Home खबरों की खबर प्रधानमंत्री मोदी ने ताऊ ते प्रभावित गुजरात जे इलाकों का किया हवाई...

प्रधानमंत्री मोदी ने ताऊ ते प्रभावित गुजरात जे इलाकों का किया हवाई दौरा, एक हजार करोड़ रुपए की मदद का ऐलान

नईदिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को चक्रवाती तूफान ताऊ ते से प्रभावित गुजरात और दीव के दौरे पर हैं। वे यहां हालात और नुकसान की समीक्षा करने पहुंचे हैं। सबसे पहले PM मोदी ने ऊना, दीव, जाफराबाद और महुवा समेत सौराष्ट्र के कई जिलों का वायुसेना के हेलिकॉप्टर से निरीक्षण किया। प्रधानमंत्री ने गुजरात के लिए एक हजार करोड़ रुपए की मदद का ऐलान किया है। साथ ही देश भर में तूफान के कारण मरने वालों के परिवार को 2 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रुपए मुआवजा भी दिया जाएगा।

इस दौरे के बाद कहा कि केंद्र सरकार तूफान से प्रभावित सभी राज्यों के साथ संपर्क में है और उनके साथ काम कर रही है। इसके बाद वे राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और अन्य अधिकारियों के साथ अहमदाबाद में एक रिव्यू मीटिंग की।

प्रधानमंत्री ने नक्शे के जरिए प्रभावित इलाकों की लोकेशन को समझा

सोमवार रात सौराष्ट्र से टकराया था तूफान-


‘ताऊ-ते’ सोमवार की रात करीब साढ़े दस बजे सौराष्ट्र से टकराया था। इसके बाद तटीय इलाकों में लैंडफॉल की प्रक्रिया शुरू हुई, जो करीब ढाई से तीन घंटे तक चली। तूफान के असर के चलते सौराष्ट्र के 21 जिलों की 84 तहसीलों में मूसलाधार बारिश शुरू हो गई थी।

हालांकि, अब कई जगह बारिश थम गई है। ऊना और गिर में विशालकाय वृक्षों, बिजली के खंभे और सोलर पैनल धराशायी हो गए हैं। कई मोबाइल टावर गिरने के चलते जाफराबाद के दर्जनों गांव से संपर्क टूट गया है।

ताऊ ते तूफान के गुजरने के बाद गुजरात के प्रभावित इलाकों का एरियल व्यू।

गुजरात में 7 की मौत, 2400 गांवों में बिजली नहीं-


गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने बताया कि तेज हवाओं की वजह से 40 हजार पेड़ गिर गए हैं और 16,500 कच्चे मकानों को नुकसान हुआ है। 2400 से ज्यादा गांवों में बिजली नहीं है। 122 कोविड हॉस्पिटल में भी पावर सप्लाई में दिक्कत हुई है। राज्य में 7 लोगों की मौत हुई है। तूफान की वजह से बने हालात को देखते हुए राज्य में कोरोना वैक्सीनेशन रोक दिया गया है। मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक, अब 20 मई से दोबारा टीके लगने शुरू होंगे।

अरब सागर में 4 जहाजों में 495 लोग फंसे-


ताऊ ते तूफान के बाद मुंबई के समुंदर में 4 जहाज फंस गए हैं। इन जहाजों पर 713 लोग फंसे हैं और इनमें से 620 लोगों को रेस्क्यू कर लिया गया है। इसमें से ONGC का एक बार्ज P305 डूब गया है, जिस पर सवार 90 से ज्यादा लोग अभी भी लापता हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अच्छी खबर: श्री जटाशंकर धाम में 15 माह बाद श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिर के कपाट, जल चढ़ाकर किए लोगों ने दर्शन

मध्यप्रदेश छतरपुर जिले के बिजावर अनुविभाग अंतर्गत आने वालेप्रसिद्ध तीर्थ एवं पर्यटन स्थल श्री जटाशंकर धाम में...

गोयरा पुलिस ने कट्टा कारतूस के साथ एक आरोपी को किया गिरफ्तार

मध्यप्रदेश। छतरपुर पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा के निर्देशन में एसडीओपी लवकुशनगर पीएल प्रजापति के मार्गदर्शन मे थाना...

कोतवाली पुलिस द्वारा एक और चोरी की मोटरसाइकिल बरामद की गई

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले के थाना सिटी कोतवाली पुलिस ने सुरेंद्र सिंह परमार पिता हरपाल सिंह परमार उम्र...

जमीनी विवाद में दबंगों ने की मारपीट, पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले के बिवाँर थाना क्षेत्र के बिभूनी गांव में दबंगों ने जमीनी विवाद के चलते...

Recent Comments

%d bloggers like this: