Home मध्यप्रदेश रिटायर्ड दरोगा की चोरों ने की थी हत्या, 3 हुए गिरफ्तार, चाय...

रिटायर्ड दरोगा की चोरों ने की थी हत्या, 3 हुए गिरफ्तार, चाय के ठेले पर बनाया गैंग, चोरी की नीयत से घर में घुसे थे 4 बदमाश, नींद खुली नींद तो हाथ पैर बांधकर मार डाला

मध्यप्रदेश। ग्वालियर जिले में तीन दिन पहले रिटायर्ड दरोगा की हत्या करने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार हो गए हैं, एक आरोपी अभी भी फरार है। चार चोरों ने वारदात की नीयत से घर में प्रवेश किया था। पर चोरी की वारदात में सफल होते उससे पहले ही रिटायर्ड दरोगा की नींद खुल गई। इसके बाद उन्होंने उसके हाथ पैर बांध दिए और साफी से गला घोंट दिया।

बदमाशों से बरामद बाइक, इसी बाइक का उपयोग वारदात में किया गया था।

जब दो साथी उसका गला घोंट रहे थे, तो एक आरोपी हाथ के कड़े और ईंट से सिर पर वार कर रहा था। घर से चोरी गए मोबाइल, अंगूठी, 12 बोर की बंदूक, कारतूस और LED TV बरामद हो गई है। IG ग्वालियर ने खुलासा करने वाली टीम को इनाम की घोषणा की है

यह है पूरा मामला-


बहोड़ापुर पुलिस लाइन के पीछे श्रीविहार कॉलोनी में 63 वर्षीय मेघसिंह कुशवाह पुत्र बाबूलाल कुशवाह रहते थे। मेघसिंह मध्य प्रदेश पुलिस से रिटायर्ड SI थे। यहां वह अकेले ही रहते थे। मंगलवार सुबह जब रिटायर्ड SI के घर में काम करने वाली बाई पहुंची तो दरवाजा खुला हुआ था। वह अंदर पहुंची तो रिटायर्ड दरोगा का शव हाथ, पैर बंधा हुआ बेड पर पड़ा था। बाई ने शोर मचाया तो आसपास के लोग एकत्रित हुए और पुलिस को सूचना दी।

रिटायर्ड दरोगा मेघसिंह, इनकी हत्या की गई थी।

पुलिस घर पहुंची तो देखा कि उसका शव बेड पर सिकुड़ा पड़ा था। आरोपियों ने उनके ही पायजामा को उतारकर हाथ बांधे। पायजामा के नाड़ा से पैर बांधे और मुंह को तौलिया से बांधा। एक साफी गले में बंधी मिली थी। जांच करने पर पता लगा कि घर से मोबाइल, अंगूठी, 12 बोर की बंदूक, कारतूस व LED TV चोरी गया है। इस सनसनीखेज हत्या की पड़ताल अफसरों ने शुरू की।

CCTV कैमरे से मिला सुराग, गैंग बेनकाब-


TI बहोड़ापुर थाना अमर सिंह सिकरवार को जांच के दौरान सामने वाले घर में लगे CCTV फुटेज में कुछ चेहरे दिखे। साथ ही, एक अपाचे बाइक खड़ी की डिटेल मिली। पता चला कि इन लोगों को श्रीविहार कॉलोनी में कई बार देखा गया है। फुटेज में दिखने वाले 3 संदेहियों को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में आरोपियों ने वारदात कबूल कर ली। आरोपी रानू परिहार निवासी टीकमगढ़, रोहित पंडित निवासी दतिया, गेरू कुशवाह निवासी ग्वालियर के रूप में हुई है। इनका एक साथी फरार है। चारों की चाय की दुकान पर दोस्ती हुई। इसके बाद गिरोह का मास्टर माइंड रानू परिहार ने बुआ के घर श्रीविहार कॉलोनी में रहते हुए रिटायर्ड दरोगा की रैकी की।

कैसे की वारदात


वारदात वाली रात चारों छत के रास्ते घर में घुसे। इसके बाद पहले दो सिलेंडर घर के पीछे फेंक दिए। दो मोबाइल व सोने की अंगूठी और बंदूक उठाई। इसी समय मेघसिंह की नींद खुल गई। मेघसिंह नशे में था। जैसे ही वह चिल्लाता पकड़कर उसके मुंह में तौलियां ठूस दी। इसके बाद उसके हाथ पैर बांधकर साफी से गला घोंटा। आखिर में सिर पर ईंट मारी। इसके बाद मुख्य दरवाजे से भाग गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पुलिस लाइन छतरपुर में मनाया गया पुलिस शहीद स्मृति दिवस

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले में आज 21 अक्टूबर को पुलिस स्मृति दिवस के उपलक्ष्य में पुलिस लाइन जिला...

आज समाज में अधिकाँश लोग भटकाव का जीवन जी रहे हैं। सत्य के मार्ग का लोगों क़ो पता ही नही है, ऐसे विपरीत समय...

डेस्क न्यूज। जब हम लोग अपने खेतों में ज्यादा पैदावार लेना चाहते हैं तो उसे ज्यादा उपजाऊ...

ब्रेकिंग न्यूज: बीजिंग में UN के कार्यक्रम में भारतीय राजदूत ने बोलना शुरू किया तो माइक बंद हुआ, वे चीन की परियोजना की आलोचना...

भारतीय राजदूत प्रियंका सोहोनी ने संयुक्त राष्ट्र की कॉन्फ्रेंस में चीन के बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव पर भारत की तरफ से...

बड़ी खबर: ड्रग्स केस में बॉलीवुड एक्ट्रेस अनन्या पांडे के घर NCB की रेड

मुंबई। बॉलीवुड एक्ट्रेस अनन्या पांडे के घर NCB ने गुरुवार को छापेमारी की। रिपोर्ट्स के मुताबिक, क्रूज...

Recent Comments

%d bloggers like this: