Home उत्तरप्रदेश स्मृति ईरानी शोक जताने पहुंची अमेठी, दिवंगत विधायक दल बहादुर कोरी की...

स्मृति ईरानी शोक जताने पहुंची अमेठी, दिवंगत विधायक दल बहादुर कोरी की पत्नी को गले लगाकर दी सांत्वना, बोलीं- मैं हमेशा आप लोगों के साथ रहूंगी

उत्तरप्रदेश। लोकसभा क्षेत्र अमेठी के सलोन विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक दल बहादुर कोरी के कोरोना से निधन के बाद आज केंद्रीय मंत्री व अमेठी सांसद स्मृति ईरानी बिना प्रोटोकॉल लिए विधायक के घर पहुंच गई। उन्होंने विधायक के परिजनों से मिलकर उन्हें शोक संवेदना प्रकट किया।

शनिवार को स्मृति ईरानी सादगी के साथ दो वाहनों से विधायक दल बहादुर कोरी के पैतृक गांव पदमनपुर बिजौली पहुंच गयी। एकाएक उन्हें अपने बीच पाकर पीड़ित परिवार में सभी की आंखे छलक उठीं। स्मृति ईरानी सीधे घर के अंदर गई, कमरे में दिवंगत विधायक की पत्नी राजकुमारी बैठी थीं, स्मृति को देखकर वो उनके गले लिपटकर रोने लगीं। उन्होंने उन्हें ढांढस बंधाया और कहा मैं हमेशा आप लोगों के साथ रहूंगी। स्मृति ने कहा कि सलोन विधानसभा में पार्टी को अपूर्णनीय क्षति हुई है। अब इस विधानसभा क्षेत्र के लोगों को ऐसे विधायक नहीं मिलेंगे। उन्होंने कहा कि विधानसभा के सभी बूथों पर कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए मंडल अध्यक्ष दिवंगत विधायक की आत्मा की शांति के लिए श्रद्धांजलि सभा का आयोजन करें, यह आयोजन सभी जगहों पर होना चाहिए।

कौन है दिवंगत विधायक दल बहादुर कोरी-


सलोन तहसील क्षेत्र के पद्मनपुर बिजौली गांव के रहने वाल 64 वर्षीय दिवंगत विधायक दल बहादुर कोरी अमेठी-रायबरेली में स्मृति ईरानी के खास लोगों में गिने जाते थे। 2019 के स्मृति के चुनाव में विधायक ने पूरी ताकत भी झोंकी और अपनी सलोन विधानसभा से उन्हें सम्मानजक वोट भी दिलाए थे। यही वजह है़ कि विधायक जब कोरोना संक्रमित हुए तो सूचना मिलते ही स्मृति ईरानी ने उनका हालचाल लिया था। जब दोबारा कोरोना का उन पर अटैक हुआ तो स्मृति ईरानी की मदद से उन्हें अपोलो हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। विधायक पुत्र कैलाश कुमार ने बताया कि एक मई को दोबारा कोरोना जांच हुई, जो कि निगेटिव आई।

इस बीच लिवर और किडनी में इंफेक्शन हो गया, जिसकी वजह से लगातार उनकी तबीयत बिगड़ती चली गई। शुक्रवार सुबह करीब 4.30 बजे अस्पताल में ही उन्होंने अंतिम सांसें लीं। विधायक के पुत्र अशोक कुमार ने बताया कि पिता की तबीयत दोबारा खराब होने पर दीदी यानी अमेठी की सांसद व केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और इनके प्रतिनिधि विजय प्रतिदिन फोन करके हालचाल पूछते थे।

अस्पताल से किसी को न किया जाए वापस-


सलोन के बाद स्मृति ईरानी बिना किसी तय कार्यक्रम के अमेठी पहुंच गई। वो यहां दिवंगत बीजेपी नेता बृजलाल के घर पहुंची और यहां उन्होंने परिवार के लोगों को सांत्वना दी। स्मृति ने परिवार को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। वहीं बीते कुछ महीनों से अस्वस्थ चल रहे पुराने व वरिष्ठ RSS एवं भाजपा कार्यकर्ता ताऊ जी (उमेश चंद्र जैन) की दुकान पर पहुंचकर उन्होने उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। इस बीच स्मृति ईरानी ने जायस नगर के हाल का जायजा लिया। वहां से वो गौरीगंज कोविड कंट्रोल सेंटर पहुंची। यहां डीएम और CMO के साथ बैठक कर उन्होंने कोविड और कोरोना वैक्सीन पर चर्चा की। लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने का निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि अस्पताल से किसी को वापस ना किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रोडवेज बस से कुचले बच्चे की मौत, सड़क पर शव ऱखकर जमकर काटा हंगामा

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले में बीते रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के बस स्टैंड में कुरारा की ओर...

कोविड-19 वैक्सीन महाअभियान गढ़ीमलहरा में निकली रैली

छतरपुर ज.सं। कोरोना संक्रमण से बचाव एवं कोविड-19 संक्रमण के वैक्सीनेशन के प्रति लोगो को लोगो को...

एक संक्रमित हुआ डिस्चार्ज

छतरपुर ज.सं। छतरपुर जिले में शनिवार को 01 कोविड संक्रमित मरीज को खजुराहो कोविड केयर सेंटर से...

प्राचार्य ने टीकाकरण कराने की अपील की

छतरपुर ज.सं। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-1 छतरपुर के प्राचार्य एस.के. उपाध्याय ने छात्रों, उनके माता-पिता सहित जिले...

Recent Comments

%d bloggers like this: