Home मध्यप्रदेश रिटायर्ड दरोगा की चोरों ने की थी हत्या, 3 हुए गिरफ्तार, चाय...

रिटायर्ड दरोगा की चोरों ने की थी हत्या, 3 हुए गिरफ्तार, चाय के ठेले पर बनाया गैंग, चोरी की नीयत से घर में घुसे थे 4 बदमाश, नींद खुली नींद तो हाथ पैर बांधकर मार डाला

मध्यप्रदेश। ग्वालियर जिले में तीन दिन पहले रिटायर्ड दरोगा की हत्या करने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार हो गए हैं, एक आरोपी अभी भी फरार है। चार चोरों ने वारदात की नीयत से घर में प्रवेश किया था। पर चोरी की वारदात में सफल होते उससे पहले ही रिटायर्ड दरोगा की नींद खुल गई। इसके बाद उन्होंने उसके हाथ पैर बांध दिए और साफी से गला घोंट दिया।

बदमाशों से बरामद बाइक, इसी बाइक का उपयोग वारदात में किया गया था।

जब दो साथी उसका गला घोंट रहे थे, तो एक आरोपी हाथ के कड़े और ईंट से सिर पर वार कर रहा था। घर से चोरी गए मोबाइल, अंगूठी, 12 बोर की बंदूक, कारतूस और LED TV बरामद हो गई है। IG ग्वालियर ने खुलासा करने वाली टीम को इनाम की घोषणा की है

यह है पूरा मामला-


बहोड़ापुर पुलिस लाइन के पीछे श्रीविहार कॉलोनी में 63 वर्षीय मेघसिंह कुशवाह पुत्र बाबूलाल कुशवाह रहते थे। मेघसिंह मध्य प्रदेश पुलिस से रिटायर्ड SI थे। यहां वह अकेले ही रहते थे। मंगलवार सुबह जब रिटायर्ड SI के घर में काम करने वाली बाई पहुंची तो दरवाजा खुला हुआ था। वह अंदर पहुंची तो रिटायर्ड दरोगा का शव हाथ, पैर बंधा हुआ बेड पर पड़ा था। बाई ने शोर मचाया तो आसपास के लोग एकत्रित हुए और पुलिस को सूचना दी।

रिटायर्ड दरोगा मेघसिंह, इनकी हत्या की गई थी।

पुलिस घर पहुंची तो देखा कि उसका शव बेड पर सिकुड़ा पड़ा था। आरोपियों ने उनके ही पायजामा को उतारकर हाथ बांधे। पायजामा के नाड़ा से पैर बांधे और मुंह को तौलिया से बांधा। एक साफी गले में बंधी मिली थी। जांच करने पर पता लगा कि घर से मोबाइल, अंगूठी, 12 बोर की बंदूक, कारतूस व LED TV चोरी गया है। इस सनसनीखेज हत्या की पड़ताल अफसरों ने शुरू की।

CCTV कैमरे से मिला सुराग, गैंग बेनकाब-


TI बहोड़ापुर थाना अमर सिंह सिकरवार को जांच के दौरान सामने वाले घर में लगे CCTV फुटेज में कुछ चेहरे दिखे। साथ ही, एक अपाचे बाइक खड़ी की डिटेल मिली। पता चला कि इन लोगों को श्रीविहार कॉलोनी में कई बार देखा गया है। फुटेज में दिखने वाले 3 संदेहियों को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में आरोपियों ने वारदात कबूल कर ली। आरोपी रानू परिहार निवासी टीकमगढ़, रोहित पंडित निवासी दतिया, गेरू कुशवाह निवासी ग्वालियर के रूप में हुई है। इनका एक साथी फरार है। चारों की चाय की दुकान पर दोस्ती हुई। इसके बाद गिरोह का मास्टर माइंड रानू परिहार ने बुआ के घर श्रीविहार कॉलोनी में रहते हुए रिटायर्ड दरोगा की रैकी की।

कैसे की वारदात


वारदात वाली रात चारों छत के रास्ते घर में घुसे। इसके बाद पहले दो सिलेंडर घर के पीछे फेंक दिए। दो मोबाइल व सोने की अंगूठी और बंदूक उठाई। इसी समय मेघसिंह की नींद खुल गई। मेघसिंह नशे में था। जैसे ही वह चिल्लाता पकड़कर उसके मुंह में तौलियां ठूस दी। इसके बाद उसके हाथ पैर बांधकर साफी से गला घोंटा। आखिर में सिर पर ईंट मारी। इसके बाद मुख्य दरवाजे से भाग गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

तेज रफ्तार बाइक अनियंत्रित होकर पेड़ से टकराई, बाइक सवार की मौत, ससुराल जा रहा था युवक

तेज रफ्तार बाइक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे स्थित पेड़ से जा टकराई, जिसके चलते बाइक सवार युवक की मौके ही मौत...

लोक निर्माण विभाग में हुए भ्रष्टाचार की होगी जांच, लोक निर्माण राज्यमंत्री सुरेश धाकड़ ने दिए जांच के आदेश

लोक निर्माण राज्यमंत्री ने जांच के दिए आदेश मध्यप्रदेश। टीकमगढ़ जिले में 28 मई...

रोडवेज बस से कुचले बच्चे की मौत, सड़क पर शव ऱखकर जमकर काटा हंगामा

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले में बीते रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के बस स्टैंड में कुरारा की ओर...

कोविड-19 वैक्सीन महाअभियान गढ़ीमलहरा में निकली रैली

छतरपुर ज.सं। कोरोना संक्रमण से बचाव एवं कोविड-19 संक्रमण के वैक्सीनेशन के प्रति लोगो को लोगो को...

Recent Comments

%d bloggers like this: