Home मध्यप्रदेश मैदानी अमला मुख्यालय पर रहे बाढ़ आने वाले स्थलों को चिन्हित करे,...

मैदानी अमला मुख्यालय पर रहे बाढ़ आने वाले स्थलों को चिन्हित करे, बचाव प्रबंधन कार्य की तैयारी प्राथमिकता से हो, पुनः कब्जा करने वाले को सिविल जेल भेजने की कार्यवाही कराए

छतरपुर ज.सं। कलेक्टर शीलेेन्द्र सिंह ने कहा कि मानसून सत्र में बाढ़ की आशंका के चलते बाढ़ आने वाले स्थलों का चयन और बचाव प्रबंधन कार्य की तैयारी प्राथमिकता से करे। कलेक्टर श्री सिंह ने टीलएल की समीक्षा बैठक में निर्देश दिए कि जिले में जहा-जहा बाढ़ आने की आंशका है उन स्थानों को चिन्हित करते हुए बचाव एवं प्रबंधन कार्य की सभी तैयारी पूरी करे। बाढ़ की जद में आने वाले लोगों को ठहराने वाले स्थल का चयन कर सुरक्षा एवं राहत कार्य करने वाले दलों के गठन की कार्यवाही पूरी करे। मैदानी अमला मुख्यालय पर रहे यह सुनिश्चित हो। उन्होंने कहा कि कब्जा हटाने के बाद अतिक्रमण कर्ता द्वारा पुनः कब्जा किया जाता है तो सिविल जेल भेजने की कार्यवाही कराए।

उन्होंने कहा क्षेत्रीय एसडीएम भू-अर्जन की जानकारी ऑनलाइन दर्ज करे तथा सहकारी समितियों में पर्याप्त खाद रहे इसके लिए मांग का प्रस्ताव भेजे और और समितियों पर पर्याप्त मात्रा में खाद रहे यह सुनिश्चित करे और तय मूल्य से अधिक कीमत खाद की बिक्री ना हो ऐसे प्रबंध करे। ग्राम पंचायतों में एक-एक दुग्ध उत्पादन समिति गठित कराएं तथा प्रधानमंत्री आवास की समीक्षा करते हुए प्रति सप्ताह पूर्ण होने वाले ग्रामीण की जानकारी से अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि कार्यालय प्रमुख न्यायालय में लगने वाले जवाबदावे समय पर प्रस्तुत करें।

टीएल बैठक में विभागवार मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में दर्ज शिकायतों की समीक्षा करते हुए संतुष्टीपूर्वक समाधान करने तथा कार्यालय के सभी अधिकारियों कर्मचारी एवं उनके परिवार के सदस्यों द्वारा कोविड टीकाकरण करा लिया गया है से संबंधित प्रमाण-पत्र कलेक्ट्रेट में भेजनेे के निर्देश दिए। कलेक्टर ने खजुराहो, बकस्वाहा और बड़ामलहरा में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के लिए बनने वाले आवासीय भवनों के लिए शासकीय जमीन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

उन्होेंने कहा कि निर्माणाधीन प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास को पूर्ण कराने के लिए लगने वाली रेत का शासकीय दर पर प्रबंधन करने और ट्रेक्टर द्वारा रेत परिवहन किए जाने की अनुमति संबंधित एसडीएम दें। उन्होंने कहा कि मलेरिया एवं डेंगू रोग के नियत्रंण के लिए एसडीएम नियमित समीक्षा करे और जिले में संचालित राजस्व अभियान के लक्ष्य को हासिल करने के लिए प्रचार-प्रसार भी कराएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बढ़ती महंगाई को लेकर महिला कांग्रेस ने छत्रसाल चौक कांग्रेस कार्यालय के बाहर बैठकर पहले सेकी रोटी,घरेलू गैस सिलेंडर पर पहनाई माला, फिर रोटी...

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिला मुख्यालय पर महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुषमा देवी के निर्देश पर महिला कांग्रेस...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की गोद ली हुई 3 बेटियों की शादी आज, शिवराज सिंह चौहान पत्नी साधना सिंह के साथ करेंगे कन्यादान

तीनों दत्तक बेटियों के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनकी पत्नी साधना सिंह।

प्रधानमंत्री ने नरेंद्र मोदी ने बाराणसी में कहा- कोरोना की दूसरी लहर को UP ने जिस तरह संभाला वह अभूतपूर्व है

उत्तरप्रदेश। वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज काशी में हैं। यहां उन्होंने जापान और भारत की दोस्ती...

Recent Comments

%d bloggers like this: