Home शक्ति न्यूज़ खास कोरोना महामारी के कारण अनेक लोगों की मृत्यु हो गयी, इस महामारी...

कोरोना महामारी के कारण अनेक लोगों की मृत्यु हो गयी, इस महामारी से बचने के लिए हम लोग क्या-क्या करें, जिससे हम और हमारा परिवार पूर्ण सुरक्षित रहे और हमारे ऊपर किसी भी प्रकार का तनाव ना रहे

डेस्क न्यूज। आज जैसी स्थिति हम सभी ने जीवन में कभी भी ना देखा और ना ही सुना होगा। जिधर देखिए उधर मौत की खबर ही सुनने को मिल रही है। चारों तरफ मौत का मंजर ही दिख रहा है। हम लोग अगर ध्यान से विचार करें तो ये जो हो रहा है इन सभी के जिम्मेदार कहीं ना कहीं हम लोग ही हैं। गुरुवर श्री शक्ति पुत्र जी महाराज जी ने हजारों बार कहा है की सत्य का जीवन जियो पर हम लोग कहाँ मानते हैं। समाज की इतनी बुरी दशा है कि लोगों को लाख मना करो की नशा मत करो फिर भी नही मानते हैं। मूर्खता की पराकाष्ठा आज भी देखने को मिल रही है कि जो लोग पहले शराब में बर्फ डालकर पीते थे वो लोग गर्म पानी के साथ पी रहे हैं। ये सरासर गलत कार्य है। हम सबके इन्हीं कार्यों के परिणामस्वरूप ही तो ये विपत्ति आयी है। किसी भी प्रकार के नशे से दूर हो जाने में ही हम सभी की भलाई है।मांस खाना और खिलाना भी बिल्कुल बन्द कर देना चाहिए। बेजुबान जानवरों की निर्मम हत्या से ही ऐसी स्थिति उत्पन्न हुई है। हमने अपनी तरफ से खूब मनमानी कर ली, अब हम लोगों को अपनी मनमानी की सजा मिल रही है तो हम दुनियाभर का दोषारोपण कर रहे हैं। इस विकट स्थिति के लिए हमारी सरकार भी कम दोषी नही है कि चुनाव की क्या जरूरत थी,पर सत्ता के नशे में चूर नेतागण ने कितनों के जीवन से खिलवाड़ कर दिया और रही सही कसर किसान आंदोलन ने पूरी कर दी थी।अब ऐसी स्थिति में क्या करना चाहिए जिससे हम लोग सुरक्षित रह सकें। सर्व प्रथम हम लोग अपने अपने घरों में बिल्कुल कैद हो जाएं।

बाहर की दुनियाँ से कुछ दिनो के लिए सारे रिश्ते नाते खत्म कर देना ही श्रेयस्कर है। उसके बाद जो भी स्वास्थ्य के लिए जरूरी है वो सभी ऐतिहात जरूर बरतें। सबसे महत्व पूर्ण बात जो हमारे आपके लिए सुरक्षा कवच है कि हम लोग नियमित माँ दुर्गा जी की साधना करें ,जो कि गुरुदेव जी द्वारा निर्देशित है। इसी साधना के फलस्वरूप आज करोड़ों लोग सुरक्षित जीवन जी रहे हैं। गुरुदेव जी श्री शक्ति पुत्र जी महाराज जी द्वारा प्रदत्त श्री दुर्गा चालीसा का पाठ नियमित करें। आज हम लोग किसी से बात करने से भी इसलिए डरते हैं कि कहीं वो व्यक्ति किसी के मौत की खबर ना सुना दे। डर, भय और तनाव को सदा-सदा के लिए अगर दूर करना चाहते हैं तो माँ और ॐ का जप जरूर कीजिए। इस जप से आप सदैव तनाव मुक्त रहेंगे। किसी भी प्रकार का मन में डर रहेगा ही नही।

इन सभी क्रमों का चमत्कारिक परिणाम हम सभी को प्राप्त हो रहा है। वीरवार का व्रत और कृष्ण पक्ष की अष्टमी का व्रत जरूर रखिए। ये सभी लाभ के क्रम हैं। इन सभी क्रमों का बड़ी निष्ठा और श्रद्धा से पालन कीजिए।

प्रकृति सत्ता को प्रसन्न रखने में ही हम सबका कल्याण है। कुछ लोग आज भी धीँगामस्ती में लगे हुए हैं। आज भी चरित्र हीनता में लिप्त हैं। ऐसे लोगों को सावधान हो जाना चाहिए की बड़े-बड़े सूरमा धराशायी हो गए तो हम जैसों की क्या औकात है ।आज हमें गम्भीर होकर सोचना चाहिए कि अपने बच्चों को सुरक्षित रखने के साथ-साथ समाज के लोगों की भी यथा सम्भव मदद की जाए। परोपकार करना मानवता की सबसे बड़ी सेवा है। किसी एक के जीवन की रक्षा करने से हमारे कई जन्म संवर जाएँगे। आर्थिक, मानसिक जिस भी प्रकार से बने उसी प्रकार से सेवा किया जा सकता है। जो लोग स्वार्थी जीवन जीते हैं वो लोग पशु के समान हैं। आज हम लोगों के लिए परीक्षा की घड़ी है। गुरुदेव जी ने जन कल्याण को सदैव सर्वोच्च प्राथमिकता दिया है।हम लोग धैर्य के साथ लोगों की सहायता करें।

जै माता की जै गुरुवर की

लेखक- शिव बहादुर सिंह फरीदाबाद (हरियाणा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रोडवेज बस से कुचले बच्चे की मौत, सड़क पर शव ऱखकर जमकर काटा हंगामा

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले में बीते रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के बस स्टैंड में कुरारा की ओर...

कोविड-19 वैक्सीन महाअभियान गढ़ीमलहरा में निकली रैली

छतरपुर ज.सं। कोरोना संक्रमण से बचाव एवं कोविड-19 संक्रमण के वैक्सीनेशन के प्रति लोगो को लोगो को...

एक संक्रमित हुआ डिस्चार्ज

छतरपुर ज.सं। छतरपुर जिले में शनिवार को 01 कोविड संक्रमित मरीज को खजुराहो कोविड केयर सेंटर से...

प्राचार्य ने टीकाकरण कराने की अपील की

छतरपुर ज.सं। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-1 छतरपुर के प्राचार्य एस.के. उपाध्याय ने छात्रों, उनके माता-पिता सहित जिले...

Recent Comments

%d bloggers like this: