Home न्यूज़ नाबालिग बच्चियों से यौन शोषण मामले में फरार पत्रकार प्यारे मियां के...

नाबालिग बच्चियों से यौन शोषण मामले में फरार पत्रकार प्यारे मियां के अवैध शादी हॉल को प्रशासन ने किया जमींदोज

भोपाल। नाबालिग बच्चियों के यौन शोषण मामले में फरार आरोपी पत्रकार प्यारे मियां के अवैध अफकार शादी हॉल को प्रशासन ने जमींदोज कर दिया। नजूल रिकार्ड में यह करीब 5 हजार वर्गफीट जमीन आबादी एरिया के नाम से दर्ज है। 20 साल पहले बने इस शादी हॉल के लिए कोई बिल्डिंग परमिशन नहीं ली गई थी और न उनके पास इसके स्वामित्व के दस्तावेज थे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सख्त रवैये के बाद प्रशासन सक्रिय हुआ और प्यारे मियां की अवैध संपत्तियों की पड़ताल शुरू हुई। बुधवारा में बने अवैध शादी हॉल को तोड़ने के लिए निगम अमले ने शाम 4 बजे 3 जेसीबी मशीन, 81 श्रमिकों के साथ 12 हजार वर्गफीट के अवैध शादी हॉल को तोड़ने की कार्रवाई एसडीएम जमील खान के निर्देशन में शुरू की। शाम 6:30 बजे तक शादी हॉल को जमींदोज किया जा चुका था। शेष स्ट्रक्चर गिराने की कार्रवाई मंगलवार को होगी।


जेसीबी व शेड पर गिरा स्लैब का हिस्सा, बड़ा हादसा टला-


इस दौरान स्लैब का एक हिस्सा जेसीबी व पीडब्ल्यूडी शेड पर जा गिरा। इससे जेसीबी ऑपरेटर अब्दुल शमीम, एक महिला व बच्चे को चोट लगी। इन शेड में पीडब्ल्यूडी के कर्मचारी रहते हैं। देर रात तक इन्हें पास में दूसरे मकानों में शिफ्ट किया गया है।


यहीं एक और अवैध भवन, ऐशबाग में भी शादी हॉल


शादी हॉल के सामने ही प्यारे का एक और अवैध भवन है। एसडीएम खान ने कहा कि इसे भी गिराया जाएगा। ऐशबाग में भी एक शादी हॉल की जानकारी मिली है। अंसल अपार्टमेंट्स का फ्लैट भी जांच के दायरे में है। कोहेफिजा व सलैया में भी कुछ प्रॉपर्टी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

प्रदेश में खाद की त्राहि-त्राहि, पर मुख्यमंत्री मौन?, बतायें कालाबाजारियों को संरक्षण दे रहा है कौन?: रवि सक्सेना

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और वरिष्ठ प्रवक्ता रवि सक्सेना ने कहा मध्यप्रदेश के किसान इस समय...

कलेक्टर ने राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम की समीक्षा, टीबी मरीजों के बेहतर उपचार के लिए दिए निर्देश

छतरपुर जसं। कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में शनिवार को राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम...

कमिश्नर कार्यालय में फरियादी ने खाया जहर, फंड और पेंशन का पैसा न मिलने से था परेशान, कमिश्नर से समस्या बताने के बाद खा...

कमिश्नर कार्यालय में फरियादी ने खाया जहर। उत्तरप्रदेश। बांदा जिले में फंड और पेंशन...

Recent Comments

%d bloggers like this: