Home न्यूज़ क्या हैं वट सावित्री व्रत का महात्म्य

क्या हैं वट सावित्री व्रत का महात्म्य

डेस्क न्यूज। प्राचीन काल से ही हमारे समाज में नारी शक्ति के ऐसे कार्यों की मिसाल कायम रही है।जिनके सामने देवताओं को भी झुकना पड़ा। वह आज भी हम सबको प्रेरणा देती है। उन्हीं में से एक सती सावित्री हुई जिन्होंने अपने पति व्रत और सतीत्व के बल पर अपने पति सत्यवान के प्राण बचाये। और यह ही नही अपने बुद्धि,विवेक के बल पर यमराज जी से वह वरदान मांग लिया जिसमें कई और वरदान मिल गये। उनके सास ,ससुर अंधे थे उनको आंखे अपने लिये संतान ,और पति के प्राण। एक ही वरदान में सब कुछ मांग लिया।

जब यमराज ने उनसे वरदान मांगने कहा तो उन्होंने यमराज से कहा मेरा सुहाग अखंड रहे। मेरे सास ससुर अपने नाती पोते खेलते हुये अपनी आंखों से देखे।
लो अब क्या था यमराज ने तथास्तु कहा आगे बढ़ गये। फिर क्या था, सावित्री ने यमराज का रास्ता रोक लिया और कहा अपने वरदान पर विचार तो करें। वरदान देकर पति के प्राण ले जा रहे है। मेरे पति के प्राण वापिस कीजिये। तब क्या था। यमराज हतप्रभ रह गये। और सावित्री को प्रणाम कर कहने लगे धन्य है। आप और आपका पति व्रत आप जैसी सती से मैं हार गया। और आपके पति को जीवनदान देता हूँ।


इस प्रकार एक सती के पति व्रत और बुद्धिमानी से पति के प्राण तो वापिस मिले सास ससुर की आंखे और राज्य सब मिल गये। अगर पत्नी बुद्धिमान हो संस्कारी हो। पतिव्रता हो तो वह सदैव पति की ढाल होती है। और कितने भी संकटों से यहाँ तक कि मौत के मुँह से भी अपने पति को निकाल लेती है। एक पति वृता नारी में और उसके सतीत्व में वह शक्ति होती है। कि, देवताओं को भी झुका दे। औऱ वह चाहे तो देवों को भी पालने में झूला दे

श्रीमती मंजू द्विवेदी
प्रबंध संपादक शक्ति न्यूज़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रोडवेज बस से कुचले बच्चे की मौत, सड़क पर शव ऱखकर जमकर काटा हंगामा

उत्तरप्रदेश। हमीरपुर जिले में बीते रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के बस स्टैंड में कुरारा की ओर...

कोविड-19 वैक्सीन महाअभियान गढ़ीमलहरा में निकली रैली

छतरपुर ज.सं। कोरोना संक्रमण से बचाव एवं कोविड-19 संक्रमण के वैक्सीनेशन के प्रति लोगो को लोगो को...

एक संक्रमित हुआ डिस्चार्ज

छतरपुर ज.सं। छतरपुर जिले में शनिवार को 01 कोविड संक्रमित मरीज को खजुराहो कोविड केयर सेंटर से...

प्राचार्य ने टीकाकरण कराने की अपील की

छतरपुर ज.सं। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-1 छतरपुर के प्राचार्य एस.के. उपाध्याय ने छात्रों, उनके माता-पिता सहित जिले...

Recent Comments

%d bloggers like this: