Home मध्यप्रदेश BEO ऑफिस में जनशिक्षक ने खाया जहर हुई मौत, पहले 16 कर्मचारियों...

BEO ऑफिस में जनशिक्षक ने खाया जहर हुई मौत, पहले 16 कर्मचारियों ने सामूहिक इस्तीफा दिया, कुछ देर बाद एक ने जहर खाया, आधे घंटे बाद लेकर पहुंचे अस्पताल, बचा नहीं पाए डॉक्टर

मध्यप्रदेश। गुना जिले के ब्लॉक रिसोर्स कॉर्डिनेटर (BRC) गुना और महारानी लक्ष्मीबाई (MLB) स्कूल के जनशिक्षक की कथित प्रताड़ना से तंग आकर MLB स्कूल में ही पदस्थ एक अन्य जनशिक्षक ने ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर (BEO) ऑफिस में जहर खा लिया। आधे घंटे बाद डायल 100 बुलाकर उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां हालत गंभीर होने से परिजन निजी अस्पताल ले गए। यहां से भोपाल रेफर कर दिया। भोपाल में भी इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

शिक्षा विभाग में गुरुवार का दिन उथल-पुथल वाला रहा। केंद्र में रहे BRC और BEO। पहले तो BRC एसएस सोलंकी से परेशान होकर 16 जनशिक्षक ने सामूहिक इस्तीफा दिया। करीब आधे घंटे बाद महारानी लक्ष्मीबाई कन्या उमावि जनशिक्षा केंद्र के जनशिक्षक चंद्रमौलेश्वर श्रीवास्तव ने BEO ऑफिस में जहर खा लिया था। लापरवाही का आलम यह रहा, उन्हें करीब आधे घंटे बाद अस्पताल ले जाया गया। संयोग से उनकी इस हालत के पीछे भी BRC की कथित भूमिका बताई जा रही है। जहर खाने वाले जनशिक्षक ने करीब 7 दिन पहले ही कलेक्टर को पत्र लिखकर हालत बयां कर दी थी।

अस्पताल में हाल जानने पहुंची थीं DCP सोनम जैन।

उन्होंने कहा था कि BRC, MLB के एक अन्य जनशिक्षक और DPC कार्यालय के कर्मचारी द्वारा उन्हें परेशान किया जा रहा है। कलेक्टर ने जांच के आदेश दिए। जांच अधिकारी BEO एसएन जाटव को बनाया गया। गुरुवार को BEO ने शिकायतकर्ता जनशिक्षक को बयान के लिए बुलाया गया था।

शिक्षा विभाग में चल रहे लेन-देन का खेल सामने आया-


घटनाक्रम में शिक्षा विभाग में चल रहा लेन-देन का खेल सामने आया। नमो जागरण मंच के हरि सिंह चौहान ने शिकायत की थी, BRC अपने परिजनों के नाम पर बीमा की एजेंसी चला रहे हैं। लोगों को जबरन पॉलिसी करवाने के लिए मजबूर करते हैं। एक क्लर्क ने नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी का कारोबार चला रखा है, जिसमें शिक्षकों को जुड़ने के लिए मजबूर किया जाता है।

अगर वे नहीं जुड़ते हैं, तो उन पर जांच का दबाव डाला जाता है। इसी से खुलासा हुआ कि इन मामलों की बाकायदा लिखित शिकायत की जांच पहले ही चल रही है। 16 जनशिक्षक के इस्तीफे के पीछे की वजह भी लेन-देन ही है। आरोप है, उनके यात्रा व्यय आदि के भुगतान नहीं किए जा रहे हैं। BRC द्वारा इन्हें पास करने के लिए पैसे मांगे जा रहे हैँ।

जनशिक्षक को नहीं सौंपा गया चार्ज-


जहर खाने वाले चंद्रमोलेश्वर श्रीवास्तव ने पत्र में लिखा है कि उन्होंने फरवरी में MLB के जनशिक्षक का पद ग्रहण किया। तब से अब तक उनको सिर्फ उनके कक्ष की चाबी ही दी गई है। सरकारी कागजात व अन्य रिकॉर्ड नहीं सौंपा गया। इसकी शिकायत बीआरसी और डीपीसी कार्यालय में की। वहां सुनवाई न होने पर कलेक्टर को पत्र लिखा। पत्र के मुताबिक बीआरसी और एमएलबी के एक अन्य जनशिक्षक की आपसी मिलीभगत के चलते उन्हें अपमानित किया जाता रहा। डीपीसी सोनम जैन का कहना है कि मामला उनके संज्ञान में नहीं आया था।

सुबह जनशिक्षक को बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया गया था। बीईओ का दावा है कि उन्होंने जनशिक्षक से पूछा कि चार्ज संबंधी विवाद को लेकर उन्होंने किसी अधिकारी को शिकायत की थी या नहीं? इस पर जनशिक्षक ने कहा कि वे शिकायती पत्रों का रिकॉर्ड लेकर आ रहे हैं। कुछ ही देर बाद वे वापस अंदर आए और कहा कि मैंने जहर खा लिया है।

अब आपको जो पूछना है, वह पूछो। वहीं, यह बात भी सामने आ रही है कि बीईओ ने जनशिक्षक पर शिकायत वापस लेने और अपनी मूल संस्था में चले जाने का दबाव डाला। इस घटनाक्रम में सबसे बड़ी लापरवाही यह हुई कि करीब आधे घंटे तक जनशिक्षक को अस्पताल ले जाने की कोशिश नहीं की गई। जब हालत बिगड़ने लगी, तब जाकर पुलिस को बुलाया गया।

बीआरसी ने बताई मानसिक स्थिति खराब-


बीआरसी सोलंकी ने सभी आरोपों को नकार दिया है। उन्होंने कहा कि जनशिक्षक श्रीवास्तव को उन्होंने देखा ही नहीं है। वे कभी उनके पास आए ही नहीं। चार्ज का जो मुद्दा है, उससे मेरा लेना-देना नहीं है। यह काम तो जनशिक्षा केंद्र की प्रिंसिपल काे करना था। उन्होंने कहा कि जनशिक्षक की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

माता- पिता के अत्यधिक लाड़-प्यार के कारण बच्चे अनुशासन हीनता के शिकार हो जाते हैं, प्रारम्भिक दौर से ही उचित सँस्कार और सख्ती के...

डेस्क न्यूज। आज अधिकाँश अभिभावक की मुख्य समस्या है कि हमारा बच्चा हमारी बात नही मानता और...

तेज रफ्तार बाइक अनियंत्रित होकर पेड़ से टकराई, बाइक सवार की मौत, ससुराल जा रहा था युवक

तेज रफ्तार बाइक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे स्थित पेड़ से जा टकराई, जिसके चलते बाइक सवार युवक की मौके ही मौत...

लोक निर्माण विभाग में हुए भ्रष्टाचार की होगी जांच, लोक निर्माण राज्यमंत्री सुरेश धाकड़ ने दिए जांच के आदेश

लोक निर्माण राज्यमंत्री ने जांच के दिए आदेश मध्यप्रदेश। टीकमगढ़ जिले में 28 मई...

रोडवेज बस से कुचले बच्चे की मौत, सड़क पर शव ऱखकर जमकर काटा हंगामा

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले में बीते रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के बस स्टैंड में कुरारा की ओर...

Recent Comments

%d bloggers like this: