष्ट्र से भिलाई आ रहा था। शरीर पर कहीं चोट के निशान नहीं हैं। ऐसे में तबीयत बिगड़ने से मौत का अंदेशा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अच्छी खबर: श्री जटाशंकर धाम में 15 माह बाद श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिर के कपाट, जल चढ़ाकर किए लोगों ने दर्शन

मध्यप्रदेश छतरपुर जिले के बिजावर अनुविभाग अंतर्गत आने वालेप्रसिद्ध तीर्थ एवं पर्यटन स्थल श्री जटाशंकर धाम में...

गोयरा पुलिस ने कट्टा कारतूस के साथ एक आरोपी को किया गिरफ्तार

मध्यप्रदेश। छतरपुर पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा के निर्देशन में एसडीओपी लवकुशनगर पीएल प्रजापति के मार्गदर्शन मे थाना...

कोतवाली पुलिस द्वारा एक और चोरी की मोटरसाइकिल बरामद की गई

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले के थाना सिटी कोतवाली पुलिस ने सुरेंद्र सिंह परमार पिता हरपाल सिंह परमार उम्र...

जमीनी विवाद में दबंगों ने की मारपीट, पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले के बिवाँर थाना क्षेत्र के बिभूनी गांव में दबंगों ने जमीनी विवाद के चलते...

Recent Comments

%d bloggers like this: