Home मध्यप्रदेश अच्छी खबर: कोरोना की तीसरी लहर रोकने में जुटी मध्यप्रदेश सरकार, हर...

अच्छी खबर: कोरोना की तीसरी लहर रोकने में जुटी मध्यप्रदेश सरकार, हर सप्ताह होगी क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक, मंत्री जिलों में करेंगे समीक्षा, स्कूल बंद होने की स्थिति में पढ़ाई के दूसरे विकल्प तलाशे जाएंगे

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना के काबू में आने के बाद 1 जून से कर्फ्यू में राहत मिलना शुरू हो गई है। अब सरकार कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की तैयारी में जुट गई है।

मंगलवार को कैबिनेट बैठक में CM शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए मंत्रियों और अफसरों के साथ चर्चा की। बैठक में क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक हर सप्ताह करने और मंत्रियों के कोविड प्रभार वाले जिलों में दौर का निर्णय लिया गया। स्कूल बंद होने से पढ़ाई ना रुके, इसके लिए मंत्री समूह अन्य विकल्प तलाशने पर भी बात की गई।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण अब नियंत्रित हो गया हे, लेकिन तीसरी लहर की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। ऐसे में अब ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है। इसके साथ ही सरकार अपने स्तर पर तैयारी भी कर रही है। उन्होंने कहा कि क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की सप्ताह में कए बार बैठक अनिवार्य रूप से होगी। जिसमें कोरोना की वर्तमान स्थिति की समीक्षा की जाएगी। इसके हिसाब से फैसले लिए जाएंगे।

उन्होंने मंत्रियों को निर्देश दिए कि सभी मंत्री कोविड प्रभार वाले जिलों में जाकर अनलॉक की स्थितियों और गतिविधियों पर कड़ी निगाह रखें और निरंतर समीक्षा करते रहें। किसी भी स्थिति में अनलॉक के बाद संक्रमण नहीं फैलने देना है। अन्यथा किए कराये पर पानी फिर जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार प्राथमिकता प्रदेश अनलॉक हो, लेकिन कोरोना को पूरी तरह लॉक करने की है।

मंत्री समूह खोजेगा बच्चों की पढ़ाई के लिए विकल्प-


मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूल बंद होने से पढ़ाई ना रुके, इसके लिए मंत्री समूह अन्य विकल्प भी खोजे। स्कूल-कॉलेज खोलने और परीक्षाओं के लिए बने मंत्री समूह से मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके लिए शिक्षाविदों से सुझाव लें। इसके साथ ही पढ़ाई के लिए नई टेक्नोलॉजी के प्रयोग का खाका भी तैयार करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विद्यार्थियों और प्राध्यापकों को कोविड अनुकूल व्यवहार के संबंध में मास्टर ट्रेनर के रूप में प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशिक्षित विद्यार्थी और प्राध्यापक अपने-अपने क्षेत्र में 50 से 100 नागरिकों को अलग-अलग माध्यमों से कोविड अनुकूल व्यवहार और टीकाकरण के बारे में जागरूक करेंगे। इस कार्यक्रम से एनएसएस और एनसीसी के स्वयं सेवक भी जुड़ेंगे।

कोरोना योद्धा और विशेष अनुग्रह योजना मंजूर-


कोरोना महामारी की दूसरी लहर में जान जोखिम में डालकर मैदानी मोर्चा संभालने वाले कर्मचारियों के लिए सरकार ने कोरोना योद्धा योजना एक अप्रैल से 31 मई 2021 तक लागू किया गया हे। इसके साथ ही कोविड-19 विशेष अनुग्रह योजना के अनुसमर्थन का प्रस्ताव को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है।

10 साल के लिये लागू होगी पोषण नीति-


प्रदेश में स्वास्थ्य और पोषण के स्तर में सुधार लाने के लिए सरकार 10 साल के लिए पोषण नीति लागू करेगी। इस नीति का कैबिनेट की कैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग ने प्रेजटेंशन किया गया। इस नीति के मुताबिक किसान परिवारों में कुपोषण को मिटाने के लिए पौष्टिक आहार उगाने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा और परिवार की महिलाओं को जागरूक किया जाएगा। इसके तहत किसान परिवार की महिलाओं को प्रशिक्षण देकर पोषाहार के बारे में जागरूक किया जाएगा ताकि महिला के साथ-साथ घर के बच्‍चों का शारीरिक व मानसिक विकास हो सके।

कैबिनेट बैठक में लिए गए निर्णय-


1- प्रदेश में अनलॉक का पहला चरण प्रारंभ हो गया है जो 15 जून तक चलेगा।
2- मंत्री अपने काविड प्रभार वाले जिलों के दौरा करेंगे।
3- क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हर सप्ताह होगी।
4- प्रोफेसर व कॉलेज स्टूडेंट को कोविड अनुकूल व्यवहार की ट्रेनिंग दी जाएगी।
5- वैक्सीनेशन लिए लोगों को प्रेरित करेंगे टीचर व स्टूडेंट।
6- स्कूल बंद रहने की स्थिति में पढ़ाई के अन्य विकल्प तलाशे जाएंगे।
पोषण स्वास्थ्य नीति पर ज्यादा फोकस होगा।
2 माह में 3 हजार से ज्यादा MSME उद्योगों के लिए क्लसटर बनेंगे।
प्रदेश में शिलान्यास व भूमिपूजन कार्यक्रम वर्चुअल कर सकेंगे मंत्री।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रोडवेज बस से कुचले बच्चे की मौत, सड़क पर शव ऱखकर जमकर काटा हंगामा

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले में बीते रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के बस स्टैंड में कुरारा की ओर...

कोविड-19 वैक्सीन महाअभियान गढ़ीमलहरा में निकली रैली

छतरपुर ज.सं। कोरोना संक्रमण से बचाव एवं कोविड-19 संक्रमण के वैक्सीनेशन के प्रति लोगो को लोगो को...

एक संक्रमित हुआ डिस्चार्ज

छतरपुर ज.सं। छतरपुर जिले में शनिवार को 01 कोविड संक्रमित मरीज को खजुराहो कोविड केयर सेंटर से...

प्राचार्य ने टीकाकरण कराने की अपील की

छतरपुर ज.सं। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-1 छतरपुर के प्राचार्य एस.के. उपाध्याय ने छात्रों, उनके माता-पिता सहित जिले...

Recent Comments

%d bloggers like this: